MP : विभाग की नई व्यवस्था, ऑनलाइन भेजी जाएगी कमीशन की राशि, सिंगल क्लिक के माध्यम से होगी अंतरित

मामले में खाद विभाग के अफसरों का कहना है कि डिजिटल लेनदेन को देखते हुए निर्णय लिया गया है।

LIC POLICY

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (MP) में अब सिंगल क्लिक (Single click) के माध्यम से विभागों (department) को राशि अंतरित की जाएगी। दरअसल राशन दुकान संचालकों (ration shop operators) द्वारा फ़ूड और सिविल सप्लाई विभाग (Food and Civil Supplies Department) को भेजी जाने वाली राशि सिंगल क्लिक से उनके खाते में पहुंचेगी। इसके लिए प्रदेश भर के 25000 से अधिक राशन दुकानों के वसूल खाते एक निजी बैंक में खोले गए हैं। साथ ही पूरी तैयारी कर ली गई है। इससे पहले विभाग को भेजे जाने वाली राशि कई बार उन्हें देरी से प्राप्त होती थी। जिसके बाद यह नवाचार किया गया है।

अप्रैल महीने से काम शुरू कर दिया गया फ़ूड और सिविल सप्लाई विभाग को दुकान खोलने से सीधा लाभ मिलेगा। बचत खाते का असर सेल्समैन के कमीशन पर देखने को मिला है। खाता खोलने से प्रदेशभर के सेल्समैन के कमीशन अटक गया। कमीशन नहीं मिलने की वजह से समय के लिए जारी आवंटित राशन की राशि जमा करने में असमर्थ हो रहे हैं। इस मामले में अफसरों का कहना है कि सॉफ्टवेयर में अपडेशन किया जा रहा है। अगले महीने से ऑनलाइन कमीशन भी ट्रांसफर किया जा सकेगा।

विभाग द्वारा ने आवंटन के लिए राशि जमा करने में दिक्कत ना हो। इसके लिए नवाचार किया गया है। साथ ही दुकानदारों को निजी बैंक में बचत खाते खुले गए हैं। हालांकि जारी आवंटन की पूरी राशि दुकानदारों के खाते में एकमुश्त जमा की जाएगी। हालांकि कमीशन के भुगतान में आ रही दिक्कत को देखते हुए राशन दुकानदारों को मई माह का आवंटन जारी कर दिया गया लेकिन पैसा जमा करने का संकट भी उनके सामने आ गया।

Read More : MP News : बारात रिटर्न – पुलिस ने किया दुल्हन बनी युवती की गन्दी तस्वीर वायरल करने वाले को गिरफ्तार

इससे पहले मार्च महीने में राशन दुकानों को एक नंबर जारी किया गया था। जिसमें सभी के खाते में एक रूपए ट्रांसफर कराए गए थे। इसके लिए नए निर्देश जारी किए गए कि सभी को आवंटित राशन की एकमुश्त राशि वसूल खाते में जमा करनी होगी। साथ ही कमीशन 10 दिन बाद उन्हें ऑनलाइन भुगतान किया जाएगा लेकिन 21 दिन बाद भी अब तक उन्हें कमीशन नहीं मिल सका है। विभागीय अफसरों ने उम्मीद जताई है कि मई महीने में राशन दुकानदारों को कमीशन का आवंटन कर दिया जाएगा।

मामले में खाद विभाग के अफसरों का कहना है कि डिजिटल लेनदेन को देखते हुए निर्णय लिया गया है। अब डीडी भेजने जैसी परेशानी से बचेंगे। वही ऑनलाइन राशि जमा करने के बाद इसके डाटा भी उपलब्ध होंगे। साथ ही समय की भी बचत होगी। इसमें शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में राशन दुकानों की राशि समय पर जमा की जा सकेगी। साथ ही सेल्समैन को भी ऑनलाइन ही कमीशन ट्रांसफर किया जाएगा।