EPFO : कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, सेवानिवृत्ति के दिन ही मिला पेंशन पेमेंट ऑर्डर, राशि का भुगतान

8.1 फीसद ब्याज की दर से यदि कर्मचारियों के खाते में 8 लाख रूपए है तो उसे 64000 का ब्याज क्रेडिट किया जाएगा।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। ईपीएफओ के कर्मचारी और पेंशनर्स (EPFO Employees) की बड़ी खबर है। दरअसल जल्दी ईपीएफओ द्वारा पेंशन (EPFO Pension) और ब्याज की राशि (Interest amount) का भुगतान किया जा सकता है। माना जा रहा है कि त्योहारी सीजन से पहले EPFO द्वारा पेंशन या ब्याज की राशि का भुगतान किया जाएगा। इससे पहले प्रयास योजना के तहत कर्मचारियों को पेंशन का भुगतान शुरू कर दिया गया है।

दरअसल गुजरात के विभिन्न संगठनों के 307 कर्मचारी को गुरुवार को EPFO ने पेंशन का भुगतान किया है। सभी कर्मचारी प्रयास कार्यक्रम में शामिल थे। बता दें कि प्रयास योजना के तहत सभी सदस्य कर्मचारियों को सेवानिवृत्ति के दिन ही पेंशन आदेश जारी किया जाता है। अहमदाबाद के क्षेत्रीय पीएफ कार्यालय देश के सबसे बड़ी कार्यालय में से एक है और इस संगठन द्वारा अपने 370 कर्मचारियों को पेंशन का भुगतान किया गया है।

वही आंकड़ों की मानें तो जून के लिए 1000 से अधिक लोगों को पेंशन उपलब्ध कराई गई थी। हर महीने 500 लोग प्रयास योजना के अंतर्गत आते हैं। जिसमें प्रयास प्रणाली के तहत 307 पेंशनर्स को पेंशन की राशि का भुगतान किया गया है।

Read More : अब निर्वाचन ड्यूटी से केंद्र शासन के कर्मचारियों को मुक्त कर उनके स्थान पर राज्य शासन के कर्मचारियों को किया गया नियुक्त

इससे पहले कर्मचारी भविष्य संगठन निधि द्वारा इलेक्ट्रॉनिक सुविधा भी शुरू की गई है। जिसे इपीएफ अनुपालन की जांच की जाएगी। ईपीएफओ पंजीकृत ठेकेदार के माध्यम से कर्मचारियों को नियुक्त करते हैं। ईपीएफओ के एक रिपोर्ट पर ठेकेदार और अनुबंध कर्मचारी के विवरण को भी जोड़ कर देखा जा सकता है।

बता दे कि जल्दी पीएफ कर्मचारियों के खाते में ब्याज के पैसे खरीद के ले जाएंगे। इसके लिए कर्मचारियों का इंतजार भी खत्म होने वाला है। सरकार द्वारा वित्तीय साल में 8.1 फीसद ब्याज देने का फैसला किया गया। जो 40 साल में सबसे कम रिकॉर्ड किया गया है।

मीडिया रिपोर्ट की मानें तो अगस्त महीने तक कर्मचारियों के ब्याज का पैसा उनके खाते में क्रेडिट किया जा सकता है। जिससे 6 करोड कर्मचारियों को उसका लाभ मिलेगा। हालांकि प्याज की रेट को लेकर अभी तक कोई आधिकारिक घोषणा सामने नहीं आई है। वहीं 8.1 फीसद ब्याज की दर से यदि कर्मचारियों के खाते में 8 लाख रूपए है तो उसे 64000 का ब्याज क्रेडिट किया जाएगा।