🟢LIVE: ग्वालियर-चंबल में बिगड़े हालात, सीएम शिवराज का हवाई दौरा, ग्वालियर इंदौर मार्ग बंद

ग्वालियर, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के ग्वालियर-चम्बल संभाग (Gwalior-Chambal Division Flood) में भारी बारिश के चलते (heavy rain) बाढ़ के हालात लगातार बने हुए है। NDRF-SDRF की टीमें लगातार रेस्क्यू कर रही है और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी पल पल पर अपनी पैनी नजर जमाए हुए है। अब भी कई जिंदगियां खतरें में बनी हुई है और जनजीवन अस्तव्यस्त (MP Flood) हो गया है।सेना ने भी मोर्चा संभाल रखा है और खुद गृहमंत्री आज दतिया दौरे पर पहुंचे है।

यह भी पढ़े.. CG: स्वास्थ्य मंत्री के ट्वीट से गरमाई राजनीति, क्या जा सकती है सीएम की कुर्सी !

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर लिखा है कि चम्बल,क्वाँरी नदियों से प्रभावित मुरैना के 13 गांव बाढ़ ग्रस्त हैं। अब तक 250 से अधिक लोगों को सुरक्षित निकाला गया है और 200 व्यक्तियों के लिए बचाव कार्य जारी है। दतिया के 36 प्रभावित गांवों से अब तक 1100 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है और 45 व्यक्तियों हेतु अभियान जारी है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर लिखा है कि क्वाँरी, सीप, पार्वती नदियों में आई बाढ़ के कारण श्योपुर के 30 ग्राम बाढ़ प्रभावित हैं। अब तक लगभग 1000 से अधिक व्यक्तियों को सुरक्षित निकाल लिया गया है।वर्तमान में ग्राम जवालापुर, भेरावदा, मेवाड़ा, जातखेड़ा में फंसे लगभग 1 हजार लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए अभियान जारी है।

यह भी पढ़े..दलबदल का सिलसिला जारी, अब पूर्व मंत्री ने थामा कांग्रेस का हाथ, सियासी हलचल तेज

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने ट्वीट कर लिखा है कि प्रदेश में बाढ़ की स्थिति को लगातार मॉनिटर कर रहा हूं। अभी आई जी चंबल, आईजी ग्वालियर और बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र के जिला प्रशासन से फोन पर चर्चा की है।सभी स्थानों पर रेस्क्यू ऑपरेशन तेजी से चल रहा है। रातभर चले रेस्क्यू ऑपरेशन में काफी लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है।

MP BREAKING NEWS पर देखें पल-पल का अपडेट

  • ग्वालियर चम्बल संभाग के जिलों के बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों का हवाई दौरा कर वापस लौटे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने  कहा कि शिवपुरी, श्योपुर में नदियों में लगातार जलस्तर कम हो रहा है, लेकिन खतरा अभी पूरी तरीके से टला नहीं है, कई निचले इलाके हैं, जहां अभी पानी भरा हुआ है, सरकार की पहली प्राथमिकता सभी को सुरक्षित स्थान पर लाकर उनके रहने और खाने की व्यवस्था करना है वहीं चंबल नदी में लगातार बढ़ रहे जलस्तर पर कहा कि भिंड और मुरैना में खतरा अभी भी बरकरार है, यही कारण है कि इन दोनों जिलों के लिए अलग से सेना बुलाने को लेकर भी बात हो गई है।  नुकसान के आकलन के निर्देश भी दे दिए गए हैं, जो भी आर्थिक क्षति होगी, उसकी भरपाई करने का काम सरकार करेगी।
  • 🟢LIVE: ग्वालियर-चंबल में बिगड़े हालात, सीएम शिवराज का हवाई दौरा, ग्वालियर इंदौर मार्ग बंद 🟢LIVE: ग्वालियर-चंबल में बिगड़े हालात, सीएम शिवराज का हवाई दौरा, ग्वालियर इंदौर मार्ग बंद
  • मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राजकीय विमान से ग्वालियर के राजमाता विजयाराजे सिंधिया विमान तल पर पहुँचे। यहाँ से वे हैलीकॉप्टर से ग्वालियर और चंबल संभाग के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई जायजा लेने के लिए रवाना हुए। हवाई दौरे पर जाने से पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ग्वालियर संभाग के प्रशासन और एयरफोर्स हेलिकॉप्टर के पायलट से रेस्कयू ऑपेरशन के बारे में चर्चा की।
  • मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ग्वालियर, शिवपुरी, दतिया और श्योपुर जिले के रिठौरा, मारकोनी , नरवर , पुल्हा, जातखेड़ा,पाली, कोटरा, भहरावदा,काली पहाड़ी, मेवाड़ा ज्वालापुर , जलपरी भितरवार सहित विभिन्न क्षेत्रों का हवाई दौरा किया और ग्वालियर विमानतल पर वापस लौट कर चम्बल नदी हैलीकॉप्टर से रवाना हो गए ।
  • 🟢LIVE: ग्वालियर-चंबल में बिगड़े हालात, सीएम शिवराज का हवाई दौरा, ग्वालियर इंदौर मार्ग बंद
  • सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि बारिश का वेग ज़रूर कम हो गया है, लेकिन मौसम उत्तर की दिशा में शिफ्ट हो रहा है। मुझे विश्वास है कि भयानक बारिश नहीं होगी, हम जनता को राहत पहुँचाने के प्रयास लगातार कर रहे हैं। व्यवस्थाएँ पुनः सुदृढ़ हों, आज से इसके प्रयास भी किये जायेंगे।उत्तरी मध्यप्रदेश में बाढ़ की स्थिति गंभीर है। शिवपुरी, श्योपुर, दतिया, ग्वालियर, गुना, भिंड और मुरैना ज़िलों के 1,225 गाँव प्रभावित हैं। 240 गाँव में NDRF-SDRF , भारतीय सेना, @BSF_India ने मिलकर लगभग 5,950 लोगों को सुरक्षित निकालने में सफलता प्राप्त की है।
  • भिंड जिले में सिंध नदी का जलस्तर लगातार तेजी से बढ़ता जा रहा है । लोगों की मानें तो अब तक के इतिहास में इतना जल स्तर कभी नहीं बढ़ा सिंध नदी का । अब तक नदी का जलस्तर 12 मीटर तक पहुंच चुका है। देर रात तक इसके  15 मीटर तक पहुंचने का अंदेशा जिला प्रशासन ने जताया है। जिला कलेक्टर डॉ सतीश कुमार और एसपी मनोज कुमार सिंह ने लोगों से सावधान रहने को कहा है।
  • सुबह से ही ग्राउंड जीरो पर कलेक्टर और एसपी मौजूद है। जिला प्रशासन का अमला और एनडीआरएफ, एसडीआरएफ होमगार्ड सेवा व जिला प्रशासन पुलिस के लोग राहत और बचाव कार्य हेतु लोगों के बीच मौजूद है।भिंड कलेक्टर डॉ सतीश कुमार एस ने नदी किनारे के गांवों के ग्रामवासियों से अपील की है कि अपना सामान या धन संपत्ति बचाने के चक्कर में अपनी जान जोखिम में ना डालें । जान है तो जहान है।
  • प्राप्त जानकारी के अनुसार #ग्वालियर #इंदौर मार्ग #अतिबृष्टि के कारण बाधित है।
  • दूसरी ओर चले की सरहद सीमा पर बहने वाली चंबल नदी का जलस्तर भी खतरे के निशान से 3 मीटर पर है नदी का जलस्तर का खतरे का निशान 122 मीटर है वही नदी वर्तमान में 125 मीटर पर उत्तर प्रदेश की सीमा बरही पर बह रही है। क्षेत्र के दामों में भी जिला प्रशासन ने अलर्ट घोषित कर दिया है और लोगों से सावधान रहने की अपील की है।जिले में से बहने वाली छोटी नदियां जैसे कि बेसली ,क्वारी और सोनभद्रका पहूज व आसन आदि नदियों का जलस्तर भी काफी ऊपर आ गया है इनके किनारों के भी करीब आधा सैकड़ा गांवों में जिला प्रशासन के द्वारा अलर्ट घोषित किया गया है और लोगों से सावधान रहने की अपील की गई है हर गांव में पटवारी और कोटवार को तत्काल शासन को सूचना करने के लिए तैनात किया गया है।
  • 🟢LIVE: ग्वालियर-चंबल में बिगड़े हालात, सीएम शिवराज का हवाई दौरा, ग्वालियर इंदौर मार्ग बंद 🟢LIVE: ग्वालियर-चंबल में बिगड़े हालात, सीएम शिवराज का हवाई दौरा, ग्वालियर इंदौर मार्ग बंद 🟢LIVE: ग्वालियर-चंबल में बिगड़े हालात, सीएम शिवराज का हवाई दौरा, ग्वालियर इंदौर मार्ग बंद
  • दतिया जिले से खबर आ रही है कि पानी के तेज बहाव के कारण जिले के सेंवढ़ा में सनकुआ के पास वाला पुल भी बह गया, पालक झपकते  ही आधा पुल पानी  में समा गया।
  • ग्वालियर जिले की बीएसएफ टेकनपुर के प्रधान आरक्षक देवेंद्र गिरी और आरक्षक सादिक मोटर बोट के साथ  भितरवार रवाना हुए थे ग्राम धूमेश्वर पवाया मैं रात्रि 3:30 बजे से सुबह 6:30 बजे तक रेस्क्यू किया गया था जिसमें महिला पुरुष बच्चे करीब 25 लोगों को बाढ़ से निकाला गया। उधर 18 महार रेजीमेंट के मेजर महेश कुमार ठाकुर टीम को लेकर भितरवार रवाना हुए , टीम में 50 लोग हैं आज सुबह लोहारी गांव और अन्य गांव में रेस्क्यू किया जा रहा है महिला पुरुष बच्चे और पशुओं को निकाला जा रहा है।
  • 🟢LIVE: ग्वालियर-चंबल में बिगड़े हालात, सीएम शिवराज का हवाई दौरा, ग्वालियर इंदौर मार्ग बंद
  • 🟢LIVE: ग्वालियर-चंबल में बिगड़े हालात, सीएम शिवराज का हवाई दौरा, ग्वालियर इंदौर मार्ग बंद 🟢LIVE: ग्वालियर-चंबल में बिगड़े हालात, सीएम शिवराज का हवाई दौरा, ग्वालियर इंदौर मार्ग बंद
  • लगातार तीन दिनों से हो रही बारिश के चलते जहां काफी लोगों के फंसने की जानकारी मिल रही है और सेना सहित एनडीआरएफ एसडीआरएफ की टीमें लगातार फंसे हुए लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा रही हैं वहीँ  पानी के बहाव से रेलवे ट्रैक भी प्रभावित हो रहे हैं।  शिवपुरी से मोहना जाने वाली रेलवे ट्रैक पर पानी भरने से रेलवे ट्रैक की नीचे की सारी बजरी, गिट्टी पानी के तेज बहाव से बह गई।
  • शिवपुरी-कोलारस गोरा टीला सिंध नदी के रपटे के टापू पर डायमंड कंस्ट्रक्शन कंपनी के लगभग 40 मजदूर फंसे है  प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुँच चुके हैं, कोलारस के पूर्व विधायक महेंद्र सिंह यादव, एसडीएम गणेश जायसवाल, एसडीओपी अमर नाथ वर्मा, नगर निरीक्षक संजय मिश्रा, जनपद सीईओ ऑफिसर सिंह गुर्जर, चंदू श्रीवास्तव युवा नेता रुद्राक्ष गौड़ सहित प्रशासन अमले के साथ एनडीआरफ की भी टीम मौके पर  है लेकिन पानी का बहाव तेज होने के कारण अभी रेस्क्यू करने में दिक्कत रही है। टीम के अनुसार पानी का वहाव कम होने के बाद किया जाएगा रेक्सयू
  • गृह मंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री से मध्यप्रदेश में बाढ़ की स्थिति की जानकारी ली है। गृह मंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से बाढ़ की स्थिति पर फोन पर विस्तृत चर्चा की।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गृह मंत्री अमित शाह जी को मध्यप्रदेश में बाढ़ की वर्तमान स्थिति और बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में रेस्क्यू ऑपरेशन के बारे में बताया है ।
  • मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लोगो को रेस्कयू करने में केंद्र सरकार द्वारा मिले सहयोग के लिए गृहमंत्री अमित शाह जी को धन्यवाद दिया।गृह मंत्री अमित शाह जी ने मुख्यमंत्री को आश्वस्त किया कि केंद्र मध्यप्रदेश के साथ है और लोगो को रेस्क्यू करने में जहां जैसी जो भी आवश्यकता होगी उसमें केंद्र द्वारा पूरा सहयोग किया जाएगा
  • चम्बल,क्वाँरी नदियों से प्रभावित मुरैना के 13 गांव बाढ़ ग्रस्त हैं। अब तक 250 से अधिक लोगों को सुरक्षित निकाला गया है और 200 व्यक्तियों के लिए बचाव कार्य जारी है। दतिया के 36 प्रभावित गांवों से अब तक 1100 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है और 45 व्यक्तियों हेतु अभियान जारी है।
  • मप्र के शिवपुरी में भारी बारिश के बीच। रिहाइसी इलाके में निकले मगरमच्छ।लोगों ने पकड़ा सेल्फी ली। फोटो व वीडियो बनाएं।
  • 🟢LIVE: ग्वालियर-चंबल में बिगड़े हालात, सीएम शिवराज का हवाई दौरा, ग्वालियर इंदौर मार्ग बंद
  • मुख्यमंत्री ने ग्वालियर कलेक्टर के फोन पर चर्चा कर बाढ़ की स्थिति और रेस्क्यू की जानकारी ली
    ।कलेक्टर ने बताया कि स्थिति नियंत्रण में है ।बीएसएफ की मदद से देर रात पवाया भितरवार से 20 लोगों को सुरक्षित जगह पर पहुंचाया गया है जिसमें ज्यादातर महिलाएं और बच्चे हैं ।मुख्यमंत्री ने बीएसएफ के जवानों की प्रशंसा की है
  • क्वाँरी, सीप, पार्वती नदियों में आई बाढ़ के कारण श्योपुर के 30 ग्राम बाढ़ प्रभावित हैं। अब तक लगभग 1000 से अधिक व्यक्तियों को सुरक्षित निकाल लिया गया है।वर्तमान में ग्राम जवालापुर, भेरावदा, मेवाड़ा, जातखेड़ा में फंसे लगभग 1 हजार लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए अभियान जारी है।
  • 🟢LIVE: ग्वालियर-चंबल में बिगड़े हालात, सीएम शिवराज का हवाई दौरा, ग्वालियर इंदौर मार्ग बंद
  • मड़ीखेड़ा डैम के 10 गेट खोले गए हैं और लगातार पानी छोड़ा जा रहा है। इसी तरह अपर ककैटो, ककैटो डैम के भी गेट खोले गए हैं। हरसी डैम से लगातार पानी पार्वती व सिंध नदी में छोड़ा जा रहा है। इन डैम से लगातार पानी आने के कारण ग्वालियर के तिघरा डैम जिसमें तल तक पानी सूख चुका था वहां जलस्तर अब 726 फीट से ज्यादा पानी हो गया है।
  • गृह मंत्री
  • अति वर्षा के चलते बाढ़ का क़हर। सिंध नदी से लगे कई गाँवों में रेस्क्यू जारी। लोगों को हेलिकॉप्टर की सहायता से निकाला जा रहा है सुरक्षित।गृह मंत्री के कोटरा,पाली पहुँचने के बाद रेस्क्यू शुरू। पाली क्षेत्र के कई ग्रामीण को डबरा में उतारा सुरक्षित। जीवन की आस छोड़ चुके थे ग्रामीण और मासूम बच्चे,भितरवार में सेना द्वारा रेस्क्यू शुरू। पलायछा में ग्रामीणों को बचाने में जुटे जवान
  • श्योपुर- ग्राम प्रभावित – 30

व्यक्ति जिन्हें सुरक्षित निकाला गया -1000-1500 अनुमानित
वर्तमान में लगभग 1000 व्यक्तियों को सुरक्षित निकालने के लिए आप्रेशन जारी है ।(ग्राम जवालापुर, भेरावदा, मेवाडा, जातखेड़ा)

  • मुरैना
    ग्राम प्रभावित – 13
    व्यक्ति जिन्हें सुरक्षित निकाला गया – 250-300
    वर्तमान में 200 व्यक्तियों को सुरक्षित निकालने के लिए आप्रेशन जारी है ।
  • दतिया
    ग्राम प्रभावित – 36
    व्यक्ति जिन्हें सुरक्षित निकाला गया – 1100
    वर्तमान में 45 व्यक्तियों को सुरक्षित निकालने के लिए आप्रेशन जारी है ।( ग्राम पाली, कोटरा चौकी)
  • भिंड
    ग्राम प्रभावित – 25
    व्यक्ति जिन्हें सुरक्षित निकाला गया – 800
    वर्तमान में 7 व्यक्तियों को सुरक्षित निकालने के लिए आप्रेशन जारी है ।( ग्राम गिरवसा)