IMD Alert : दिल्ली-UP-बिहार में बदला मौसम, 8 राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट, मानसून सहित 4 चक्रवाती सिस्टम एक्टिव, जानें मौसम विभाग का पूर्वानुमान

शुक्रवार को मौसम विभाग ने उत्तराखंड के तीन जिलों उत्तरकाशी, चमोली और बागेश्वर में भारी बारिश की चेतावनी जारी की।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देश के 17 राज्यों में एक तरफ जहां बारिश (Rain) का दौर जारी रहेगा। वही दिल्ली, यूपी, पंजाब में जल्द मौसम बदलने के आसार नजर आ रहे हैं। दरअसल IMD के अनुसार 1 अगस्त से इन जगहों पर बूंदाबांदी शुरू हो जाएगी। उत्तर भारत के कई क्षेत्रों में अगस्त से मौसम में भारी बदलाव दिखेगा। राजधानी दिल्ली सहित पंजाब, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड में मौसम बदलने की संभावना जताई गई होगी। अगले 24 घंटे मौसम विभाग नई दिल्ली, उत्तर प्रदेश सहित बिहार और झारखंड में बारिश की संभावना जाहिर की गई।

अगस्त महीने में गंगेय इलाके में बारिश देखने को मिलेगी। इसके अलावा मौसम विभाग ने हिमाचल, उत्तराखंड सहित राजस्थान और गुजरात में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। मध्य प्रदेश के कई क्षेत्रों में आज गरज चमक के साथ भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया। वहीं मौसम विज्ञान विभाग ने शुक्रवार को उत्तर पश्चिम भारत में भारी बारिश की संभावना जाहिर की है।

राजधानी दिल्ली में न्यूनतम तापमान 24 डिग्री व अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस तक देखा जा रहा है। मानसून पश्चिमी छोर अपनी सामान्य स्थिति के पास औसत समुद्र तल में है। बारिश की प्रबल संभावना बनी हुई है। साथ ही पूर्वी छोर अपने सामान्य स्थिति के उत्तर में स्थित है। जिसके कारण में प्रदेश राजस्थान गुजरात सहित पर्वतीय राज्यों में बारिश देखने को मिल रहा है। बिहार झारखंड के कई क्षेत्रों में बूंदाबांदी देखने को मिल सकती है। गुरुवार को बिहार सहित उत्तर प्रदेश और दिल्ली में भी बूंदाबांदी देखने को मिली थी जिसे मौसम सुहावना बना हुआ है।

Read More : संचालक वित्त के खिलाफ रिटायरमेंट से पहले बड़ी कार्रवाई, बैठी विभागीय जांच, अनियमितताओं का आरोप

इसके अलावा पूर्वी राज्य में भी बारिश का दौर जारी असम, मेघालय, मणिपुर, नागालैंड. अरुणाचल प्रदेश सहित पड़ोसी राज्य में सामान्य से अधिक बारिश रिकॉर्ड की जा रही है। लगातार हो रही बारिश से भूस्खलन की स्थिति निर्मित हो रही है। शुक्रवार को मौसम विभाग ने उत्तराखंड के तीन जिलों उत्तरकाशी, चमोली और बागेश्वर में भारी बारिश की चेतावनी जारी की। 30 जुलाई को चंपावत, नैनीताल, पौड़ी गढ़वाल, टिहरी गढ़वाल और देहरादून में भारी बारिश की संभावना है। अगले दो दिनों में उत्तर प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में भारी बारिश की संभावना है।

इसके अलावा दक्षिणी राज्यों की बात करें तो केरल कर्नाटक तमिलनाडु महाराष्ट्र और गोवा में भी मौसम में पल-पल बदलाव देखा जा रहा है। क्षेत्रों में जहां हल्की धूप खिली हुई है। वहीं दूसरी तरफ कई क्षेत्रों में मौसम अस्त-व्यस्त बना हुआ है। मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो उत्तर दक्षिण आंतरिक उत्तरी कर्नाटक, आंतरिक कर्नाटक से दक्षिण आंतरिक कर्नाटक और आंतरिक तमिलनाडु होते हुए कोमोरिन क्षेत्र तक पहुंच रही है। जिसके कारण बारिश की संभावना जताई जा रही है।

इधर राजस्थान, गुजरात सहित मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में भी बारिश का दौर जारी रहेगा। 4 अगस्त के बाद इन क्षेत्रों में बारिश से राहत मिलने के आसार नजर आ रहे हैं। वहीं जम्मू-कश्मीर और पश्चिम उत्तर प्रदेश में शुक्रवार को कहीं-कहीं बूंदाबांदी और गरज चमक के साथ भारी बारिश की संभावना जताई गई। जबकि पश्चिम बंगाल, हरियाणा, पंजाब सहित उड़ीसा और आंध्र के कुछ हिस्सों में बुधवार ही देखने को मिल सकती है। तापमान में दो से तीन फीसद की गिरावट रिकॉर्ड की जाएगी।

हरियाणा चंडीगढ़ में 31 जुलाई तक बारिश की संभावना जताई गई है। वहीं हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब में आज से लगातार पांच दिन तक बारिश का दौर जारी रहेगा। 29 जुलाई से 2 अगस्त तक पूरे उत्तर प्रदेश में बौछार पड़ने की संभावना जताई गई है। 30 जुलाई को झारखंड के कुछ हिस्सों में छिटपुट बारिश देखने को मिल सकती है। इसके अलावा 2 अगस्त तक बिहार में बारिश का दौर जारी रहेगा। साथ ही आंध्र प्रदेश,तमिलनाडु के ऊपर तटीय कर्नाटक, पांडिचेरी, कराई कल में भी बारिश की संभावना जताई गई है।