MP Board: 10वीं-12वीं के छात्रों के लिए नई अपडेट, रिजल्ट में हो सकती है देरी, ये है कारण

10वीं-12वीं के रिजल्ट में देरी हो सकती है, क्योकि अबतक सिर्फ 50% कॉपियों का मूल्यांकन (10th-12th copies evaluation) हो पाया है, ऐसे में रिजल्ट के मई तक जारी होने की संभावना है।

mp board mpbse

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।MP Board MPBSE 10th-12th. मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (MP Board of Secondary Education) के 10वीं और 12वीं के छात्रों के लिए बड़ी खबर है। 10वीं-12वीं के रिजल्ट में देरी हो सकती है, क्योकि अबतक सिर्फ 50% कॉपियों का मूल्यांकन (10th-12th copies evaluation) हो पाया है, ऐसे में रिजल्ट के मई तक जारी होने की संभावना है। पहले कहा जा रहा था कि अप्रैल के तीसरे सप्ताह यानि 20 अप्रैल के आसपास रिजल्ट जारी किया जा सकता है।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों को मार्च अंत में मिलेगी गुड न्यूज! सैलरी में आएगा बंपर उछाल, जानें कितनी होगी बढ़ोतरी

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, MP Board के 10वीं-12वीं के छात्रों की कापियों का मूल्यांकन 50 फीसदी भी नहीं हो पाया है और मार्च का महीना बीतने को है, वही दूसरी तरफ लोक शिक्षण संचालनालय ने 28 मार्च से 11वीं की कक्षाएं शुरू करने के आदेश जारी किया हैं। वही अन्य कक्षाओं की वार्षिक परीक्षाएं चल रही है जो अप्रैल तक खत्म होंगी, ऐसे में शिक्षकों की ड्यूटी लगाई जाएगी, जिससे 10वीं-12वीं के रिजल्ट (MP Board 10th-12th Result) पर भी प्रभाव पड़ेगा।वही स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा  शैक्षणिक कैलेंडर भी तैयार नहीं हुआ है और यह स्पष्ट नहीं किया गया है कि नवीन शैक्षणिक सत्र कब से शुरू होगा।

दरअसल, दसवीं-बारहवीं के छात्रों की कॉपियां का मूल्याकंन 5 मार्च से शुरू हुआ है और अबतक केवल 50% भी कॉपियां चेक नहीं हो पाई है।10वीं-12वीं में करीब 18 लाख छात्र शामिल हुए थे, जिनकी करीब 1 करोड़ से ज्यादा कॉपियों जांची जानी है, हालांकि मूल्यांकन कार्य में स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा 30000 शिक्षकों की नियुक्ति की गई है, जिन्हें मूल्यांकन के बाद कॉपी के नंबर तुरंत मंडल की वेबसाइट पर दर्ज करना है, वही अन्य परीक्षाओं के चलते शिक्षकों की ड्यूटी प्रभावित होगी,  ऐसे में संभावना कम है कि अप्रैल तक रिजल्ट जारी हो सके, इसमें देरी हो सकती है और मई में परिणाम जारी किए जा सकते है।हालांकि लोक शिक्षण संचालनालय (Directorate of Public Instruction) द्वारा अतिथि शिक्षकों की मदद लेने की बात कहीं जा रही है।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, सरकार ने जारी किया ये फरमान, छुट्टियां भी रद्द

बता दे कि 12वीं की परीक्षा 17 फरवरी से 12 मार्च 2022 और 10वीं की परीक्षा 18 फरवरी से 10 मार्च 2022 तक आयोजित की गई थी। इस बार 10वीं और 12वीं की परीक्षा में कुल 18 लाख छात्र शामिल हुए थे ।इसमें 10वीं में 10 लाख से ज्यादा और 12वीं में 7 लाख से ज्यादा छात्र शामिल हुए। हाई स्कूल और उच्चतर माध्यमिक परीक्षाओं के लिए, 80 अंक थ्योरी सब्जेक्ट्स के लिए और 20 नंबर प्रैक्टिकल और प्रोजेक्ट वर्क के लिए दिए जाएंगे।रिजल्ट घोषित होने के बाद एमपी बोर्ड परिणाम वेबसाइट्स mpresults.nic.in, mpbse.nic.in पर उपलब्ध होगा।

पुनर्मूल्यांकन का मिलेगा मौका

10वीं और 12वीं के परिणाम 2022 घोषित होने के बाद बोर्ड कंपार्टमेंट परीक्षाओं की घोषणा होगी।इसका मतलब ये है कि उम्मीदवार जो परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए आवश्यक न्यूनतम अंक हासिल नहीं कर पाते हैं वे कंपार्टमेंट परीक्षाओं के लिए आवेदन कर सकते हैं, अक्सर कंपार्टमेंट परीक्षा परिणाम घोषित होने के तुरंत बाद आयोजित की जाती है ताकि छात्र को परीक्षा उत्तीर्ण करने का मौका मिले और आगे की प्रवेश प्रक्रियाओं के लिए आवेदन कर सकें। उम्मीदवार जो परीक्षाओं के लिए उपस्थित हुए हैं, लेकिन किसी भी गलती के लिए अपनी उत्तर पुस्तिकाओं की जांच करवाना चाहते हैं, वे पुनर्मूल्यांकन प्रक्रिया के लिए आवेदन कर सकते हैं।

ऐसे कर सकते है चेक

  • आधिकारिक वेबसाइट- mpresults.nic.in, mpbse.nic.in पर जाएं।
  • 10वीं, 12वीं के परीक्षा परिणाम 2022 पर क्लिक करें।
  • अपना रोल नंबर और जन्मतिथि का प्रयोग करें।
  • एमपी बोर्ड 10वीं, 12वीं के नतीजे स्क्रीन पर आ जाएंगे।
  • एमपी बोर्ड 10 वीं, 12 वीं के स्कोर कार्ड डाउनलोड करें, प्रिंट आउट लें।