Free Ration : 80 करोड़ हितग्राहियों के लिए अच्छी खबर, मोदी सरकार ने दिया बड़ा तोहफा, बढ़ाई गई अवधि, मिलेगा फ्री राशन का लाभ

मुफ्त अनाज योजना के तहत 80 करोड़ लोग लाभान्वित होते है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। मोदी सरकार (Modi Government) ने राशन कार्ड धारकों (Ration card holders) को बड़ी खुशखबरी दी है। दरअसल मुफ्त राशन योजना (Free ration scheme) की अवधि को एक बार फिर से बढ़ा दिया गया है। इसके साथ ही देश के 80 करोड़ लोगों के लिए यह बेहद खुशखबरी है। पीएम मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना(PMGKAY)  को 3 महीने के लिए बढ़ा दिया गया। अब इस योजना के तहत राशन कार्ड धारकों को दिसंबर 2022 तक मुफ्त राशन की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

बता दें कि अप्रैल 2020 में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की शुरुआत की गई थी। बाद में मार्च 2022 में इसे 6 महीने के लिए बढ़ाकर सितंबर 2022 तक कर दिया गया था। हालांकि अनुमान जताया जा रहा था कि इस योजना को बंद कर दिया जाएगा लेकिन सरकार ने एक बार फिर से 3 महीने के लिए बढ़ा दिया है। अब इसकी अवधि बढ़कर दिसंबर 2022 बढ़कर हो गई है। हालांकि मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इसे 6 महीने तक बढ़ाए जाने की बात की जा रही थी लेकिन सरकार ने 3 महीने के लिए फ्री राशन योजना की सुविधा का लाभ राशन कार्ड धारकों को दिया है।

Read More : कर्मचारियों-पेंशनरों को नवरात्रि का तोहफा, महंगाई भत्ते में 4% की वृद्धि, एरियर भी मिलेगा, जानें कितनी बढ़ेगी सैलरी

हालांकि रूस यूक्रेन युद्ध के कारण पहले से ही सरकार पर सब्सिडी का दबाव पड़ा हुआ है, ऐसे में इस योजना को बढ़ाने से सरकार पर 45000 करोड रुपए का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा। हालांकि वित्त मंत्रालय द्वारा अन्य की मात्रा में कटौती किया सुझाव दिया गया था लेकिन फिलहाल मोदी सरकार द्वारा इस योजना को 3 महीने के लिए बढ़ाया है।

बता दें कि इस योजना के तहत 80 करोड़ लाभार्थियों को प्रति व्यक्ति प्रति माह 5 किलोग्राम की दर से मुफ्त खाद्यान्न उपलब्ध कराए जाते हैं। इस योजना की अवधि में अब तक 6 बार इजाफा किया जा चुका है। दुनिया की सबसे बड़ी खाद्य योजना के रूप में इसे जाना जाता है। कोरोना काल के दौरान योजना की शुरुआत की गई थी। जिसमें गरीबों को मुफ्त में अनाज का वितरण किया जा रहा था।

इस योजना को चलाने के लिए सरकार को हर साल 18 बिलियन डॉलर का खर्च उठाना पड़ता था। मुफ्त अनाज योजना के तहत 80 करोड़ लोग लाभान्वित होते है। इसकी अवधि 30 सितंबर को समाप्त हो रही थी। जिसके दो दिन पहले ही सरकार द्वारा इसे 3 महीने के लिए बनाया गया है। गेंहू और चावल के साथ इस योजना में 1 किलो साबुत चना हितग्राहियों को मुफ्त उपलब्ध कराया जाता है।