भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। MP Board 10वीं के परीक्षा परिणाम आज घोषित कर दिए गए हैं। स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने सिंगल क्लिक परिणाम घोषित किया। इस साल 356000 छात्रों को फर्स्ट डिवीजन मिला है। वहीं वहीं 397626 सेकेंड डिव‍ीजन में और 159871 छात्र थर्ड डिवीजन के साथ उत्तीर्ण हुए हैं। पहली बार ऐसा हुआ है कि न तो किसी छात्र को फेल किया गया और न ही सप्लीमेंट्री दी गई है। इस बार सभी छात्रों को पास किया गया है और कोई मेरिट लिस्ट भी जारी नहीं की गई। ये परिणाम आज शाम 4:00 बजे से MPBSE की वेबसाइट पर रिजल्ट चेक किया जा सकता है। MP Board 10वीं रिजल्ट 2021 की घोषणा मध्य प्रदेश बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन, MPBSE द्वारा की गई। MPBSE मैट्रिक रिजल्ट का इंतजार कर रहे छात्र mpresults.nic.in पर चेक कर सकते हैं। जिन छात्रों ने कक्षा 10 एमपी बोर्ड परीक्षा 2021 के लिए खुद को पंजीकृत किया था, वे MPBSE की आधिकारिक साइट – mpbse.nic.in के माध्यम से  परिणाम की जांच कर सकते हैं।

Result यहाँ देखें

परिणाम घोषित होने के ठीक बाद MP Board परीक्षा 2021 10 वीं का परिणाम लिंक सक्रिय हो गया है। MPBSE 10वीं रिजल्ट 2021 को गूगल प्ले पर MPBSE एप के जरिए मोबाइल पर भी चेक किया जा सकता है। एमपी बोर्ड की 10वीं की परीक्षा के लिए इस साल करीब 11 लाख छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। corona के कारण राज्य में कक्षा 10 और 12 दोनों के लिए एमपी बोर्ड परीक्षा 2021 रद्द कर दी गई थी।

MP Board 10वीं की परीक्षा में उत्तीर्ण होने के लिए छात्रों को हर विषय में 33 प्रतिशत की आवश्यकता होती है। इसके साथ ही, छात्रों को MP Board 10वीं रिजल्ट 2021 में कुल स्कोर के रूप में 33% स्कोर करने की भी आवश्यकता होगी। स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार आज शाम 4 बजे माध्यमिक शिक्षा मंडल मे सिंगल क्लिक से कक्षा 10वीं का रिजल्ट जारी करेगे। विद्यार्थी और अभिभावक एमपी बोर्ड के पोर्टल https://mpbse.mponline.gov.in, http://mpbse.nic.in, http://mpresults.nic.in पर रिजल्ट देख सकते है। बोर्ड ने कहा कि कुछ अनौपचारिक वेबसाइटें हैं, जिनका उपयोग छात्र अपने परिणामों की जांच के लिए कर सकते हैं।

Read More: खुशखबरी! सरकार ने कर्मचारियों को GPF पर दी बड़ी राहत

इस साल MP Board 10 के परिणाम की गणना बोर्ड द्वारा जारी एक निर्धारित मूल्यांकन मानदंड के आधार पर की गई है। उस मानदंड के अनुसार, प्रत्येक छात्र के अंकों की गणना 100 में से की गई है। अंकों का वितरण इस प्रकार किया गया है- प्री-बोर्ड परीक्षा में 50% वेटेज दिया गया है, यूनिट टेस्ट को 30% वेटेज और 20% वेटेज आंतरिक मूल्यांकन के लिए दिया गया है।

इस बार MP Board कक्षा 10वीं के परीक्षा परिणाम में कोई टॉपर नहीं है और मेरिट सूची भी साझा नहीं की गई है। MP Board 10वीं की परीक्षा के लिए इस साल करीब 11 लाख छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। corona के कारण राज्य में कक्षा 10 और 12 दोनों के लिए MP Board परीक्षा 2021 रद्द कर दी गई थी।

वहीं सितंबर तक विशेष परीक्षा आयोजित करने का फैसला किया। यह उन छात्रों के लिए है जो अपने MPBSE परिणाम 2021 में प्राप्त अंकों से संतुष्ट नहीं हैं उनके लिए MP Board परीक्षा 2021 के लिए पंजीकरण जल्द ही आधिकारिक वेबसाइट mpbse.nic.in पर शुरू होगा। इसे 1 अगस्त से 10 अगस्त, 2021 तक ऑनलाइन किया जाना है। जहां MPBSE 10वीं रिजल्ट 2021 की घोषणा आज की गई, वहीं MP Board  12वीं रिजल्ट 2021 की तारीख अभी तय नहीं हुई है।

वहीं एमपी बोर्ड 10वीं की रिजल्ट की घोषणा से पहले छात्र यह जरूरी काम जरूर निपटा लें।

इसके अलावा परीक्षार्थी ध्यान रखें कि जो रिजल्ट की घोषणा के बाद अत्यधिक छात्रों द्वारा वेबसाइट ओपन करने के कारण वेबसाइट क्रैश हो सकती है या फिर उसमें कुछ तकनीकी दिक्कतें आ सकती है। ऐसे में छात्र फॉरेन रिजल्ट चेक करने का एक दूसरा ऑप्शन भी तलाश कर सकते हैं। एमपी बोर्ड हाई स्कूल स्टूडेंट्स एसएमएस के जरिए भी रिजल्ट चेक कर सकते हैं।

रिजल्ट जारी होने के बाद राज्य सरकार द्वारा दोबारा छात्रों को परीक्षा देने के विकल्प प्रदान किए गए हैं। यदि आपको लगता है कि आपको किसी विषय में कम अंक दिए गए हैं और आप इस विषय में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं तो रिजल्ट को बेहतर करने के लिए फिर से परीक्षा का ऑप्शन चुन सकते हैं। दरअसल रिजल्ट की घोषणा के बाद आमतौर पर स्ट्रीम के चयन में बच्चों को खासी परेशानी देखने को मिलती है। इसलिए 11वीं में प्रवेश करते समय आपको साइंस, कॉमर्स, आर्ट्स में से किसी एक को चुनना होगा। इन विषयों को चुनने से पहले हर स्ट्रीम की पूरी जानकारी प्राप्त कर ले। इसके आगे की संभावनाओं रुचि को देखते हुए छात्र अपने आगे के हित को देखते हुए स्ट्रीम का चयन करें।