Menstrual Leave पर MP Breaking News की वीमेन पॉलिटेक्निक गवर्नमेंट कॉलेज की महिलाओं के साथ खास चर्चा, व्यापकता से इस विषय को उठाने की अपील

एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ अन्य मीडिया संस्थान सहित अन्य कंपनियों से भी महिला कर्मचारियों के हित में इस व्यवस्था को लागू करने की अपील करता है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एक सकारात्मक बदलाव कई नवीन बदलाव की कहानी गढ़ता है। वैसा ही एक सकारात्मक कदम मीडिया संस्थान एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ (MP Breaking News) द्वारा उठाया गया है। स्त्रीहित सहित महिला कर्मचारियों (Women employees) के लिए समाज के प्रोटोकॉल को संशोधित करते हुए महिलाओं को महीने में 2 दिन पीरियड लीव (menstrual leave) दिए जाने की घोषणा की गई है एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ के इस निर्णय को एक तरफ जहां समाज के प्रतिष्ठित लोगों द्वारा सराहा गया है। वहीं दूसरी तरफ मीडिया संस्थान (Media Organisation) अन्य जगहों पर भी इस बदलाव की अपेक्षा करता है। इसी बीच इस बदलाव की सूत्रधार रहीं श्रुति कुशवाहा (shruty Kushwaha) द्वारा भोपाल के विमेन पॉलिटेक्निक गवर्नमेंट कॉलेज (Women Polytechnic Government College) में इस विषय पर चर्चा की गई।

Menstrual Leave पर MP Breaking News की वीमेन पॉलिटेक्निक गवर्नमेंट कॉलेज की महिलाओं के साथ खास चर्चा, व्यापकता से इस विषय को उठाने की अपील

दरअसल विमेन पॉलिटेक्निक गवर्नमेंट कॉलेज, भोपाल की तरफ से डॉक्टर नीलू वर्मा द्वारा श्रुति कुशवाहा को सराहनीय कार्य पर बधाई देने के अलावा इस मुद्दे पर खुलकर चर्चा करने के लिए आमंत्रित किया गया था। जिसमें महिला पॉलिटेक्निक शासकीय कॉलेज भोपाल की डॉक्टर नीलू वर्मा (Dr. Neelu verma) के अलावा डॉ आरती ठाकुर, डॉ अंजू चौरसिया, डॉक्टर भावना जायसवाल, आरती लाड, पुष्पा वासवानी सहित अन्य महिलाएं शामिल रहीं।

Menstrual Leave पर MP Breaking News की वीमेन पॉलिटेक्निक गवर्नमेंट कॉलेज की महिलाओं के साथ खास चर्चा, व्यापकता से इस विषय को उठाने की अपील

शासकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज की महिला कर्मचारियों द्वारा एक तरफ जहां इस कार्य को सराहा गया है। वहीं दूसरी तरफ श्रुति कुशवाहा द्वारा विषय को व्यापकता से फैलाने सहित अन्य शासकीय विभागों और व्यवसायिक कंपनियों में व्यवस्था को लागू करने की अपील की गई है।

Menstrual Leave पर MP Breaking News की वीमेन पॉलिटेक्निक गवर्नमेंट कॉलेज की महिलाओं के साथ खास चर्चा, व्यापकता से इस विषय को उठाने की अपील

बता दें कि 2 दिन पूर्व मीडिया संस्थान एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ द्वारा अपनी महिला कर्मचारियों के लिए मेंस्ट्रुअल लीव की घोषणा की गई है। एक तरफ समाज जहां इन मुद्दों पर आज भी खुलकर बोलने से हिचकता है। ऐसे में मीडिया संस्थान द्वारा इस व्यवस्था को लागू करने पर निश्चय ही महिला कर्मचारी इस विषय पर खुलकर अपनी मांग रखेंगी। वहीं एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ अन्य मीडिया संस्थान सहित अन्य कंपनियों से भी महिला कर्मचारियों के हित में इस व्यवस्था को लागू करने की अपील करता है।