आशा-आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहित पारा शिक्षकों के वेतन में वृद्धि, 20% मानदेय बढ़ोतरी के आदेश जारी, अप्रैल के वेतन में मिलेगा लाभ

गृह विभाग ने इसके लिए आदेश जारी किए हैं।

employees news

जयपुर, डेस्क रिपोर्ट। अप्रैल महीने की सैलरी (salary) देश के सभी कर्मचारी वर्ग (Employees) के लिए खुशखबरी लेकर आएगी। दरअसल मई में मिलने वाली कर्मचारी सैलरी में बंपर बढ़ोतरी होगी। एक तरफ जहां केंद्रीय कर्मचारियों के डीए में वृद्धि (DA Hike) की गई है। वहीं कई राज्य सरकार ने भी अपने कर्मचारियों को महंगाई भत्ते में लाभ दिया है। साथ ही द्वितीय और तृतीय स्तर के कर्मचारियों के वेतन में वृद्धि की गई है। राज्य सरकार ने एक बार फिर से विभिन्न विभागों में कार्यरत कर्मचारी के मानदेय में वृद्धि (honorarium hike) की घोषणा की है। जिसके लिए आदेश जारी कर दिए गए।

बीते दिनों खानसामा आंतरी के मानदेय में 20 फीसद की वृद्धि की आदेश जारी होने के बाद अब मदरसा बोर्ड में पंजीकृत मदरसों में कार्यरत पैरा टीचर (para tecahers) के लिए भी मानदेय वृद्धि के आदेश जारी किए गए हैं। इसका लाभ मदरसा टीचर्स को अप्रैल 2022 से मिलेगा। इसके लिए खाते में राशि मई महीने में आएगी।

इस मामले में अल्पसंख्यक मामले के मंत्री शाले मोहम्मद का कहना है कि बजट में की गई घोषणा के बाद इस पर क्रियान्वयन का कार्य तेजी से किया जा रहा। मानदेय वृद्धि और सीएम की घोषणा मामला विभाग बड़ी गंभीरता से ले रहा है। वहीं कार्यरत पैरा टीचर्स को 20 फीसद वृद्धि की घोषणा की गई है। विभाग ने अप्रैल 2022 से मानदेय वृद्धि की बात कही थी।

Read More: सीएम शिवराज की बड़ी घोषणा, MP में जल्द शुरू होगी यह योजना, हजारों छात्रों-बेरोजगार युवाओं को मिलेगा लाभ

इसके बाद अप्रैल 2022 के पैरा टीचर्स के वेतन में वृद्धि देखी जाएगी। सभी शिक्षकों के खाते में मानदेय के वृद्धि की राशि जमा करने की कवायद शुरू कर दी गई है विभाग ने सभी जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी को निर्देश दिए हैं। वृद्धि की गई राशि को अप्रैल माह के वेतन के साथ मानदेय पैरा टीचर्स के खाते में जमा किया जाएगा।

बता दे इससे पहले बजट भाषण में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा विभिन्न विभागों में कार्यरत कर्मचारियों के मानदेय में 20 फीसद की वृद्धि की घोषणा की गई थी। जिसके बाद सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता, आशा कार्यकर्ता सहित आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सेविका और मध्यान भोजन रसोईया सहित ग्राम पंचायत के कार्यरत कर्मचारियों के मानदेय में वृद्धि की बात कही गई थी। हालांकि गहलोत सरकार की घोषणा के एक महीने बाद आदेश जारी किए गए हैं।

इससे पहले पंजाब सरकार द्वारा आशा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं में भी वेतन वृद्धि की घोषणा की गई थी। इसके साथ-साथ मध्यान भोजन कार्यकर्ताओं को भी इसमें शामिल किया गया था। वहीं उनके राशि में ₹2500 रूपए की बढ़ोतरी की गई थी जबकि मध्यान भोजन कार्यकर्ता को पहले की तुलना में 800 रुपए अधिक मिलेंगे। इससे राज्य सरकार को 124.25 करोड रुपए का बोझ अतिरिक्त पड़ेगा।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका मध्यान भोजन रसोईया ग्राम रोजगार सहायकों के मानदेय में 20% की वृद्धि की घोषणा के आदेश जारी किए जा चुके हैं। इसके साथ ही पारा शिक्षकों के मानदेय में वृद्धि की घोषणा की गई है। गृह विभाग ने इसके लिए आदेश जारी किए हैं।