TCS और Infosys आईटी कंपनियों पर गिरी गाज! मध्यप्रदेश के लोगों को रोजगार नहीं देने पर प्रशासन ने भेजा नोटिस

प्रशासन ने नोटिस में दोनों कंपनियों को 23 जुलाई तक दिए गए रोजगार की जानकारी देने के लिए कहा है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। इंदौर में राज्य शासन द्वारा टीसीएस और इंफोसिस कंपनी को सुपर कारिडोर पर जमीन दी गई है जिसके बावजूद यहां प्रदेश के लोगों को रोजगार नहीं मिल रहा है, वहीं इसके चलते अब दोनो आईटी कंपनी को नोटिस जारी किया गया है। सुपर कॉरिडोर में रियायती दरों में जमीन लेने के बाद भी मध्यप्रदेश के 50 फीसदी लोगों को रोजगार नहीं देने पर प्रशासन ने आइटी कंपनी टीसीएस और इंफोसिस को नोटिस दिया है। कंपनियों को तय समयावधि में परिसर में 10 लाख वर्गफीट निर्माण भी करना था, लेकिन एक तिहाई पर ही काम हुआ। प्रशासन ने दोनों कंपनियों को 23 जुलाई तक दिए गए रोजगार की जानकारी देने के लिए कहा है।

ये भी पढ़ें- क्या है शुक्ल पक्ष की देवशयनि एकादशी का महत्व आइए जानें । 

दरअसल राज्य शासन द्वारा सुपर कारिडोर पर दोनों कंपनियों को कुल 230 एकड़ जमीन दी थी। जिसमें सुपर कारिडोर पर इंफोसिस को 130 एकड़ जमीन दी गई थी। इसमें शासन ने 13 हजार प्रदेशवासियों को रोजगार देने की शर्त रखी थी, लेकिन रोजगार सिर्फ 672 लोगों को ही मिल पाया। टीसीएस कंपनी को भी 15 हजार लोगों को रोजगार देना था, लेकिन साढ़े चार हजार लोगों को ही रोजगार दिया।

ये भी पढ़ें- जबलपुर: MP High Court में अन्य राज्यों की अपेक्षा प्रदेश में हो रहे महंगे कोरोना उपचार को लेकर दायर की गई याचिका

सीएम शिवराज ने की थी अपील

बीते दिनों प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इंदौर शहर में धन्यवाद इंदौर कार्यक्रम में भी कोरोना महामारी के दौरान कई लोगों का रोजगार चले जाने से टीसीएस और इंफोसिस जैसी नामी IT कंपनियों के रवैए पर नाखुशी जताई थी जिसके लिये उन्होंने कंपनी से रोजगार देने को लेकर अपील की थी।