MP:लापरवाही पर बड़ा एक्शन, वार्ड प्रभारी समेत 5 निलंबित, 4 की सेवा समाप्त, 4 का वेतन काटा, 27 कर्मचारियों को नोटिस

प्रभारियों शिवराम धूलिया तथा सुरेश फकीरा एवं एक मेट दीनू तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। वही सब इंजीनियर पवन गर्ग को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

MP NEWS

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश में लापरवाही पर एक बार फिर बड़ी कार्रवाई की गई है। मुरैना कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी बी कार्तिकेयन ने मतदाता पर्ची वितरण मामले में लापरवाही बरतने दो कर्मचारियों वार्ड क्रमांक 12 के सहायक ग्रेड-3 अनिल शाक्य, वार्ड 25 के एआरआई नरोत्तम पचौरी को निलंबित कर दिया है वही चार कर्मचारियों वार्ड क्रमांक 32 के लिये एआरआई रामकुमार कुशवाह, सहायक ग्रेड-3 अखिलेष श्रीवास्तव, वार्ड क्रमांक 20 के लिये उप स्वास्थ्य पर्यवेक्षक शिवम् उपाध्याय और वार्ड क्रमांक 13 के लिये उप स्वास्थ्य पर्यवेक्षक नीरज सिकरवार का वेतन दो-दो दिवस का काटने के निर्देश दिए है।

यह भी पढे.. सरकारी कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, अब करना होगा ऑनलाइन आवेदन, पोर्टल पर डाटा अपलोड

इसके साथ ही वार्ड क्रमांक 18 के लिये रोजगार सहायक रामलखन राजपूत, वार्ड क्रमांक 12 के लिये सफाई दरोगा रामलखन, वार्ड क्रमांक 35 के लिये रोजगार सहायक राजवीर यादव और वार्ड क्रमांक 2 के लिये सचिव राधा बल्लभ की सेवा समाप्ति का नोटिस जारी किया है। वही श्योपुर कलेक्टर शिवम वर्मा ने बारिश में वार्डों के कामों में लापरवाही बरतने पर दो वार्ड प्रभारियों शिवराम धूलिया तथा सुरेश फकीरा एवं एक मेट दीनू तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। वही सब इंजीनियर पवन गर्ग को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

खरगोन में सार्थक एप पर उपस्थिति दर्ज नहीं कराने पर सीएमएचओ डॉ. डीएस चौहान ने 18 कर्मचारियों को कारण बताओ सूचना पत्र थमाया है। इसमें 7 सीएचओ, 10 एएनएम व 1 एमपीडब्ल्यू शामिल है। कर्मचारियों को सूचना के 3 दिन में बीएमओ की टीप सहित लिखित पक्ष प्रस्तुत करना होगा, अन्यथा संबंधित दिनों का वेतन काटने की कार्रवाई की होगी। इसके अलावा 280 कर्मचारियों के सार्थक एप पर विलंब से उपस्थिति दर्ज कराने पर चेतावनी पत्र भी जारी किया गया है।जारी किए चेतावनी पत्र में 107 सीएचओ, 164 एएनएम व 9 एमपीडब्ल्यू शामिल है। वही कर्मचारियों को चेतावनी दी है कि ड्यूटी निर्धारित समय का पालन कर समय पर सार्थक एप पर उपस्थिति दर्ज करवाए। एप पर उपस्थिति दर्ज नहीं कराने पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढे.. MP के किसानों को बड़ी राहत, फसल बीमा की प्रक्रिया में बदलाव! अब ऐसे मिलेगा राशि का लाभ

इसके अलावा बड़वानी में सहायक पंजीयक सहकारी संस्थाएं सुरेश सांवले ने सेंधवा की 8 सहकारी संस्थाओं राजीव गांधी सहकारी संस्था सेंधवा, जयभारत सहकारी संस्था सेंधवा, जयभारती सहकारी संस्था सेंधवा, महालक्ष्मी सहकारी संस्था सेंधवा, श्यामा सहकारी संस्था सेंधवा, महिला प्राथमिक सहकारी संस्था सेंधवा, जय लक्ष्मी महिला सहकारी संस्था सेंधवा, मां मथुरा महिला सहकारी संस्था सेंधवा अंतिम शोकाज नोटिस जारी किया है।

यह नोटिस लेखा वर्ष समाप्ति के दो माह की अवधि में वित्तीय पत्रक संपरीक्षक को उपलब्ध न करवाने पर जारी किया गया है।साथ ही 20 जुलाई को स्पष्टीकरण के साथ पत्रक पेश करने के निर्देश दिए हैं। जवाब ना देने पर अध्यक्ष को पद से हटाने के साथ वैतनिक कर्मचारी के खिलाफ 50 हजार रुपए जुर्माना लगाने की चेतावनी दी है। सहकारी संस्था से प्राप्त जानकारी को अंतिम शोकाज नोटिस जारी किया गया है।संस्थाओं के अध्यक्ष व वैतनिक कर्मचारी को 20 जुलाई को सप्रमाण सहित सहायक पंजीयक कार्यालय उपस्थित होना होगा वरना कार्रवाई की जाएगी।