शीतकालीन सर्वेक्षण की विस्तृत रिपोर्ट पेश, MP में पक्षियों की मिली 251 प्रजातियां

हालांकि शीतकालीन सर्वेक्षण रिपोर्ट की माने तो पेंच में 33 दुर्लभ प्रवासी पक्षियों की प्रजातियां भी पाई गई है

मध्यप्रदेश (MP) में शीतकालीन पक्षी सर्वेक्षण (winter bird survey) का कार्य 12 मई से शुरू हो गया है। 16 मई तक इस कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। इस दौरान पेंच टाइगर रिजर्व (Pench tiger reserve) में प्रथम चरण में शीतकालीन सर्वेक्षण की रिपोर्ट प्रस्तुत की गई है। वहीं सर्वेक्षण रिपोर्ट (survey report) की मानें तो पेश की जंगल में पक्षियों की 251 नई प्रजातियां पाई गई है। शीतकालीन पक्षी सर्वेक्षण कार्य वर्ल्ड फ्रॉम नेचर कंजर्वेंसी इंदौर के सहयोग से किया जा रहा है। वहीं इस के शुभारंभ के प्रथम चरण में विस्तृत रिपोर्ट का विमोचन बीते दिनों किया गया है।

रिपोर्ट की मानें तो 251 नई प्रजातियों में से पक्षियों की 236 संकट मुक्त प्रजातियां हैं। वहीं 9 प्रजातियां के निकट भविष्य संकट में है जबकि तीन ऐसी प्रजातियां है। जो संकटग्रस्त है जबकि तीन असुरक्षित श्रेणी में पाई जाने वाली पक्षी की प्रजाति है। हालांकि शीतकालीन सर्वेक्षण रिपोर्ट की माने तो पेंच में 33 दुर्लभ प्रवासी पक्षियों की प्रजातियां भी पाई गई है जबकि जल स्रोतों के आसपास रहने वाली प्रजातियों की संख्या 65 है।

Read More : SAHARA को झटका, पुलिस की गिरफ्तारी के बाद 4 डायरेक्टर्स की कोर्ट में पेशी, भेजा गया जेल

ज्ञात हो कि 27 से 30 जनवरी 2022 तक पेंच टाइगर रिजर्व के शीतकालीन पक्षी सर्वेक्षण का कार्य पूरा कराया गया था। इसमें 9 राज्य के 69 पक्षी विशेषज्ञ ने भाग लिया था। वही पेंच टाइगर रिजर्व की सभी नॉकोर और बाहरी क्षेत्रों में 35 जल के 11 बेस कैंप तैयार किए गए थे। इसमें सर्वेक्षण का कार्य पूरा हुआ था।

सर्वेक्षण से प्राप्त जानकारी पर विस्तृत रिपोर्ट 12 मई को ग्रीष्मकालीन पक्षी सर्वेक्षण के शुभारंभ के दौरान पेश किया गया था। जिसे क्षेत्र संचालक अशोक कुमार मिश्रा द्वारा जारी किया गया था। इस दौरान विभिन्न प्रांतों के 54 स्वयंसेवक पेंच टाइगर रिजर्व पहुंचे थे। वही बफर के सभी 9 वन परिक्षेत्र के जंगल के भी सघनता पूर्व भ्रमण कर ग्रीष्म ऋतु में उपस्थित पक्षियों की प्रजातियों की पहचान कर उनका डाटा ई बर्ड एप्लीकेशन के मोबाइल में दर्ज किया गया।