MP Board : 9वीं से 12वीं के छात्रों के लिए बड़ी अपडेट, ब्लूप्रिंट-अंक विभाजन सहित प्रश्न पत्र पर नवीन जानकारी, छात्रों के लिए जानना जरुरी

वही वस्तुनिष्ठ प्रश्नों को छोड़कर अन्य सभी प्रश्नों के आंतरिक विकल्प का भी प्रावधान सुनिश्चित किया गया है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एमपी बोर्ड के छात्रों (MP Board Students) के लिए महत्वपूर्ण अपडेट है। दरअसल वर्ष 2022-23 में बोर्ड परीक्षार्थियों के लिए ब्लूप्रिंट (Blueprint) जारी किया गया है। इस ब्लू प्रिंट के साथ ही कई बड़ी अपडेट्स सामने आई है। नए सत्र 2022-23 मई माध्यमिक शिक्षा मंडल (MPBSE) द्वारा वार्षिक परीक्षा प्रश्न पत्र  (Exam paper) में भी बदलाव किया गया है। ब्लूप्रिंट देखकर स्पष्ट होता है कि कक्षा 9वीं के प्रश्न पत्र 100 नंबर के ना होकर 75 नंबर के बनाए जाएंगे। वहीं इसके लिए 22 प्रश्न पूछे जाएंगे।

जबकि अन्य विषयों के लिए प्रश्न नंबर की संख्या भी अलग-अलग निर्धारित की गई है। जानकारी के मुताबिक 1 से 4 तक 33 वस्तुनिष्ठ प्रश्न होंगे। सही विकल्प स्थान-सही जोड़ी और वाक्य से संबंधित प्रश्न और उत्तर देना अनिवार्य होंगे। इसके अलावा रिक्त स्थान और एक वाक्य में उत्तर के लिए 7-7 अंक और सही विकल्प पर सही जोड़ों के लिए 8 अंक निर्धारित किए गए हैं।

वही वस्तुनिष्ठ प्रश्नों को छोड़कर अन्य सभी प्रश्नों के आंतरिक विकल्प का भी प्रावधान सुनिश्चित किया गया है। विकल्प समान इकाई-उप इकाई और सम्मान कठिनाई अस्तर वाले होंगे। इन प्रश्नों के उत्तर की सीमा भी निर्धारित की गई है। अति लघु उत्तरीय प्रश्न दो अंक के होंगे। जिसके लिए सब सिम अधिकतम 30 वर्ष निर्धारित की गई है जबकि 3 अंक के लघु उत्तरीय प्रश्न के लिए अधिकतम शब्द सीमा 75 शब्द वही चार अंक के विश्लेषक प्रश्न के लिए अधिकतम शब्द सीमा 120 शब्द निर्धारित की गई है।

Read More : Today Rashifal 13 July 2022 : गुरु पूर्णिमा पर मिथुन-सिंह के लिए बरसेगी कृपा, मेष-तुला-मीन को रखना होगा स्वास्थ्य का ध्यान, जानें क्या कहते हैं सितारे

वही कठिनाई स्तर के 40% सरल प्रश्न, 45% सामान्य प्रश्न के अलावा 15% कठिन प्रश्न भी पूछे जाएंगे। बता दें कि कक्षा नौवीं के प्रैक्टिकल परीक्षा के लिए छात्रों को 25 अंक निर्धारित किए गए हैं। कक्षा दसवीं की बात करें तो उनके भी प्रश्न पत्र में बदलाव किया गया। दसवीं के नए प्रश्न पत्र 75 अंक के होंगे जबकि प्रैक्टिकल परीक्षा 25 अंक की होगी। कक्षा दसवीं के प्रश्न पत्र 100 अंकों के बनाए जाते हैं लेकिन अब बोलने से घटाकर 75 किया है। पास होने के लिए छात्रों को 33 अंकों से कम लाना अनिवार्य होगा।

कक्षा 11वीं के प्रश्न पत्र होम एग्जाम के तहत निर्धारित की गई है। जिसे अपने अपने स्तर पर आयोजित किया जाता है। इसके लिए प्रश्न पत्र 80 अंक के तैयार होंगे। वही ऐसे विषय जिनके प्रश्न पत्र संघ तरंगों के बनाए जाते थे। उनके प्रश्न पत्र इस वर्ष भी 70 अंक के ही तैयार किए जाएंगे।

12वीं के ब्लूप्रिंट की बात करें तो 100 अंकों के बनाए जाने वाले प्रश्न पत्र अब 80 अंक के बनाए जाएंगे। वहीं जिन प्रश्नों के प्रश्न पत्र 70 अंक के बनाए जाते थे। इस वर्ष भी उसे 70 अंक का ही निर्धारित किया गया है। जिन जिन विषयों की प्रैक्टिकल परीक्षा होनी है। उन्हें 80 अंक वाले प्रश्न पत्रों में 20 अंक की परीक्षा होगी जबकि 70 अंक वाले प्रश्न पत्र में 30 अंक की प्रायोगिक परीक्षा आयोजित की जाएगी।