IMD Alert : मौसम में बदलाव, चक्रवाती सिस्टम-लो प्रेशर सक्रिय, 15 राज्यों में 18 सितंबर तक बारिश का रेड-ऑरेंज अलर्ट, इन राज्यों में बढ़ेगा तापमान

इन राज्यों में भारी बारिश का रेड ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देशभर के कई राज्य में फिर से बारिश (heavy rain) का सिलसिला शुरू हो गया है। लगातार हो रही बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हुए हैं। वहीं IMD Alert ने कई राज्य में भारी बारिश का अलर्ट जारी कर दिया गया है। मौसम विभाग ने पश्चिम बंगाल से लेकर छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र तक भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। वही बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव (low depression) का क्षेत्र ओडिशा तट पर पहुंच गया है और सप्ताह के अंत तक ऐसी स्थिति बनाए रहेगा। जिसके कारण इन राज्यों में भारी बारिश का रेड ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

इसके साथ ही अरब सागर से आ रही पशु हवा प्रणाली के कारण राज्य में लगातार बौछारों का सिलसिला जारी रहेगा। वही सिस्टम के अगले सप्ताह तक पश्चिम और उत्तर की तरफ बढ़ने की आशंका जताई गई है। जिसके कारण दिल्ली-एनसीआर सहित गुजरात और राजस्थान में बारिश देखने को मिलेगी। इसके अलावा कर्नाटक केरल तमिलनाडु सहित उत्तराखंड और महाराष्ट्र मुंबई में भी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

नई दिल्ली में बारिश

मौसम विभाग ने एक बार फिर से दिल्ली में बारिश की चेतावनी जारी की है। दरअसल आज कई जगहों पर मध्यम से हल्की बारिश देखने को मिल सकती है। दिल्ली में आज 11 सितंबर को न्यूनतम तापमान 27 जबकि अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना जताई गई है। तापमान में गिरावट रिकॉर्ड की जाएगी। तेज हवा चलेगी। मौसम प्रणाली के प्रभाव इन क्षेत्रों में देखने को मिलेंगे।

यूपी में बारिश

यूपी के कई क्षेत्रों में आज बारिश का अलर्ट जारी किया गया था। अलग-अलग हिस्सों में भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी है। पूर्वी उत्तर प्रदेश में बारिश का येलो और ऑरेंज अलर्ट घोषित किया गया। लखनऊ समेत आसपास के जिलों में भीषण गर्मी से लोगों की परेशानी बढ़ रही है।

वहीं दूसरी तरफ लखनऊ सहित आसपास के क्षेत्रों में गरज चमक के साथ मध्य में बारिश का अलर्ट घोषित किया गया। 16 सितंबर तक उत्तर प्रदेश के पश्चिमी क्षेत्रों में भी बारिश देखने को मिल सकती है। अगले 24 घंटे में बरेली पीलीभीत, उन्नाव, लखनऊ, बाराबंकी, गोंडा, सिद्धार्थ नगर, बस्ती, फैजाबाद, अमेठी, रायबरेली में गरज चमक के साथ बौछारें पड़ने की संभावना जताई गई है। इसके लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है।

बिहार में भारी बारिश

इसके अलावा राजधानी पटना समेत कई जिलों में मानसून की मेहरबानी देखने को मिल रही है। पटना मौसम विज्ञान केंद्र द्वारा अगले 7 दिनों में बारिश का अलर्ट जारी किया गया। इसके अलावा कुछ क्षेत्रों में छिटपुट बारिश देखने को मिलेगी। साथ ही गर्मी से राहत मिलेगी। 12 सितंबर को पश्चिम बंगाल की खाड़ी क्षेत्र की तीव्रता में वृद्धि की संभावना जताई गई है। 11 और 12 सितंबर को कई क्षेत्रों में व्यापक बारिश का अलर्ट घोषित किया गया है।

मौसम विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिकों की माने तो मानसून ट्रफ लाइन जैसलमेर भोपाल गोंदिया होते हुए पश्चिम बंगाल में बने निम्न दबाव के क्षेत्र से होकर गुजर रही है। जिसके कारण पूरे बिहार में मध्यम बारिश की आशंका जताई गई है। वहीं जिन 3 जिलों में भारी बारिश का दौर जारी किया गया। उसमें भागलपुर बांका के अलावा जहानाबाद गया नवादा में बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी कर दिया गया। साथ ही सीतामढ़ी मुजफ्फरपुर वैशाली समस्तीपुर दरभंगा सहरसा खगड़िया मुंगेर जमुई बांका पूर्णिया कटिहार और किशनगंज में भी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

Read More : आ रही है Royal Enfield की नई बुलेट 350, फीचर्स और कीमत का हुआ खुलासा, जानें यहाँ

झारखंड में ऑरेंज अलर्ट

बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने कम दबाव के क्षेत्र के कारण झारखंड में फिर से भारी बारिश का दौर शुरू होगा। उत्तर प्रदेश में बारिश का इंतजार करना पड़ सकता है जबकि झारखंड के कई जिलों में बारिश का रेड ऑरेंज अलर्ट घोषित कर दिया गया। सुबह से ही आसमान में बादल छाए हुए हैं। भारी बारिश के अनुमान जताया गए हैं।

वहीं झारखंड के कोल्हान और संथाल परगना के अलावा उत्तर पूर्वी झारखंड में बारिश देखने को मिलेगी। इसके अलावा 17 सितंबर तक कोयलांचल में भी भारी बारिश के आसार जताए गए हैं। मानसून रेखा एक तरफ जहां उत्तर से दक्षिण की तरफ बढ़ रही है। वहीं दूसरी तरफ साइक्लोनिक सरकुलेशन का सीधा सीधा असर झारखंड पर पड़ता नजर आ रहा है।

ओडिशा बंगाल में भारी बारिश का रेड अलर्ट

इधर मौसम विभाग ने उत्तर आंध्रप्रदेश और दक्षिण उड़ीसा तट से दूर बंगाल की खाड़ी सक्रिय कम दबाव के क्षेत्र के लो प्रेशर में बदलने के आसार बढ़ गए हैं। वहीं उड़ीसा और पश्चिम बंगाल में भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी है।

17 सितंबर तक पश्चिम बंगाल झारखंड में भारी बारिश का रेड ऑरेंज अलर्ट घोषित कर दिया है। 17 सितंबर तक उड़ीसा और पश्चिम बंगाल में भारी बारिश की चेतावनी जारी करते हुए लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है। मछुआरों को सागर तट पर जाने से मना किया गया है।

मौसम सिस्टम

  • एक निम्न दबाव का क्षेत्र आंध्र प्रदेश/ओडिशा तट पर स्थित है और संभवत: सप्ताहांत तक अपनी स्थिति बनाए रखेगा। यह सोमवार से अंतर्देशीय क्षेत्र में प्रवेश करना शुरू कर देगा।
  • इसके अलावा, अरब सागर से आने वाली पछुआ हवाएं को अन्य प्रणाली से जोड़ेगा जायेगा। वहीँ इस अवधि में महाराष्ट्र, तेलंगाना, छत्तीसगढ़, ओडिशा और गंगीय-पश्चिम बंगाल में व्यापक बारिश होगी।
  • उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी पर एक कम दबाव का क्षेत्र अच्छी तरह से चिह्नित हो गया है और रविवार सुबह तक एक अवसाद लो प्रेशर में बदलने के लिए तैयार है।
  • वहीँ एक अन्य चक्रवाती परिसंचरण मध्य-क्षोभमंडल स्तर तक फैला हुआ है।

उत्तराखंड हिमाचल में बारिश का अलर्ट

मौसम विभाग के अनुसार उत्तराखंड में आज के भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा कई क्षेत्रों में भूस्खलन आदि की समस्या भी जताई गई है। दरअसल ट्रफ रेखा के उत्तराखंड से गुजरने के कारण उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश के इन क्षेत्रों में भारी बारिश देखने को मिल सकती है।

केरल कर्नाटक में भारी बारिश का रेड अलर्ट

इसके अलावा तमिलनाडु पांडिचेरी कराई कल आंध्र प्रदेश लेना में भारी बारिश और गरज चमक के साथ बिजली गिरने की संभावना जताई गई है। इसके लिए रेड अलर्ट जारी किया गया। साथ ही उत्तरी आंतरिक कर्नाटक केरल और माहे में भी सोमवार को भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

एमपी-सीजी में बौछारें

मई मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में भी बारिश की शुरुआत होगी। 2 दिन के बाद इन क्षेत्रों में मौसम के बदलने की आशंका जताई गई है। दरअसल तीन सिस्टम एक्टिव होने के कारण पूरे देश से रेखाएं मध्य भारत की तरह बढ़ेगी। जिससे इन क्षेत्रों में भारी बारिश और गरज चमक का अलर्ट जारी कर दिया गया है।

इन राज्यों में बढ़ेगा तापमान

जबकि पंजाब, हरियाणा, नई दिल्ली सहित उत्तर प्रदेश के कुछ क्षेत्र सहित बिहार के कई जिलों में तापमान वृद्धि देखने को मिलेगी।

मुंबई गोवा में बारिश

वहीं मौसम विभाग ने मुंबई गोवा महाराष्ट्र में भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया। इसके लिए येलो अलर्ट जारी किया गया। साथ ही अन्य स्थानों पर भारी बारिश और गरज चमक के साथ बिजली गिरने की संभावना जताई गई। मध्य महाराष्ट्र और कोकन सहित गोवा में भी अगले 5 दिनों तक भारी बारिश होने की संभावना जताई गई है।

पूर्वी राज्यों में बारिश

बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के अनुसार, आज मुंबई और उसके उपनगरों में गरज के साथ हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना है। भारत के पूर्वोत्तर हिस्से में भी अगले तीन दिनों के दौरान भारी बारिश होने की संभावना है। आईएमडी के अनुसार, मंगलवार तक असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश और गरज के साथ गरज / बिजली गिरने की संभावना है। इन क्षेत्रों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।