MP: कोरोना के केसों ने बढ़ाई चिंता, CM Shivraj ने बुलाई आपात बैठक, पाबंदियों पर विचार संभव

मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार Corona की तीसरी संभावित लहर को देखकर किसी भी तरह के जोखिम से बचना चाहती है।

Shivraj Singh Chauhan

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (MP) में कोरोना (corona) सहित वायरल बुखार (viral fever) ने शिवराज सरकार (shivraj government) की चिंता बढ़ा दी है। दरअसल कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj singh chauhan) ने गुरुवार को आपात बैठक (emergency meeting) बुलाई है। यह बैठक 1 घंटे तक चलेगी। इसमें मध्यप्रदेश में कुछ पाबंदियों पर विचार किया जा सकता है।

दरअसल महाराष्ट्र से सटे होने के कारण मध्यप्रदेश में कोरोना के लगातार बढ़ रहे केस चिंता का विषय बन गए हैं। जबलपुर में सबसे ज्यादा मामले देखने को मिल रहे हैं। जिसके बाद गुरुवार को आपात बैठक बुलाने के साथ ही साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj) ने जिला कलेक्टर को गाइडलाइन (guideline) के समुचित पालन और पाबंदियों को जारी रखने के निर्देश दिए हैं।

Read More: VIDEO VIRAL: बच्चे के सामने महिला कॉन्स्टेबल संग अफसर की अश्लील हरकत, DGP का एक्शन

वही सीएम शिवराज ने कहा कि सरकार अभियान चला रही है। जनता के सहयोग से जिले, ब्लॉक और पंचायत में क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी द्वारा लोगों पर नजर रखी जा रही है। वहीं Mask को अनिवार्य कर दिया गया है। मध्य प्रदेश में करोड़ों लोगों को वैक्सिनेशन (vaccination) दिए जा चुके हैं।

वही माना जा रहा है कि आज होने वाली बैठक में मध्यप्रदेश में फिर से कुछ पाबंदियों को जोड़ा जा सकता है। इसके अलावा मध्यप्रदेश में डेंगू (dengue) का असर एक बार दोबारा दिखने लगा है। डेंगू और चिकनगुनिया के वायरस तेजी से फैल रहे हैं। राजधानी भोपाल में 9000 से अधिक घरों में लार्वा देखने को मिला है।

ज्ञात हो कि देश में कोरोना के 70% केस केरल और महाराष्ट्र से देखने को मिल रहे हैं। मध्य प्रदेश में होने के कारण महाराष्ट्र से लोगों का आवागमन जारी है जिससे मध्यप्रदेश में एक बार फिर से कोरोना के समय बढ़ोतरी देखी जा रही है। मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार Corona की तीसरी संभावित लहर को देखकर किसी भी तरह के जोखिम से बचना चाहती है।