कर्मचारी-शिक्षकों को मिलेगा विशेष वेतन वृद्धि का लाभ, प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश, इस महीने से बढ़ेगी राशि!

राज्य सरकार की मंजूरी मिलने के बाद ही इस योजना को लागू करने की तैयारी है।

cpcc

शिमला, डेस्क रिपोर्ट। राज्य सरकार (State government) ने एक बार फिर से Employees-शिक्षकों (Teachers) के लिए बड़ी घोषणा की है। दरअसल प्रदेश सरकार द्वारा बोर्ड सहित अन्य कक्षाओं परीक्षा में 80 प्रतिशत परीक्षा परिणाम देने वाले शिक्षकों को विशेष वेतन वृद्धि (salary increment) दी जाएगी। शिक्षकों को प्रोत्साहित करने के लिए नियम निकाले गए हैं। इसके लिए उच्च शिक्षा निदेशालय ने प्रस्ताव बनाना शुरू कर दिया है। जिससे लाभ लाखों शिक्षकों को होगा।

बता दे कि उच्च शिक्षा निदेशालय के नियमों के मुताबिक तीसरी पांचवी आठवीं दसवीं और बारहवीं कक्षाओं के शिक्षकों को इसके दायरे में शामिल किया जाएगा। इसके निर्देश शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने दिए हैं। बोर्ड परीक्षा में बेहतर परीक्षा परिणाम लाने वाले शिक्षकों को नवीन सौगात दी जाएगी। वहीं वित्तीय लाभ देने की तैयारी के मकसद से उनके वेतन वृद्धि के प्रस्ताव को तैयार किया जा रहा है। जल्द ही शिक्षकों को इसका लाभ दिया जाएगा।

जानकारी की माने तो इसके लिए प्रस्ताव तैयार कर लिया गया है। राज्य सरकार की मंजूरी मिलने के बाद ही इस योजना को लागू करने की तैयारी है। शिक्षा विभाग द्वारा बेहतर परीक्षा परिणाम देने वाले शिक्षकों के लिए विशेष इंक्रीमेंट की तैयारी शुरू की जानी थी। हालांकि मार्च 2020 से बंद किया गया था, इसे फिर से शुरू करने की तैयारी की जा रही है।

Read More : कर्मचारियों को नियुक्ति प्रक्रिया में मिलेगा लाभ, विभाग ने जारी किया आदेश, रिक्तियों में उम्मीदवारों को होगा फायदा

हलाकि वेतन वृद्धि कितनी होगी। इसमें अभी चर्चा होनी है शेष है। प्रस्ताव प्रदेश मंत्रिमंडल की बैठक में रखा जाएगा। जिसमें सहमति बनने के बाद आगामी सत्र से लागू करने की योजना तैयार की जा रही है। शिक्षकों को प्रोत्साहित करने के लिए यह कदम उठाया जा रहा है। वही इस संबंध में मंत्रिमंडल की बैठक में अंतिम मोहर लगेगी। जिसके बाद इस योजना को संचालित किया जाएगा।

वही 10वीं 12वीं के लिए इसी शैक्षणिक सत्र से विशेष वेतन वृद्धि की योजना तैयार की जा रही है। बता दें कि 10वीं 12वीं के परीक्षा परिणाम इस महीने घोषित होने वाले है। जिसका शिक्षा निदेशालय का प्रस्ताव जल्दी तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं जुलाई-अगस्त इन दोनों बोर्ड परीक्षाओं के शिक्षकों का मूल्यांकन किया जा सकता है। जिसके बाद इन्हें वेतन वृद्धि दी जाएगी।

वही जारी प्रस्ताव में तीसरी, 5वीं और 8वी कक्षा में 80 फीसद से अधिक अंक दर्ज करवाने वाले शिक्षकों को भी वार्षिक परीक्षाओं के बाद इंक्रीमेंटेड दिया जा सकता है। इस मामले में शिक्षा मंत्री ने जानकारी देते हुए बताया कि गुणात्मक शिक्षा पर सरकार का जोर है। इसके लिए शिक्षकों को प्रोत्साहित करने प्रस्ताव तैयार करने को कहा गया है। जल्दी इस पर विचार किया जाएगा।