IMD Alert : अप्रैल में बदलेगा मौसम, 3 अप्रैल तक 12 राज्यों में बारिश की चेतावनी, कई राज्य में हिटवेव का अलर्ट

प्रदेश 31 मार्च से 3 अप्रैल तक भरी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देश भर में एक बार फिर से तापमान में वृद्धि (Temperature Rise) की आशंका जताई गई है। IMD Alert की माने तो दिल्ली (Delhi) में कई दिनों से ही तापमान में वृद्धि के साथ Heatwave की स्थिति बनी हुई है और आगे यह जारी रहेगी। हालांकि अप्रैल महीने में कई राज्यों में बदलाव देखने को मिल सकता है। अप्रैल के शुरुआत के साथ ही कई राज्य में भारी बारिश का अलर्ट (Rain alert) जारी किया गया है।

इसके अलावा उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल सहित उत्तर भारत में तापमान में वृद्धि जारी रहेगी। राजधानी दिल्ली में न्यूनतम तापमान 20 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। इसके अलावा 1 अप्रैल से राजधानी के मौसम में हल्के बदलाव की संभावना जताई गई है। तेज हवाएं चलने के साथ ही बादल घिरने से जनजीवन को आराम मिलेगा।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, अगले कुछ दिनों के दौरान कई उत्तर पूर्वी राज्यों में भारी बारिश की भविष्यवाणी की गई है। इस बीच, पूरे मध्य और पश्चिम भारत जैसे राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ में लू की स्थिति बनी रहने की संभावना है। कई राज्यों में 4 अप्रैल तक भरी बारिश की संभावना जताई गई है।

Read More : MP : 11% डीए वृद्धि की घोषणा, सैलरी में होगी वृद्धि, 6th Pay के DA और पेंशनर्स के पेंशन पर बड़ी अपडेट

भारी बारिश की चेतावनी

3 अप्रैल तक उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल-सिक्किम, असम, मणिपुर, मेघालय, त्रिपुरा में अलग-अलग भारी वर्षा की संभावना है जताई गई है। वहीँ 31 मार्च, 02 और 03 अप्रैल को असम-मेघालय और अरुणाचल प्रदेश 31 मार्च से 3 अप्रैल तक भरी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

31 मार्च और 1 April को तटीय कर्नाटक और लक्षद्वीप में हल्की से मध्यम छिटपुट वर्षा होने की संभावना है और अगले 5 दिनों के दौरान केरल, तमिलनाडु-पुडुचेरी-कराइकल और दक्षिण कर्नाटक में बारिश की संभावना है। 31 मार्च को लक्षद्वीप में, 31 मार्च को तमिलनाडु-पुदुचेरी-कराइकल में और 1 से 3 अप्रैल तक केरल और कर्नाटक में अलग-अलग गरज / बिजली की गतिविधि की संभावना है।

राजधानी दिल्ली में न्यूनतम तापमान 20, अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस तक रहने की आशंका जताई गई है। इसके अलावा भोपाल में न्यूनतम तापमान 19 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस तक रहने के आसार हैं। आसमान में धूप खिली रहेगी। गुजरात के अहमदाबाद में न्यूनतम तापमान में भारी वृद्धि देखी गई है। न्यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस हो गया है। जयपुर में न्यूनतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस जबकि अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस तक रहने के आसार है।

जम्मू कश्मीर की बात करें तो न्यूनतम तापमान 19 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस तक रहने के आसार है आसमान में बादल की हल्की झलक देखने को मिलेगी। लखनऊ में जहां न्यूनतम तापमान 22 डिग्री व अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस, राजधानी पटना में न्यूनतम तापमान 22, अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस तक रहने के आसार जताए गए है। राजस्थान और मध्य प्रदेश में हीटवेव का अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा राजधानी रांची में न्यूनतम तापमान 22 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस तक रहने की आशंका जताई गई है।

हीटवेव चेतावनी

31 मार्च को पश्चिम राजस्थान के अधिकांश हिस्सों में, साथ ही सप्ताहांत के दौरान पश्चिमी उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, हरियाणा और पश्चिम मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में भीषण गर्मी की स्थिति बनी रहने की संभावना है। 31 मार्च और 1 अप्रैल को दक्षिण हरियाणा और दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों में हीटवेव से गंभीर हीटवेव की स्थिति के अनुमान जताये गए हैं। वहीँ 1 से 3 अप्रैल के बीच इन क्षेत्रों में स्थानिक और तीव्रता में कमी आने की भविष्यवाणी की गई है। हालांकि इस समयावधि में इन राज्यों के कई स्थानों पर हीटवेव के आसार जताए गए हैं।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने आज दिल्ली, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के लिए भीषण गर्मी का अनुमान लगाया है। अपनी सबसे हालिया एडवाइजरी में, मौसम विभाग ने पूर्वी उत्तर प्रदेश, मध्य मध्य महाराष्ट्र, झारखंड और ओडिशा के आंतरिक क्षेत्रों में अलग-अलग हीटवेव की स्थिति का अनुमान लगाया है।

मौसम विज्ञान प्रणाली की कमी, राजस्थान और पड़ोसी पाकिस्तान पर एक एंटी-साइक्लोन की उपस्थिति के साथ, पूरे उत्तर और मध्य भारत में गर्म हवाएं चल रही थीं। अप्रैल की शुरुआत तक कोई राहत नहीं के साथ, मार्च एक गर्म हवा के नोट पर समाप्त होगा।