IMD Alert : 5 मौसम प्रणाली एक्टिव, मानसून ने बदली दिशा, दिखेगा प्रभाव, 17 राज्यों में 4 अक्टूबर तक भारी बारिश का येलो अलर्ट, जानें पूर्वानुमान

मानसून की वापसी से पहले एक बार फिर से उत्तर और मध्य भारत में मानसून का असर देखने को मिलेगा।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देशभर में जल्द एक बार फिर से बड़ा बदलाव दिखेगा। IMD Alert के अनुसार बंगाल की खाड़ी (Bay of Bengal) में एक बार फिर दबाव का क्षेत्र (Low Pressure) उत्पन्न हो रहा है। जिसके 26 से 27 सितंबर के बीच डिप्रेशन (Depression) बनते हुए उत्तर की तरफ बढ़ने की संभावना जताई गई है। इसके बाद उत्तरी हरियाणा उत्तराखंड सहित पंजाब और हिमाचल के अलावा बिहार, झारखंड, बंगाल, उड़ीसा, सहित अन्य राज्य में बारिश का सिलसिला शुरू होगा।

इसके अलावा दिल्ली में भी बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। कुछ राज्यों में तापमान में एक बार फिर से वृद्धि देखी जाएगी। वही मानसून के अक्टूबर के पहले सप्ताह तक विदाई की उम्मीद जताई जा रही है। मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली के अलावा उत्तरी हरियाणा उत्तराखंड पंजाब हिमाचल प्रदेश और उत्तर भारत के कई राज्यों में बारिश की रफ्तार तेज होगी। इन राज्य में बारिश के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है।

नई दिल्ली में बौछारें जारी

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सटे इलाके में शनिवार को भी बौछारों का सिलसिला जारी रहा है। वहीं रविवार को दिल्ली और उनके आसपास के इलाकों में बाजारों का सिलसिला जारी रहेगा। कुछ जगह पर मध्यम बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। 25 सितंबर को न्यूनतम तापमान 23 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस रहने की उम्मीद जताई गई है। वहीं तापमान में 3 फीसद की गिरावट रिकॉर्ड की गई है। आसमान में बादल छाए रहेंगे।

Read More : Navratri 2022: इस साल नवरात्रि पर बन रहे हैं 8 राजयोग, कलश स्थापना कल, जानें शुभ मुहूर्त और पूजन विधि

यूपी में भारी बारिश की चेतावनी

मानसून की वापसी से पहले एक बार फिर से उत्तर और मध्य भारत में मानसून का असर देखने को मिलेगा। दरअसल झमाझम बारिश होगा दौर शुरू हो गया है। उत्तर प्रदेश उत्तराखंड के अलावा बिहार झारखंड और मध्य प्रदेश के कई क्षेत्रों में झमाझम बारिश की अनुमान जताए गए हैं। यूपी के कई जिलों में लगातार बारिश हो रही है। मौसम विभाग ने इसके लिए अलर्ट जारी कर दिया। 3 दिन तक के जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

28 सितंबर तक इन क्षेत्रों में भारी बारिश का दौर जारी रहेगा। इसके लिए येलो अलर्ट जारी किया है। वहीं आसपास के जिलों में चेतावनी भी दी गई है। तेज हवा और आकाशीय बिजली का खतरा बढ़ रहा है। मौसम विभाग ने जिन जिलों में आज भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। उसमें अलीगढ़ के अलावा हाथरस आगरा मथुरा फिरोजेपुर सीतापुर पीलीभीत बरेली बांदा लखीमपुर खीरी शाहजहांपुर आदि शामिल है। इसके लिए अलर्ट घोषित किया गया। वहीं इन इलाकों में गरज चमक और आंधी तूफान की संभावना जताई गई है।

बिहार में भारी बारिश की चेतावनी

बिहार में मानसून अपने चरम पर है मौसम विभाग ने उत्तर पूर्वी बिहार के कई जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। इसके लिए अलर्ट जारी किया गया। साथ ही वज्रपात की भी चेतावनी जारी की गई है। मौसम विभाग द्वारा अलर्ट घोषित किया गया। लोगों को सावधान रहने की अपील की गई है। मौसम विभाग की मानें तो पूर्वी चंपारण के अलावा पूर्णिया कटिहार के कुछ हिस्सों में भारी बारिश का रेड अलर्ट घोषित किया गया। साथ ही बेतिया गोपालगंज सिवान छपरा में तेज बारिश का अलर्ट जारी किया गया जबकि पटना मुजफ्फरपुर दरभंगा मधुबनी सीतामढ़ी और उत्तर बिहार के अन्य जिलों में भी येलो अलर्ट घोषित किया गया है।

पंजाब हरियाणा में बारिश

मौसम विभाग की पंजाब सहित हरियाणा में भी आज बारिश की चेतावनी जारी की है। तापमान में 3 फीसद की गिरावट रिकॉर्ड की जाएगी। वहीं आसमान में बादल छाए रहेंगे। हरियाणा के उत्तर-पूर्वी इलाके में बारिश देखने को मिलेगी।

झारखंड में भारी बारिश

झारखंड मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक गुमला लोहरदगा रांची में कुछ देर में बारिश की संभावना जताई गई है। इसके लिए मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की है। साथ ही संथाल परगना के इलाकों सहित पश्चिमी झारखंड में आसमान में बादल छाए रहेंगे। तापमान में तीन से चार फीसद की गिरावट रिकॉर्ड की जाएगी। वहीं दो-तीन दिनों में इन क्षेत्रों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

ओडिशा आंध्र में भारी बारिश

इसके अलावा मौसम विभाग ने ओडिशा और आंध्र प्रदेश में भी भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। दरअसल पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अलावा 27 से 4 अक्टूबर तक उड़ीसा और आंध्र प्रदेश के कई क्षेत्रों में वह चारों और मध्यम बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। इसके लिए अलर्ट जारी किया गया जबकि उड़ीसा के कुछ भागों के लिए गरज चमक और तीव्र हवा चलने की चेतावनी जारी की गई है। इसके लिए ऑरेंज अलर्ट घोषित कर दिया गया है।

मौसम प्रणाली

  • देशभर में कई वेदर सिस्टम एक्टिव हो गए इसके अलावा पश्चिमी उत्तर प्रदेश के ऊपर चक्रवाती हवा का क्षेत्र निर्मित हुआ है। जिसके कारण इन क्षेत्रों में भारी बारिश देखने को मिल रही है।
  • मानसून ने एक बार फिर से दिशा परिवर्तन किया है। मानसून की एक ट्रफ रेखा दिल्ली हरियाणा से होते हुए पंजाब की तरफ आगे बढ़ रही है। जिसके कारण पंजाब हरियाणा सहित गुजरात में बारिश का अलर्ट देखा जा रहा है। अभी तीन-चार दिनों तक मौसम प्रणाली ऐसे ही रहने की संभावना जताई गई है।
  • एक अन्य पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत में सक्रिय है जिसके कारण इन क्षेत्रों में बारिश का सिलसिला जारी रहेगा।
  • मौसम विज्ञान केंद्र की माने तो उत्तर पूर्वी राजस्थान पर एक हवा का ऊपरी भाग में चक्रवात निर्मित हुआ है, जिसके कारण उत्तर छत्तीसगढ़ तक एक ट्रक रेखा गुजर रही है।
  • वहीं आंध्र प्रदेश के डेट पर हवा के ऊपर भाग में एक चक्रवात निर्मित हुआ है, जल्द उसके डिप्रेशन में परिवर्तित होने की संभावना जताई गई है।
  • वही एक पश्चिमी विक्षोभ ट्रफ के रूप में पाकिस्तान और उसके आसपास निर्मित हुए हैं। जिसके कारण मौसम में बदलाव देखने को मिलेंगे।
  • चक्रवाती हवा का एक क्षेत्र उत्तर पूर्वी राजस्थान उत्तर प्रदेश के आसपास के क्षेत्रों पर निर्मित है। औसत समुद्र तल से इसकी ऊंचाई 5.8 किलोमीटर तक है। ट्रफ रेखा चक्रवाती सरकुलेशन से पूर्वोत्तर राजस्थान होते हुए उत्तर प्रदेश मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ उड़ीसा के रास्ते बंगाल के उत्तर-पश्चिम खाड़ी की तरफ पहुंच रही है।

मैदानी इलाके में बारिश

इसके अलावा भारतीय मैदानी इलाके सहित उत्तराखंड हिमाचल प्रदेश पश्चिमी उत्तर प्रदेश सिक्किम बिहार झारखंड बंगाल में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। 25 से 4 अक्टूबर के बीच उत्तर प्रदेश के अलग-अलग इलाकों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। इसके अलावा तेलंगना उत्तराखंड छत्तीसगढ़ उड़ीसा गुजरात अरुणाचल प्रदेश और पूर्वोत्तर राज्यों में भी बारिश का दौर जारी रहेगा।

दक्षिणी राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी

दक्षिणी राज्य में भी बूंदाबांदी देखने को मिलेगी। केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्रप्रदेश, उड़ीसा सहित महाराष्ट्र में आसमान में बादल छाए रहेंगे। तेज ठंडी हवाएं चलेगी। इसके अलावा तापमान में 2 फीसद की गिरावट रिकार्ड की जाएगी। वही Weather system एक्टिव होने की वजह से और मानसून की विदाई के पीछे इन राज्य में भी मध्यम बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।