कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, वेतन में होगी 10% तक की बढ़ोतरी, उच्चतम वेतन वृद्धि का मिल सकता है लाभ

भारतीय कंपनियां कर्मचारियों की सैलरी में 10% की वृद्धि की घोषणा कर सकती है।

employees news

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। लाखों कर्मचारियों (Employees) के लिए अच्छी खबर है। दरअसल कंपनियां कर्मचारियों की सैलरी में 10% का इजाफा (Salary hike) कर सकती है। दरअसल कई कंपनियां अभी एट्रिशन रेट (attrition rate) से जूझ रही है। कर्मचारियों द्वारा कंपनी ज्वाइन करने के तुरंत बाद ही ठिकाना बदल दिया जाता है। जिसका असर कंपनियों के परफॉर्मेंस पर देखा जा रहा है। अब कर्मचारियों को लुभाने के लिए कंपनियां 2023 में सैलरी में 10% का इजाफा कर सकती है, इसके लिए तैयारी शुरू की गई है।

विलिस टॉवर्स वाटसन की सैलरी बजट प्लानिंग रिपोर्ट में यह बात सामने आई है। जानकारों की माने तो भारत की कंपनियां अगले साल 2023 में कर्मचारियों के 10 फीसद सैलरी बढ़ोतरी के बजट पर कार्य कर रही है। ज्ञात हो कि पिछले वर्ष यह आंकड़ा 9.5% था। अगर ऐसा होता है तो कंपनी के कर्मचारियों के लिए यह बेहद अच्छी खबर मिली है।

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि भारतीय कंपनियां जी समिति की योजना बना रही है। वह एशिया प्रशांत क्षेत्र के देशों में सबसे अधिक है। यह रिपोर्ट 1 मई 2022 में 168 देशों में किए गए। रिपोर्ट सर्वेक्षण के आधार पर तैयार किया गया है। इसमें भारत के 600 संगठन को शामिल किया गया था। रिपोर्ट के आंकड़े की बात करें तो देश में कुल 58% नियोक्ताओं द्वारा पिछले साल की तुलना में इस साल उच्च वेतन वृद्धि का बजट रखा गया था। जबकि एक चौथाई नियोक्ताओं द्वारा कर्मचारियों की सैलरी में किसी भी तरह का बदलाव देखने को नहीं मिला था।

Read More : MP : लाखों शिक्षक-शिक्षाकर्मियों की सेवावधि गणना-क्रमोन्नति पर बड़ी अपडेट, वेतनमान-ग्रेच्युटी की सुविधा सहित 6 बड़ी मांग

भारतीय कंपनियां कर्मचारियों की सैलरी में 10% की वृद्धि की घोषणा कर सकती है। हालांकि हांगकांग भी कर्मचारियों के एट्रीशन रेट को कम करने के लिए उनके वेतन में 4% की वृद्धि कर सकता है। तीसरे नंबर पर 6% वेतन वृद्धि के साथ चीन जबकि चौथे पर सिंगापुर 4% वेतन वृद्धि का अनुमान लगाया जा रहा है। ऐसी स्थिति में देखे तो एशिया प्रशांत क्षेत्र में भारतीय कंपनियां सबसे ज्यादा वेतन वृद्धि कर सकती हैं।

बता दें कि वित्तीय सेवा, बैंकिंग और प्रौद्योगिकी सहित मीडिया और विभिन्न क्षेत्र में सबसे अधिक वेतन वृद्धि देखने को मिल रही है, जिसके 2023 तक 10.4 सहित 10.2 और 10% बढ़ने की उम्मीद ही। इससे पहले 2022 में कई आईटी कंपनियों ने अपने कर्मचारियों के वेतन महत्वपूर्ण विधि की घोषणा की थी इसके साथ ही भर्ती प्रक्रिया पर विशेष फोकस किया गया था। वहीं अब वर्ष 2023 में भी इसी तरह की उम्मीद बनती नजर आ रही है डिजिटल कौशल की मांग रखने की प्रतिभा के लिए वेतन वृद्धि अनुमान लगाए जा रहे हैं।

वही अनुमानों की मानें तो 2023 में सबसे ज्यादा नौकरी देने वाले क्षेत्र में आयोजित सेक्टर 65.5 के साथ शीर्ष पर बना रह सकता है। इसके अलावा इंजीनियरिंग के 52.9% , सेल्स के 35.4% और टेक्निकल स्किल्ड के 32.5% आंकड़ों के साथ के चौथे नंबर पर बने रहने की उम्मीद है। जबकि कर्मचारी वेतन वृद्धि सहित कर्मचारी भर्ती में पांचवा स्थान फाइनेंस के क्षेत्र का देखा जा सकता है। माना जा रहा है कि 2023 तक इन क्षेत्रों में एक बार फिर से नौकरियों की बाढ़ आएगी।