IMD Alert : 15 राज्यों में मानसून का असर, 17 अगस्त तक भारी बारिश का येलो-ऑरेंज अलर्ट जारी, 5 चक्रवाती सिस्टम एक्टिव

मौसम विभाग की मानें तो 15 अगस्त तक कई राज्यों में भारी बारिश का दौर जारी रहेगा। इसी बीच इस वर्ष मानसून का सबसे ज्यादा असर मध्य-पश्चिम सहित दक्षिण भारत में देखने को मिला है।

IMD Alert

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देश के कई राज्यों में मानसून (Active monsoon) की वजह से भारी बारिश की स्थिति बनी हुई है। पूर्वी और पश्चिमी राज्य में बारिश (Rain alert) का दौर जारी है जबकि दक्षिणी राज्यों में बारिश का रेड अलर्ट (Red Alert) जारी किया गया है। अगले कुछ दिनों में मध्य भारत के कई इलाकों में भारी बारिश की संभावना है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD Alert) के अनुसार भारत के मध्य भागों में अगले पांच दिनों के दौरान सक्रिय मानसून की स्थिति दिखाई देगी। मौसम विभाग की मानें तो 15 अगस्त तक कई राज्यों में भारी बारिश का दौर जारी रहेगा। इसी बीच इस वर्ष मानसून का सबसे ज्यादा असर मध्य-पश्चिम सहित दक्षिण भारत में देखने को मिला है।

हालांकि उत्तर भारत और कृषि भूमि में इस बार मानसून कुछ खास असर नहीं दिखा पाया है। यूपी, बिहार, झारखंड सहित पश्चिम बंगाल जैसे राज्य मानसून की कमी का सामना कर रहे हैं। मौसम विभाग ने आज कई राज्य में बारिश की संभावना जताई है। मौसम विभाग की मानें तो आज मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और कर्नाटक में भारी बारिश का ऑरेंज और येलो अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा पुणे, हिमाचल, कांगड़ा, मंडी बारिश का दौर देखने को मिलेगा।

अरब सागर सहित बंगाल की खाड़ी और जम्मू-कश्मीर की से आ रही एक ट्रफ रेखा से देश में 5 चक्रवाती सिस्टम एक्टिव हो गए हैं। वही राजस्थान में समुद्र के ऊपर एक निम्न दबाव का क्षेत्र निर्मित हो रहा है। 48 घंटे में इसकी और व्यापक होने की संभावना जताई गई है। जिसके बाद कई राज्यों में भारी बारिश देखने को मिल सकती है। 15 अगस्त तक पूर्वोत्तर और पूर्वी राज्यों में भी बारिश की संभावना है। अगले कुछ दिनों में दक्षिण भारत के क्षेत्रों विशेष रूप से कर्नाटक और तटीय आंध्र प्रदेश में गंभीर वर्षा होने का अनुमान है।

Read More : UGC की बड़ी तैयारी, अब होगा सिंगल एंट्रेंस एग्जाम, मेडिकल-इंजीनियरिंग के छात्रों को मिलेगा लाभ, जानें अपडेट

12 अगस्त को कर्नाटक में गरज-चमक या बिजली गिरने की संभावना है। उनके 13 और 14 अगस्त को तटीय आंध्र प्रदेश और यनम में हमले की संभावना है। 14 अगस्त को गंगीय पश्चिम बंगाल में छिटपुट भारी वर्षा और बिजली के साथ व्यापक वर्षा, 12 अगस्त, 13 और 14 अगस्त को झारखंड, 12 और 13 अगस्त को ओडिशा, 13 और 14 अगस्त को अरुणाचल प्रदेश, 13 और 15 अगस्त को असम और मेघालय और 2022 में 12 और 15 अगस्त को नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में, 13 और 14 अगस्त को ओडिशा में बहुत भारी वर्षा की भी संभावना है।

दरअसल अगले दो से तीन दिनों में उत्तर प्रदेश, बिहार और पूर्वोत्तर राज्यों में बारिश हल्की रहने की उम्मीद है। मॉनसून ट्रफ सक्रिय है और सामान्य से अधिक दक्षिण में स्थित है। आने वाले दिनों में सक्रिय होने की संभावना है। इधर मध्य भारत में पूर्वी मध्य प्रदेश 12 और 14 अगस्त को पश्चिम मध्य प्रदेश में, 11 और 12 अगस्त को पूर्वी मध्य प्रदेश में, 13 अगस्त को छत्तीसगढ़ में भारी बारिश और गरज के साथ बिजली गिरने की संभावना है।

शुक्रवार को मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक, हिमाचल के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है जबकि महाराष्ट्र के सतारा रत्नागिरी, रायगढ़, परगना जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी गई है। मध्य प्रदेश और कर्नाटक में भी भारी बारिश का दौर जारी रहने वाला है। राजधानी भोपाल में बारिश देखने को मिलेगी जबकि अन्य जिलों में येलो अलर्ट जारी किया गया। इसके अलावा केरल कर्नाटक में भी भारी बारिश का दौर देखने को मिलेगा।

मुंबई में भी आज बारिश की संभावना जताई गई है। हालांकि इसके लिए किसी भी तरह का अलर्ट जारी नहीं किया गया है। पंजाब और हरियाणा के लिए आयोजित हल्की से मध्यम बारिश की संभावना जताई गई है, IMD ने उदयपुर डूंगरपुर बांसवाड़ा में भारी बारिश के लिए येलो अलर्ट जारी किया है। यूपी की बात करें तो अधिकांश हिस्से में बारिश थम सी गई है जबकि यूपी के दक्षिण हिस्से में आज मध्य में बारिश की संभावना जताई गई है। इसके लिए मौसम विभाग द्वारा येलो अलर्ट जारी किया गया है।

उत्तर प्रदेश में 15 अगस्त के बाद बारिश का दौर देखने को मिल सकता है। उत्तर-पूर्व क्षेत्र की बात करें तो 14 अगस्त को पश्चिम बंगाल में व्यापक भारी रूप से बारिश की संभावना जताई गई है। वहीं 13, 14, 15 को झारखंड में बारिश का अलर्ट जारी किया गया है जबकि उड़ीसा में 13 से 15 अगस्त तक बारिश देखने को मिलेगी।

मौसम विभाग ने 17 अगस्त तक असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा सहित बंगाल की उत्तर खाड़ी और अरुणाचल प्रदेश में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। बता दें कि 13 अगस्त के आसपास बंगाल के उत्तरी खाड़ी के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना जताई गई है। 24 घंटे के दौरान इसके और अधिक तीव्र होने और पश्चिम उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना जताई गई है। जिससे बारिश का दौर देखने को मिलेगा।