MP : लाखों शिक्षकों के लिए अच्छी खबर, जल्द मिलेगा लाभ, डीईओ को निर्देश, सूची का प्रकाशन शुरू

शिक्षक कर्मचारी पोर्टल पर वरिष्ठता सूची का निरीक्षण कर सकते हैं और इसके लिए त्रुटि और अभ्यावेदन प्रस्तुत करने की पात्रता रखेंगे।

mp teacher promotion pay scale

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। स्कूल शिक्षा विभाग (School Education Department) द्वारा एक बार फिर से शिक्षकों (MP teachers) के प्रमोशन (Promotion) की तैयारियां तेज कर दी गई है। दरअसल शिक्षकों की वरिष्ठता सूची जारी करने के निर्देश दिए गए हैं। इसके साथ ही अध्यापक संवर्ग के शिक्षकों की वरिष्ठता सूची के प्रकाशन का कार्य शुरू भी कर दिया गया है। बता दें कि इसी वरिष्ठता सूची (seniority list) के आधार पर शिक्षकों को क्रमोन्नति सहित पदोन्नति का लाभ दिया जाएगा।

हालांकि शिक्षकों की पदोन्नति से संबंधित कुछ केस अभी भी हाईकोर्ट में लंबित हैं। जिसकी सुनवाई तय समय पर होती रहेगी। इसी बीच शिक्षा विभाग द्वारा सभी तैयारी पूरी कर ली गई है। अगस्त के अंतिम सप्ताह से प्रमोशन की प्रक्रिया शुरू होने के अनुमान जताए गए हैं।

इससे पहले लोक शिक्षण संचालनालय के आयुक्त अभय वर्मा के निर्देश अनुसार प्रदेश के सभी जिले में जिला शिक्षा अधिकारी को बड़े निर्देश दिए गए हैं। अध्यापक संवर्ग के शिक्षकों की वरिष्ठता सूची का प्रकाशन शुरू कर दिया गया है।

Read More : Commonwealth games 2022 Day 8 : भारतीय पहलवान एक बार फिर होंगे अखाड़े में!, क्रिकेट, हॉकी और बॉक्सर्स बनाना चाहेंगे फाइनल में जगह, ऐसा है भारत का शेड्यूल

इसके लिए प्रक्रिया और चरण भी तय किये गए हैं, स्कूल शिक्षा विभाग मध्यप्रदेश के अंतर्गत अध्यापक संवर्ग में नियुक्त हुए कर्मचारी के लिए वरिष्ठता सूची की प्राथमिकता निम्न तय की गई है।

  • अध्यापक संवर्ग में संविलियन की तारीख
  • संविलियन की तारीख एक जैसे होने पर शिक्षकों और संविदा शिक्षकों के क्रम में प्रथम नियुक्ति दिनांक के आधार पर
  • दोनों समान होने पर जन्मतिथि के आधार पर जिसकी उम्र अधिक हो
  • वही जन्मतिथि एक होने पर वर्णमाला के क्रम अनुसार वरिष्ठता सूची तैयार की जाएगी।

इतना ही नहीं यह सूची एमपी एजुकेशन पोर्टल पर भी उपलब्ध कराई जा रही है। शिक्षक कर्मचारी पोर्टल पर वरिष्ठता सूची का निरीक्षण कर सकते हैं और इसके लिए त्रुटि और अभ्यावेदन प्रस्तुत करने की पात्रता रखेंगे।

वरिष्ठता सूची तैयार की जा रही है जिसके आधार पर पदोन्नति की प्रक्रिया को पूरा किया जाएगा। इस स्तर पर सहायक शिक्षक से उच्च शिक्षक बनेंगे और प्राइमरी HM बनेंगे। इसके अलावा मिडिल के शिक्षक हाई स्कूल हायर सेकेंडरी स्कूल में भेजे जाएंगे। वही मिडिल स्कूलों में एचएम पदों पर प्रमोशन का कार्य पूरा किया जाएगा।

बता दें कि पिछले महीने की मिडिल स्कूल के शिक्षक जो पोस्ट ग्रेजुएट है, वह हाई और हायर सेकेंडरी स्कूल में आएंगे जिन शिक्षकों को हायर सेकेंडरी हाई स्कूल के व्याख्याता से प्राचार्य बनना है। उनके 5 साल की CR रिपोर्ट और गोपनीय प्रतिवेदन की मांग की गई है। जल्द ही शिक्षक संवर्ग की वरिष्ठता सूची के आधार पर उन्हें बड़ा लाभ उपलब्ध कराया जाएगा।