खाद की कालाबाज़ारी पर सख्त MP सरकार, बोले Narottam- दोषियों पर लगेगी रासुका

Narottam Mishra ने कहा कि MP में संकट होगा भी तो सरकार सक्षम है क्योंकि यहा शिवराज सिंह की सरकार है।

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP) में खाद (fertilizer) की कमी और लगातार हो रही खाद की कमी और कालाबाजारी पर बीते दिनों पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (kamalnath) ने बीजेपी (bjp) सरकार पर निशाना साधा था। जिस पर अब प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने पलटवार किया है। नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि शायद कमलनाथ अपने 15 महीने वाले कार्यकाल में खाद संकट को भूल गए। जब विधायक, कई बार के सांसद लक्ष्मण सिंह खुद पर्ची काट रहे थे।

नरोत्तम मिश्रा ने कहा आपके विधायक खाद संकट को लेकर धरने पर बैठे थे। मध्य प्रदेश के गृहमंत्री ने खाद पर कालाबाजारी करने वालों को सख्त चेतावनी देते हुए कहा कि खाद पर कालाबाजारी करने वालों पर रासुका के तहत कार्रवाई की जाएगी। साथ ही डॉ मिश्र ने किसान भाइयों से अपील की खाद का संग्रहण ना करें और ना ही किसी भी प्रकार की चिंता करें। खाद की रैक रवाना हो गई है। अगले दो तीन दिवस के भीतर सभी किसान भाइयों को भरपूर मात्रा में खाद मिलेगी।

कमलनाथ जी के कोयला संकट वाले ट्वीट पर मध्यप्रदेश के गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्र ने कहा कि पिछले 14 दिनों से वह कह रहे हैं कि 4 दिन का कोयला बचा है और ऐसा सुनते सुनते 14 दिन हो गए। हमने पहले कहा था और अब भी कह रहे हैं कि केंद्र एवं राज्य सरकार चैतन्य है। हजारों मजदूर दिन और रात कोयले की खुदाई कर रहे हैं। मध्यप्रदेश में कोयले की पहली रैक आ चुकी है। कोई संकट नहीं है।

Read More: वर्दी में शराब पीते 2 ASI का वीडियो वायरल, SP ने की बड़ी कार्रवाई, चौकी प्रभारी भी गिरफ्त में

Narottam Mishra ने कहा कि MP में संकट होगा भी तो सरकार सक्षम है क्योंकि यहा शिवराज सिंह की सरकार है। डॉ मिश्र ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि कुछ ऐसे जीव होते हैं। जिनको अंधेरा प्रिय होता है। क्योंकि उनकी सरकारों में अंधेरा रहता था। यह सिर्फ बैठकर प्रदेश में समस्या का इंतजार करते हैं की कैसे भी समस्या हो जाए तो उनको ट्वीट करने का मौका मिल जाए।

नरोत्तम मिश्र ने कहा कि वर्षो तक कमलनाथ केंद्र में मंत्री रहे, मुख्यमंत्री रहे लेकिन कमलनाथ ने आज तक कोई समाधान नहीं बताया है।  वह चाहे कोरोना का समाधान हो, कोयला का समाधान हो या खाद का समाधान हो।  ये सिर्फ इंतजार करते रहते हैं कि कोई समस्या हो जाए प्रदेश में और इनको ट्वीट के माध्यम से भ्रम फैलाने का मौका मिल जाए। वह पक्षी है ना जो पानी के लिए बरसात का इंतजार करता है। इन लोगों की वैसे ही कमोवेश स्थिति है।

नरोत्तम मिश्रा ने प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि सभी प्रदेशवासी दुर्गा उत्सव और दशहरा पर्व Corona गाइडलाइन के अनुसार मनाएं। त्योहारों को लेकर किसी पर कोई भी कार्रवाई नहीं की जाएगी और इसको लेकर किसी भी प्रकार का भ्रम भी नहीं फैले।

यहाँ पढ़े गाइडलाइन : दुर्गा प्रतिमाओं के विसर्जन के लिए नई गाइडलाइन जारी, इन बातों का रखना होगा विशेष ध्यान