MP College: उच्च शिक्षा विभाग का बड़ा फैसला, डिग्री चाहिए तो छात्रों को करना होगा ये काम

इसके लिए MP College Higher education department द्वारा मॉडल तैयार किया जा रहा है।

mp college

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP) में उच्च शिक्षा विभाग (higher education department) ने छात्रों को लेकर बड़ी तैयारी की है। दरअसल प्रदेश को हरा भरा रखने और पर्यावरणीय तौर पर सुदृढ़ बनाने के लिए MP College उच्च शिक्षा विभाग ने सभी छात्रों को कम से कम एक पौधा लगाना अनिवार्य किया है।

उच्च शिक्षा विभाग ने तैयारी की है कि छात्रों को कॉलेज से डिग्री (degree) तभी उपलब्ध कराई जाएगी। जब वह कॉलेज में रहते हुए एक पौधा लगाएंगे। इसके लिए छात्रों को पौधा लगाने के बाद उसके साथ अपनी सेल्फी (selfie) उसे संबंधित लिंक पर भेजना होगा। पौधे की देखरेख भी करनी होगी। यह पहल पर्यावरण दृष्टि से मध्यप्रदेश को सुदृढ़ करने के लिए की जा रही है।

इस मामले में उच्च शिक्षा विभाग का कहना है कि छात्रों के लिए यह पहल अनूठी साबित होने वाली है। दरअसल इससे एक तरफ जहां छात्रों का पर्यावरण से जुड़ा होगा। वहीं दूसरी तरफ वह पेड़ पौधे के महत्व को समझेंगे। साथ ही पौधे की देखरेख करेंगे और पेड़ को कटने से बचाने के साथ पर्यावरण संरक्षण में अपना महत्वपूर्ण योगदान भी देंगे।

Read More : MP Police Recruitment 2021- कांस्टेबल और SI पदों पर निकली वेकैंसी, 1 लाख तक सैलरी, करें अप्लाई

वहीं नई शिक्षा नीति के तहत देश में पर्यावरण की महत्ता को समझते हुए मल्टी एंट्री और एक्जिस्ट का प्रावधान किया गया जिससे छात्रों को अधिक से अधिक पौधारोपण के लिए प्रेरित किया जाएगा। इसके अलावा उन्हें सामाजिक रूप से पर्यावरण को सूचित करने की तैयारियों के बारे में बताया जाएगा।

मामले में उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव (Mohan Yadav) ने कहा कि कम से कम एक पौधा लगाने के बाद छात्रों को डिग्री मिलेगी। इसके लिए मॉडल तैयार किया जा रहा है। MP College के प्राचार्य को भी इसकी जानकारी दी जा रही है। इसका मुख्य उद्देश्य पर्यावरण के प्रति लोगों को जागरुक करना और पर्यावरण का संरक्षण करना है।

बता दें कि मध्य प्रदेश में UG और PG को मिलाकर कुल 11 लाख से अधिक छात्र-छात्राएं हैं। ऐसे में यदि इन छात्र-छात्राओं का 50% भी पौधारोपण करें तो मध्यप्रदेश पर्यावरणीय दृष्टि से पर्यावरण संरक्षण में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे सकते हैं। इसके लिए MP College Higher education department द्वारा मॉडल तैयार किया जा रहा है।