MP Board : 9वीं से 12वीं के छात्रों के लिए महत्वपूर्ण सूचना, नियम में बदलाव, ब्लू प्रिंट-अंक गणना पर नई अपडेट

इससे पहले छात्रों को सुविधा उपलब्ध कराई जाती थी। जिसमें परीक्षा शुरू होने के 1 दिन पूर्व तक छात्र विषय-बदलाव कर सकते थे।

mp board 10th-12th 2022

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एमपी बोर्ड छात्रों (MP Board Students) के लिए बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल 9वीं से 12वीं तक के परीक्षा रिजल्ट-एडमिट कार्ड (Exam result-admit card) में त्रुटि को कम करने के लिए अब माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा नई तैयारी की जा रही है। उसके लिए नियम में कुछ बदलाव भी किए जा रहे हैं। जानकारी के मुताबिक अब अंतिम तिथि के 7 दिन पहले डमी प्रवेश पत्र (Dummy admit card) और नामांकन पत्र जारी किए जाएंगे ताकि छात्रों के लिए होने वाली मार्कशीट और एडमिट कार्ड में त्रुटि की समस्या को तुरंत हल किया जा सके।

माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा प्रवेश नीति 2022 से जारी किया गया है। जिसमें कई दिशा निर्देश दिए गए हैं। बोर्ड के जनसंपर्क अधिकारी मुकेश मालवीय की माने तो इस बार बोर्ड परीक्षा फॉर्म के आवेदन में बदलाव करते हुए बड़े दिशा निर्देश सामने आए हैं। राज्य शिक्षा बोर्ड ने निर्देश दिया है कि छात्रों को डमी एडमिट कार्ड और नामांकन कार्ड जारी किए जाएंगे ताकि किसी भी त्रुटि को तुरंत सुधारा जा सके। डमी एडमिट कार्ड स्कूल के प्रिंसिपल द्वारा डाउनलोड किया जाएगा और छात्रों को वितरित किया जाएगा।

Read More : MP News : लापरवाही पर बड़ा एक्शन, BLO-रोजगार सहायक सहित 9 निलंबित, 1 बर्खास्त, 25 को नोटिस जारी

इतना ही नहीं एडमिट कार्ड और नामांकन कार्ड में संशोधन करने के बाद प्राचार्य को घोषणा पत्र बोर्ड को भेजना होगा। वही बोर्ड के अधिकारियों की माने तो इस बार परीक्षा के समय न तो एडमिट कार्ड में और ना ही किसी विषय में किसी तरह के संशोधन किए जाएंगे। वही इस सत्र से एक नई तरह की सुविधा भी शुरू की गई है जिसके मुताबिक एमपी बोर्ड के 10वीं 12वीं के छात्र परीक्षा के समय विषय चुनाव में किसी भी तरह का बदलाव नहीं कर सकेंगे। बता दें कि इससे पहले छात्रों को सुविधा उपलब्ध कराई जाती थी। जिसमें परीक्षा शुरू होने के 1 दिन पूर्व तक छात्र विषय-बदलाव कर सकते थे।

इधर 9वी कक्षा के प्रवेश को लेकर भी बड़ी अपडेट सामने आई है। दरअसल स्कूल में शामिल होने वाली 9वी कक्षा के छात्र 15 जुलाई से 30 सितंबर तक स्कूल में दाखिला ले सकेंगे। नामांकन के आधार पर छात्र 15 जुलाई से 30 सितंबर तक 10वीं परीक्षा की परीक्षा (Exam form) का फॉर्म भरने की पात्रता रखेंगे। वहीं अंतिम तिथि के बाद परीक्षा फॉर्म भरने पर छात्रों को ₹10000 विलम्ब शुल्क अदा करनी होगी।

इससे पहले माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा 9वीं से 12वीं तक के छात्रों के लिए ब्लूप्रिंट (Blueprint) जारी किया गया है। जिसे छात्र माध्यमिक शिक्षा मंडल की ऑफिशियल वेबसाइट पर देख सकते हैं। ब्लूप्रिंट के आधार पर प्रश्न पत्र बनाने के दौरान अब 40% वस्तुनिष्ठ प्रश्न के अलावा 40% पूरक प्रश्न और 20% विश्लेषणात्मक प्रश्न पूछे जाएंगे।

नौवीं और दसवीं के पेपर 75-75 अंक के होंगे जबकि 11वीं और 12वीं के पेपर 80 नंबर के रखे गए। 11वीं प्रोजेक्ट प्रैक्टिकल के आधार पर अंकों की संख्या में परिवर्तन किया जा सकेगा। वही प्रैक्टिकल प्रोजेक्ट को लेकर भी नवीन नोटिस जारी किया गया। जिसके मुताबिक 9वी और 12वीं के लिए 5 अंक त्रैमासिक, 5 अर्धवार्षिक परीक्षा और 15 नंबर प्रोजेक्ट में शामिल किए जाएंगे। जिसके बाद प्रायोगिक परीक्षा कुल 25 अंकों की आयोजित की जाएगी।