Indian Railways : यात्रियों के लिए खुशखबरी! ट्रेनों में अब परोसा जाएगा पका हुआ भोजन, इन बातों का रखे ध्यान

Indian Railway board ने इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) को सेवा फिर से शुरू करने के लिए कहा है।

सरकारी नौकरी

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। रेलवे बोर्ड (Indian Railway Board) ने ट्रेनों (trains) में यात्रियों को पका हुआ भोजन परोसना फिर से शुरू करने का आदेश जारी किया है। यह एक ऐसी सेवा जिसे कोरोना प्रतिबंधों (corona sanctions) के कारण बंद कर दिया गया था। रेलवे बोर्ड ने शुक्रवार को एक पत्र में इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) को सेवा फिर से शुरू करने के लिए कहा है।

रेलवे बोर्ड ने यह भी कहा कि यात्रियों को रेडी-टू-ईट (Ready-to-eat) भोजन भी परोसा जाता रहेगा। पत्र में कहा गया है कि खाने के लिए तैयार भोजन की सेवा भी जारी रहेगी। इस महीने की शुरुआत में, रेलवे ने महामारी के लिए लगाए गए विशेष टैग को वापस लेते हुए सामान्य ट्रेनों को चलाने की घोषणा की थी। भारतीय रेलवे बोर्ड ने ट्रेनों में पका हुआ भोजन परोसना फिर से शुरू करने का फैसला किया है। जिसे पहले कोरोना से संबंधित प्रतिबंधों के कारण बंद कर दिया गया था।

Read More: MPPSC: परीक्षा परिणाम का इंतजार कर रहे उम्मीदवारों के लिए बड़ी खबर, देखें कब तक आएगा रिजल्ट

पत्र में कहा गया है सामान्य ट्रेन सेवाओं की बहाली, यात्रा करने वाले यात्रियों की आवश्यकताओं और देश भर के भोजनालयों, रेस्तरां, होटलों और ऐसे अन्य स्थानों में कोविड लॉकडाउन प्रतिबंधों में ढील के मद्देनजर, रेल मंत्रालय द्वारा ट्रेनों में पके भोजन की सेवाओं को फिर से शुरू करने का निर्णय लिया गया है। खाने के लिए तैयार भोजन की सेवा भी जारी रहेगी। हाल ही में, नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने भी एयरलाइंस को सभी घरेलू उड़ानों में भोजन परोसने की अनुमति दी है।

भारत के कोरोनानियंत्रण में हैं, पिछले कुछ दिनों से औसत दैनिक मामले लगभग 10,000-15,000 के आसपास हैं। इस महीने की शुरुआत में रेलवे ने महामारी के लिए लगाए गए विशेष टैग को वापस लेते हुए सामान्य ट्रेनों को चलाने की घोषणा की थी।

रेलवे ने जोनल रेलवे को लिखे पत्र में कहा है कि ट्रेनों को अब उनके नियमित नंबरों के साथ संचालित किया जाएगा और किराए सामान्य पूर्व-कोविड कीमतों पर वापस आ जाएंगे। विशेष ट्रेनों के संचालन और रियायतों के बिना, रेलवे के राजस्व में पर्याप्त वृद्धि देखी गई है। इसने पहली की तुलना में 2021-2022 की दूसरी तिमाही के दौरान यात्री खंड से आय में 113% की वृद्धि दर्ज की।