IMD Alert : 3 चक्रवाती सिस्टम तैयार, मानसून-लो प्रेशर का दिखेगा असर, 15 राज्यों में भारी बारिश का रेड-ऑरेंज अलर्ट, 3 राज्य में बढ़ेगा तापमान, जानें पूर्वानुमान

मौसम विभाग की माने तो दक्षिणी और पूर्वी भारत के कई हिस्से में भारी बारिश का अलर्ट घोषित किया गया है।

IMD

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देश के मौसम में फिर से एक बार बदलाव (Weather Update) नजर आ रहे हैं। कुछ दिनों तक दक्षिणी और पूर्वी भारत के कई हिस्सों में भारी बारिश (heavy rainfall) का रेड ऑरेंज अलर्ट (Red orange alert) जारी किया गया है। IMD Alert ने केरल कर्नाटक तमिलनाडु में एक तरफ जहां मौसम विभाग ने भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। वही बिहार उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्से सहित झारखंड और बंगाल में भी बारिश का दौर जारी रहेगा। उड़ीसा में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

दरअसल 24 घंटे के भीतर बंगाल की खाड़ी में एक निम्न दाब का क्षेत्र उभर रहा है। जिसके मध्य से होते हुए पश्चिम तक पहुंचने की आशंका जताई जा रही है। इसके साथ ही मानसून की परिवर्तित दिशा के कारण उत्तर से दक्षिण भारत में एक बार फिर से बारिश का दौर शुरू होगा। मौसम विभाग की माने तो दक्षिणी और पूर्वी भारत के कई हिस्से में भारी बारिश का अलर्ट घोषित किया गया है। 4 दिन तक दक्षिणी प्रायद्वीपीय भारत में तीव्र बारिश की संभावना जताई गई है। भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, 10 सितंबर तक दक्षिणी राज्य केरल में अनियमित मूसलाधार बारिश होने की संभावना है।

तिरुवोनम दिवस पर गुरुवार को कोझीकोड, कन्नूर और कासरगोड के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया था। जबकि येलो अलर्ट के तहत एर्नाकुलम, कोट्टायम, इडुक्की, त्रिशूर, पलक्कड़, मलप्पुरम और वायनाड को चुना गया हैं। इसके अलावा 8 सितंबर से पूर्वी महाराष्ट्र में बारिश की गतिविधियों में वृद्धि हो जाएगी। गोवा महाराष्ट्र के कई हिस्सों में फिर बारिश देखने को मिल सकती है। 5 दिन तक उत्तर पश्चिम भारत में कम बारिश की गतिविधियां देखने को मिलेगी। छत्तीसगढ़-मध्य प्रदेश में बारिश की कमी देखी जाएगी।

नई दिल्ली का मौसम

देशभर में बारिश की गतिविधियां बढ़ गई है। आज राजधानी दिल्ली में बारिश की संभावना से इनकार किया गया है। दिल्ली में गर्मी से लोग परेशान रहेंगे। उत्तर भाग की तरफ मुड़ा हुआ मानसून दिल्ली में उमस और गर्मी का कारण बनेगा। आसमान में बादल छाए रहेंगे। बारिश का कोई पूर्वानुमान नहीं जताया गया है। तापमान 26 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस तक रहने की संभावना जताई गई है। वहीं मौसम विभाग ने दिल्ली में 12 सितंबर के बाद बारिश की आशंका जताई है।

वेदर सिस्टम

मानसून ट्रफ अपनी सामान्य स्थिति के करीब है और उत्तर से दक्षिण की तरफ इसके गुणों के कारण दक्षिणी राज्यों में भारी बारिश देखने को मिल रही है। साथ ही एक चक्रवाती सर्कुलेशन दक्षिण आंतरिक कर्नाटक और उसके पड़ोस पर बना हुआ है। जिसका असर इन राज्यों में देखने को मिल रहा है। इसके अलावा एक उत्तर दक्षिण ट्रक छत्तीसगढ़ के उपरोक्त चक्रवाती सर्कुलेशन तक जा रही है।

अगले 24 घंटे के दौरान बंगाल की पूर्व मध्य खाड़ी के ऊपर एक और चक्रवर्ती घेरा निर्मित होने की संभावना जाहिर की गई है। जिसका प्रभाव 48 घंटे के बाद दिखेगा। पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक निम्न दाब क्षेत्र बनने की संभावना है। जिसके कारण पूर्वी पूर्वोत्तर भारत सहित दक्षिणी राज्य में बारिश का कहर जारी रहेगा। हालांकि मध्य क्षेत्र में एक बार फिर से भारी बारिश देखने को मिलेगी।

आईएमडी के अनुसार बुधवार तक बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की उम्मीद और बाद में यह तेज हो सकता है। केरल में भी कम दबाव के कारण भारी बारिश हो सकती है। हालांकि IMD ने पुष्टि नहीं की है कि निम्न दबाव चक्रवात में बदल जाएगा या नहीं।

Read More : Government Job 2022 : यहाँ 1540 पदों पर निकली है भर्ती, जानें आयु-पात्रता, 15 अक्टूबर से पहले करें आवेदन

यूपी के कुछ जिलों में भारी बारिश

मानसून की अपनी दिशा बदलने से उत्तर प्रदेश के मौसम में बदलाव देख रहे हैं। कुछ जिलों में जहां तेज और लगातार बारिश की संभावना जताई गई है। वहीं दूसरी तरफ पूर्वी उत्तर प्रदेश में लोग गर्मी से बेहाल रहेंगे। उमस और गर्मी से लोगों को राहत की उम्मीद कम जताई गई है। राजधानी लखनऊ के कई इलाके में हल्की बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

वही पूर्वांचल के कई इलाके में बारिश होने के आसार जताए गए हैं। पश्चिमी यूपी में तेज हवा के कारण लोगों को राहत मिलेगी जबकि बादल और धूप की वजह से माहौल बरकरार रहेगा। न्यूनतम तापमान जहां 27 डिग्री सेल्सियस वहीं अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस तक रहने के आसार जताए गए हैं। हालांकि शनिवार से फिर से मौसम में बदलाव देखने को मिलेंगे।

बिहार में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट

बिहार में फिलहाल बारिश का दौर जारी रहेगा। राजधानी समेत कई जगहों पर अच्छी बारिश से लोगों को राहत मिली है। वहीं मौसम विभाग की माने तो मानसून ट्रफ हरदोई जमशेदपुर पटना दीघा होते हुए पूर्व बंगाल की खाड़ी की ओर से गुजर रहा है। जिसके कारण कई जिलों में बारिश की संभावना जताई गई है। आज 25 जिलों में वज्रपात-भारी बारिश सहित मेघ गर्जन का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

झारखंड बंगाल उड़ीसा में तेज बारिश का येलो ऑरेंज अलर्ट

बंगाल की खाड़ी में बन रहे नींद आपके क्षेत्र के कारण उड़ीसा बंगाल और झारखंड में भी बारिश का दौर जारी रहेगा। झारखंड के 12 जिलों में आज भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा बंगाल में भी तेज हवा के साथ बौछारें पड़ने का अलर्ट जारी किया गया है। बंगाल और झारखंड के कई क्षेत्रों के लिए आज ऑरेंज अलर्ट की घोषणा की गई है। इसके अलावा उड़ीसा के 8 जिलों में भारी बारिश का रेड अलर्ट घोषित किया गया है।

केरल कर्नाटक तमिलनाडु में रेड अलर्ट

आईएमडी ने केरल कर्नाटक सहित तमिलनाडु के लोगों को अधिक चेतावनी बरतने की सलाह दी है। दरअसल इन क्षेत्रों में लगातार हो रही बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। वहीं अभी केरल कर्नाटक सहित तमिलनाडु में भारी बारिश का कहर जारी रहेगा। मौसम विभाग ने इन क्षेत्रों में 13 सितंबर तक भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है। दरअसल मौसम में हो रही प्रभावी गतिविधि और बंगाल की खाड़ी सहित देश के अन्य जगह पर मानसून सहित ट्रफ और चक्रवाती रेखा बदलने से दक्षिणी भागों में भारी बारिश की संभावना जारी की गई है। लक्ष्यदीप में अलग-अलग इलाकों में भारी बारिश के साथ व्यापक गर्जन का अलर्ट जारी किया गया। इसके अलावा आंध्र प्रदेश के नाम रायलसीमा तमिलनाडु पुडुचेरी, कराई कल, कर्नाटक और माही में भी अगले 5 दिनों तक भारी बारिश का रेड अलर्ट घोषित कर दिया गया है।

मुंबई महाराष्ट्र गोवा में बौछारें

मौसम विभाग ने महाराष्ट्र गोवा कर्नाटक केरल लक्षद्वीप में व्यापक बारिश के साथ बौछारें पड़ने की संभावना जाहिर की है। दरअसल 7 सितंबर की शाम से महाराष्ट्र गोवा में एक बार फिर से मौसम में बदलाव दिखेगा। आंध्र प्रदेश अंडमान निकोबार दीप समूह में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

पर्वतीय राज्य में भारी बारिश

उत्तराखंड हिमाचल प्रदेश सहित पर्वतीय राज्य में भी बारिश का दौर जारी रहेगा। दरअसल इन राज्य में भूस्खलन की संभावना व्यक्त की गई है। वहीं मौसम विभाग ने इन क्षेत्रों में तेज हवा चलने के साथ भारी बारिश का अलर्ट घोषित किया है।

पूर्वी राज्यों में बारिश का रेड ऑरेंज अलर्ट

तीन चक्रवर्ती परिसंचरण निर्मित होने के कारण पूर्वी राज्य में भी भारी बारिश का कहर जारी रहेगा। सिक्किम पश्चिम बंगाल और नेचर प्रदेश असम मेघालय नगालैंड मणिपुर मिजोरम त्रिपुरा झारखंड छत्तीसगढ़ उड़ीसा में भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।  इन क्षेत्रों के लिए एक तरफ जहां भूस्खलन आदि से सचेत रहने की सलाह दी गई है। वहीं दूसरी तरफ रेड ऑरेंज अलर्ट घोषित कर दिया गया है।

MP CG में बूंदाबादी का अलर्ट

मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ के कुछ इलाकों में छिटपुट बारिश और बारिश के समय के साथ छींटे पड़ने की संभावना जताई गई है। इन क्षेत्रों में मौसम शुष्क रहने के भी आसार नजर आ रहे हैं।