MP College : उच्च शिक्षा विभाग की बड़ी तैयारी, अगस्त से शुरू होगी प्रक्रिया, छात्रों को मिलेगा लाभ

साथ ही PG के थर्ड सेमेस्टर में प्रवेश से जुड़ी प्रक्रिया भी इसी तरह आयोजित की जाएगी।

mp student scholarship

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एमपी कॉलेज छात्रों (MP College Students)  के लिए महत्वपूर्ण अपडेट है। दरअसल छात्रों को अगली कक्षा में प्रमोट (promote) किया जाएगा। इसके लिए उच्च शिक्षा विभाग (higher education department) ने तैयारी पूरी कर ली है। अगले सप्ताह से छात्रों को प्रमोट करने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। उच्च शिक्षा विभाग ने प्रवेश नवीनीकरण (admission renewal) के लिए आदेश जारी किया है। जिसमें 1 से 30 अगस्त के बीच प्रथम और द्वितीय वर्ष के छात्रों को अगली कक्षा में प्रवेश दिया जाएगा।

हालांकि विभाग के इस आदेश से युद्ध के प्रथम सत्र के छात्रों के सामने समस्या खड़ी हो गई है। 18 अगस्त को उनकी परीक्षाएं आयोजित होगी। ऐसे में प्रवेश नवीनीकरण की प्रक्रिया उनके लिए मुश्किल नजर आ रही है। इधर 1 से 30 अगस्त तक UG के लिए बीकॉम, बीएससी, BA के प्रथम और द्वितीय वर्ष के छात्रों को अगली कक्षा में प्रवेश दिया जाएगा। वही प्रक्रिया कॉलेज स्तर पर शुरू की जाएगी। साथ ही PG के थर्ड सेमेस्टर में प्रवेश से जुड़ी प्रक्रिया भी इसी तरह आयोजित की जाएगी।

Read More :  MPPSC : आयोग ने जारी किया नोटिफिकेशन, विभिन्न पदों पर होगी भर्ती, 6 अगस्त से शुरू होंगे आवेदन, जानें पात्रता और नियम

मामले में अधिकारियों का कहना है कि सभी छात्रों को अस्थाई प्रवेश दिया जा रहा है। वहीं इस अस्थाई प्रवेश के लिए फीस की 20 फीसद राशि देना अनिवार्य होगा। परीक्षा परिणाम की घोषणा के बाद छात्र बाकी की राशि जमा कर सकेंगे।वहीं अब छात्रों की परीक्षा को लेकर विभाग समय अवधि में बदलाव करता है या पूर्व के समय की भांति ही प्रक्रिया आयोजित की जाती है, यह तो वक्त ही बताएगा लेकिन उच्च शिक्षा विभाग में यूजी सेकंड ईयर और पीजी थर्ड सेमेस्टर के प्रवेश नवीनीकरण के लिए सभी कॉलेजों को निर्देश जारी कर दिए हैं।

इससे पहले मुझे प्रदेश के उच्च शिक्षा विभाग द्वारा छात्रवृत्ति में बड़ा फैसला लिया गया था। जहां निजी और शासकीय कॉलेजों से रोजगार प्राप्त छात्रों की जानकारी की मांग की गई थी। उच्च शिक्षा विभाग में शासकीय शासकीय सहित महाविद्यालय से रोजगार, स्वरोजगार और प्लेसमेंट प्राप्त छात्रों की जानकारी उपलब्ध कराने को कहा है।

इससे एक तरफ जहां विश्वविद्यालय और महाविद्यालय का आकलन किया जाएगा। वही इस डेटा का उपयोग उच्च शिक्षा विभाग शिक्षा व्यवस्था को सुदृढ़ करने भी कर सकता है। एमपी के सभी 56 विश्वविद्यालयों और 1360 कॉलेजों द्वारा प्लेसमेंट और रोजगार स्वरोजगार की जानकारी प्रति महीने आधिकारिक मेल आईडी पर उपलब्ध कराने की दिशा निर्देश दिए गए हैं।