IMD Alert : 25 अप्रैल से एक्टिव होगा पश्चिमी विक्षोभ, 14 राज्यों में 30 अप्रैल तक बारिश के आसार, 5 में हीटवेव का अलर्ट

मगरपट्टा में शुक्रवार को सुबह 8.30 बजे से 24 घंटे की अवधि के दौरान 0.5 मिमी बारिश दर्ज की गई।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। 24 अप्रैल को एक बार फिर से देश भर के मौसम (Today weather) में बदलाव देखने को मिल सकता है। दरअसल 24 अप्रैल को पश्चिमी विक्षोभ (western disturbance) के सक्रिय होने से कई राज्य में बूंदाबांदी (rain alert) का दौर शुरू होगा। साथ ही ठंडी हवा चलेगी। IMD Alert ने गरज चमक के साथ बिजली गिरने की संभावना भी जताई गई है। बिहार झारखंड के कुछ जिलों में मौसमी प्रभाव देखने को मिल रहा है। कई क्षेत्रों में बादल छाए हुए हैं। वहीं कुछ क्षेत्रों में बिहार के बारिश का दौर भी बना हुआ है। हालांकि उत्तर मध्य भारत में हीटवेब का अलर्ट जारी किया गया है।

राजधानी दिल्ली में एक बार फिर से गर्मी की रफ्तार तेज होगी। रविवार को न्यूनतम तापमान 22 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया जाएगा। वहीं सोमवार को भी आसमान पूरी तरह से खुला रहेगा। गर्म हवा के थपेड़े जारी रहेंगे। हालांकि पहाड़ी क्षेत्र में मौसम के बदलाव देखने के कारण दिल्ली में थोड़ी राहत दिख सकती है।

मौसम विभाग की माने तो मध्यप्रदेश में एक बार फिर से Alert जारी किया गया है। मौसम वैज्ञानिकों का अनुमान है कि प्रदेश में 19 मई तक भीषण गर्मी पड़ेगी। सोमवार 25 अप्रैल से Heatwave का अलर्ट जारी किया गया है। वहीं 30 अप्रैल तक मध्यप्रदेश में आसमान में धूप के लिए रहेंगे। गर्म हवा के थपेड़े जारी रहेंगे लोगों को सतर्क और सचेत रहने की सलाह दी गई है। गुजरात और उत्तर प्रदेश में भी गेटवेल का अलर्ट जारी किया गया है। दरअसल दक्षिण पश्चिमी उत्तर प्रदेश के 12 क्षेत्रों में लू की संभावना जताई गई है। साथ ही साथ गुजरात-राजस्थान और हरियाणा में भी मौसम साफ रहेगा तेज धूप रहेगी। गर्म हवा की रफ्तार अधिक होने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा।

Read More : सत्य के साथ सामाजिक दायित्व का निर्वाह भी करती है पत्रकारिता -प्रवीण कक्कड़

इधर महाराष्ट्र, दक्षिण कोकण, गोवा, जम्मू कश्मीर, लेह लद्दाख, हिमाचल प्रदेश, सिक्किम, कर्नाटक सहित पर्वतीय राज्यों और पूर्वी दक्षिण राज्य में बारिश का दौर जारी रहेगा। कई स्थानों पर मध्यम बारिश की भी संभावना जताई गई है। बिजली गिरने का अलर्ट जारी किया गया है। साथ क्षेत्रों में लगातार हो रही बारिश से जनजीवन सामान्य बना हुआ है। मौसम विभाग की माने तो 5 मई तक दक्षिण पश्चिम उत्तर प्रदेश, दक्षिण पूर्वी उत्तर प्रदेश सहित मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात, हरियाणा, दिल्ली गर्मी का प्रकोप दिखेगा भारी लुका अलर्ट जारी किया गया है

30 अप्रैल तक लोगों को सचेत रहने की सलाह दी गई है। हालांकि पश्चिमी विक्षोभ के एक्टिव होने के कारण मौसम में थोड़े बदलाव दिखेंगे। न्यूनतम तापमान सहित अधिकतम तापमान में एक से दो फीसद की कमी राहत का कारण बनेगी।झारखंड में 25 और 26 अप्रैल को लुक अलर्ट जारी किया गया। हालांकि 27 अप्रैल से एक बार फिर से मौसम बदलने की आशंका जताई गई है। साथ ही संथाल परगना के पूर्वी हिस्से सहित चमक के साथ बारिश की संभावना जताई गई है।

इधर छत्तीसगढ़ के कुछ राज्य सहित मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, असम में गरज बरस की संभावना है। अरुणाचल प्रदेश, उत्तराखंड में तेज हवा चलेगी और साथ ही बूंदाबांदी का दौर बना रहेगा। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शुक्रवार को घोषणा की कि 24 अप्रैल को पूर्वी भारत में बिजली और तेज़ हवाओं के साथ बारिश और गरज के साथ बारिश होने की संभावना है। 24-30 अप्रैल के दौरान, पूरे पूर्वोत्तर भारत में इसी तरह की स्थिति बनी रहेगी।

वर्षा पूर्वानुमान

भारत के उत्तरी क्षेत्रों के लिए

असम-मेघालय और अरुणाचल प्रदेश में 24 से 30 अप्रैल को भारी बारिश की संभावना है। आईएमडी का अनुमान है कि अगले 4 दिनों के लिए छत्तीसगढ़ और ओडिशा में गरज के साथ छिटपुट बारिश, बिजली और तेज हवाएं (30-40 किमी प्रति घंटे) की रफ्तार से बारिश होगी।

28 अप्रैल की रात के दौरान पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में एक नया मजबूत पश्चिमी विक्षोभ आने की उम्मीद है। जम्मू-कश्मीर-लद्दाख-गिलगित-बाल्टिस्तान-मुजफ्फराबाद, हिमाचल में छिटपुट वर्षा के बाद अलग-अलग गरज और बिजली गिरने की संभावना है। 25 से 29 अप्रैल को प्रदेश और उत्तराखंड में बारिश का दौर जारी रहेगा। आईएमडी के रिकॉर्ड ने पुणे के कुछ हिस्सों में शनिवार और मंगलवार सुबह तक, साथ ही बाकी दिन में शून्य वर्षा दिखाई गई है। मगरपट्टा में शुक्रवार को सुबह 8.30 बजे से 24 घंटे की अवधि के दौरान 0.5 मिमी बारिश दर्ज की गई।

Read More : MP Government Jobs : 1222 पदों पर निकली भर्ती, 1 मई से शुरू होगी आवेदन की प्रक्रिया, जाने नियम और निर्देश

रविवार को शहर के गर्म होने की संभावना है क्योंकि आईएमडी ने यहां अधिकांश स्थानों पर दिन के तापमान को 40 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने का अनुमान लगाया है। जिसमें कोई गरज के साथ पूर्वानुमान नहीं है। हालांकि शनिवार को पुणे में कोई बारिश दर्ज नहीं की गई। पुणे रोड पर शाम को हल्की ओलावृष्टि हुई। शनिवार को शिवाजीनगर में अधिकतम तापमान डिग्री सेल्सियस रहा, जबकि न्यूनतम तापमान डिग्री सेल्सियस रहा है।

भारत के दक्षिणी क्षेत्रों के लिए

अगले 5 दिनों के दौरान, केरल-माहे, तमिलनाडु-पुडुचेरी-कराइकल, कर्नाटक, तटीय आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में गरज के साथ छींटे, बिजली और तेज़ हवाओं के साथ छिटपुट वर्षा होने की संभावना है।

हीटवेव पूर्वानुमान

आईएमडी ने भविष्यवाणी की है कि अगले पांच दिनों के दौरान गुजरात के छिटपुट इलाकों में लू की स्थिति बनी रहेगी।दक्षिण पश्चिम उत्तर प्रदेश भी 24 अप्रैल से 26 अप्रैल तक गर्म तापमान से प्रभावित हो सकता है। आईएमडी दक्षिण पूर्व उत्तर प्रदेश (24-26 अप्रैल), मध्य प्रदेश (25 और 28 अप्रैल), राजस्थान (26 अप्रैल), और विदर्भ (26 अप्रैल) में लू की स्थिति की भविष्यवाणी करता है।