Arrears, पेंशन, वेतन विसंगति और Transfer मामले में कर्मचारियों को मिलेगी राहत, 1 सप्ताह में होगा शिक्षकों के वेतन का भुगतान

कर्मचारियों की ट्रांसफर पर बोलते हुए कहा गया है कि नियमित शिक्षकों के ट्रांसफर के लिए दिशानिर्देश जारी किए गए हैं।

employees promotion

शिक्षकों (teacers)-government employees के लिए अच्छी खबर हैं। एक तरफ जहां 42000 शिक्षकों के वेतन मद (teachers salry) की राशि जारी कर दी गई है। वहीं 1 सप्ताह के अंदर अब उनके वेतन का भुगतान कर दिया जाएगा। जबकि दूसरी तरफ जल्द ही सेवानिवृत्ति (retirement)  सहित वेतन भुगतान (salary payment) और वेतन विसंगति सहित एरियर (arrears) के भुगतान के तहत कर्मचारियों को लाभ दिया जाएगा। दरअसल शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव ने इस के दिशा निर्देश जारी किए हैं।

जारी दिशानिर्देश के मुताबिक अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह ने कहा कि इस बैठक में क्षेत्रीय उपनिदेशक के साथ DDO-DPO की बैठक बुलाई गई थी। जिसमें छात्र फर्स्ट के साथ टीचर फर्स्ट कंट्री भी अपनाने के दिशा निर्देश दिए गए हैं। वहीं गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के शिक्षकों को बेहतर माहौल देने के लिए अब उनकी वेतन विसंगति दूर की जाएगी। इसके अलावा Arrears भुगतान, वेतन भुगतान और सेवानिवृत्ति मामले के लिए भी कैंप लगाए जाएंगे।

जानकारी देते हुए अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह ने बताया कि तय किया गया कि अगले महीने से प्रत्येक महीने के प्रथम शनिवार को एक 11:00 बजे हर जिले में जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना के कार्यालय में कैंप लगाएंगे। इस कैंप में सेवानिवृत्ति के सहित वेतन भुगतान, arrears और वेतन विसंगति के मामले देखे जाएगी। इसके अलावा कर्मचारियों की परेशानी को भी हल किया जाएगा। निष्पादन की क्रियाशीलता अपनाई जाएगी। इसके अलावा वेतन भुगतान, एरियर्स, वेतन विसंगति के मामले देखे जाएंगे और इसका निस्पादन किया जाएगा। इस मामले को लेकर वर्किंग डेज में कोई अफसर के कार्यालय नहीं जाएंगे बल्कि हर महीने की तीसरी शनिवार को दोपहर 1:00 बजे से कैंप लगेगा।

Read More : पुरानी पेंशन योजना पर बड़ी अपडेट, राज्य सरकार की नई तैयारी, इन कर्मचारियों को मिल सकता है लाभ

वहीं कर्मचारियों की ट्रांसफर पर बोलते हुए कहा गया है कि नियमित शिक्षकों के ट्रांसफर के लिए दिशानिर्देश जारी किए गए हैं। नियोजित शिक्षकों के ट्रांसफर के लिए मुख्यालय में निर्णय नहीं लिया गया है। इसके अलावा पेंडिंग मामलों को भी जल्द से जल्द सुलझाने के दिशा निर्देश अधिकारियों को दिए गए हैं। इससे पहले सेट में चरण में नियुक्त हुए कवि करीब 42000 शिक्षकों के वेतन का भुगतान 1 सप्ताह के अंदर किया जाएगा।  इस मामले में शिक्षा मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया था। जिसमें कहा गया था कि वेतन मद की राशि जारी की जाएगी। इसके साथ ही शिक्षा मित्रों को जल्द इसका लाभ मिलना चाहिए।

छठे चरण के शिक्षकों की बहाली हुई थी। फरवरी महीने से काम कर शिक्षकों को अब तक वेतन नहीं दिया गया था। इसको लेकर शिक्षक कई बार सरकार से मांग कर चुके थे। जिसके बाद सरकार द्वारा आर्थिक तंगी और महंगाई का भी हवाला दिया गया था। हालांकि अब 42000 शिक्षकों को मार्च 2022 तक के एकमुश्त वेतन का भुगतान किया जाएगा। इसके अलावा 30 सितंबर 2022 तक उनके सभी प्रमाण पत्र का सत्यापन कर लिया जाएगा।