MP: 3 पंचायत सचिव समेत 4 निलंबित, CEO-CMO और सरपंच पर भी गाज, 13 को नोटिस

श्योपुर कलेक्टर (Sheopur collector) शिवम वर्मा द्वारा लाडपुरा पंचायत के सचिव सुग्रीव जाटव एवं बगडूआ पंचायत के सचिव पूरण जाट को निलंबित  कर दिया गया है।

mp

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश(MP News) में लापरवाही पर एक बार फिर गाज गिरी है।प्रदेश के अलग अलग जिलों में लापरवाह अधिकारियों-कर्मचारियों पर कार्रवाई की गई है।एक तरफ श्योपुर में 2 पंचायत सचिव और जनजातीय कार्य विभाग का शाखा प्रभारी के साथ धार में एक पंचायत सचिव को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।वही दूसरी तरफ श्योपुर में 4 पंचायत सचिवों, धार में 2 सचिव, 2 रोजगार सहायक एवं एक सरपंच, पन्ना में कर्मचारी, मुरैना में नगर पालिका CMO, तत्कालीन जनपद CEO और उमरिया में जिला प्रबंधक MPRDC को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

यह भी पढ़े.. MP School : कक्षा 1 से 8वीं के लिए बड़ी खबर, 90 सरकारी स्कूलों को होगा लाभ, निर्देश जारी

श्योपुर कलेक्टर (sheopur collector) शिवम वर्मा द्वारा लाडपुरा पंचायत के सचिव सुग्रीव जाटव एवं बगडूआ पंचायत के सचिव पूरण जाट को निलंबित  कर दिया गया है।यह कार्रवाई हितग्राही मूलक योजनाओं एवं पेंशन योजनाओं में लाभ नही दिये जाने के कारण की गई है।इसके अलावा जनजातीय कार्य विभाग श्योपुर में पदस्थ शाखा प्रभारी एवं प्राथमिक शिक्षक (Teacher) ललित साहू को तत्काल प्रभाव से निलंबित (Suspended) करते हुए विभागीय जांच सस्थित की गई है। निलंबन अवधि में साहू का मुख्यालय शासकीय उमावि (Government School) पहेला नियत किया गया है।

यह भी पढ़े.. MP News: आज दिल्ली रवाना होंगे CM Shivraj, केंद्रीय नेतृत्व सहित मंत्रियों से होगी मुलाकात

इसके अलावा योजनाओं में लापरवाही बरतने पर ग्राम पंचायत बगवाज, सूसवाडा, कलमी ककरधा एवं जलालपुरा के सचिवों को कारण बताओ नोटिस (Notice) जारी किये गये है। ग्राम पंचायत बगवाज के सचिव छोटे सिंह जादौन, सूसवाडा के सचिव सुरेश जोशी, कलमी ककरधा के सचिव कमलेश शर्मा एवं जलालपुर के सचिव मलखान गुर्जर को भी हितग्राही मूलक योजनाओं में लापरवाही तथा सहरिया महिलाओं को पोषण आहार राशि 1 हजार रूपये मासिक दिये जाने की योजना में रूचि नही लिये जाने के चलते कारण बताओ नोटिस जारी किये गये है।

धार में पंचायत सचिव निलंबित, 4 को नोटिस

धार के मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत (Dhar CEO) आशीष वशिष्ट ने जनपद पंचायत निसरपुर की ग्राम पंचायत निम्बोल के सचिव साधुराम फुलमाली को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। यह कार्रवाई ग्राम पंचायत निम्बोल के सचिव द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण अन्तर्गत अपात्र व्यक्ति के बैंक खाते में राशि जमा कराने तथा मुख्यमंत्री अन्त्येष्टि सहायता योजना अंतर्गत पात्र हितग्राही का आवेदन समयसीमा में प्रस्तुत न करने पर की गई है। निलंबन अवधि में इनको नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता रहेंगी। निलंबन अवधि में इनका मुख्यालय जनपद पंचायत तिरला नियत किया है।

वही धार मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत आशीष वशिष्ट ने जनपद पंचायत मनावर की ग्राम पंचायत टोंकी के सचिव एवं रोजगार सहायक तथा ग्राम पंचायत निगरानी के सरपंच, सचिव एवं रोजगार सहायक को कारण बताओ सूचना पत्र जारी किए है। इनमें जनपद पंचायत मनावर की ग्राम पंचायत टोंकी के सचिव राजाराम मुवेल, रोजगार सहायक नितीन सोनी तथा ग्राम पंचायत निगरानी के सरपंच दशरथ डावर, सचिव दीपसिंह मोर्य एवं रोजगार सहायक राकेश राठौर शामिल है।

यह भी पढ़े.. Good News : कर्मचारियों की जल्द बढ़ सकती है 300 प्रतिशत पेंशन, ऐसे समझे पूरा गणित

यह कार्रवाई समाचार पत्रों में प्रकाशित समाचार एवं सामाजिक अंकेक्षण विशेष ग्राम सभा में प्राप्त शिकायत पर की गई है। इस संबंध में ग्राम पंचायत निगरानी के सरपंच, सचिव एवं रोजगार सहायक को कारण बताओ सूचना पत्र जारी कर इनसे 8 लाख 59 हजार 523 रूपए वसूली की जाकर समक्ष में उपस्थित होकर प्रतिउत्तर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए है। प्रतिउत्तर संतोषजनक न होने की स्थिति में सचिव, रोजगार सहायक की सेवा समाप्ति और निलंबन की कार्यवाही की जावेगी।

पन्ना-उमरिया में भी एक्शन, कर्मचारी और जिला प्रबंधक MPRDC को नोटिस 

पन्ना में तहसीलदार एवं सहायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी सुधीर सिंह कुशवाह द्वारा निर्वाचन कार्य में लापरवाही बरतने वाले कर्मचारी आशीष कुमार बाजपेयी सहायक ग्रेड-3 को कारण बताओं नोटिस जारी किया गया। ​पत्र प्राप्ति के 3 दिवस के अंदर उत्तर प्रस्तुत करें। अन्यथा आपकी मौन स्वीकृति मानते हुये निर्वाचन नियमों के तहत दण्डानात्मक कार्यावाही प्रस्तावित की जायेगी।

यह भी पढ़े.. MP : 2 पंचायत सचिव समेत 7 कर्मचारी निलंबित, 4 को नोटिस, 3 ANM का वेतन काटा

इसके अलावा उमरिया कलेक्टर (Umaria Collector) संजीव श्रीवास्तव ने विभिन्न विभागों से सबंधित समय सीमा के पत्रों की विभागवार समीक्षा के दौरान समय सीमा की बैठक में उपस्थित नही होने वाले MPRDC के जिला प्रबंधक डी के स्वर्णकार को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्र्देश दिए गए है।इसके साथ ही साथ ही एमपीआरडीसी की सड़कों तथा पुल पुलियों का रख रखाव ठीक ढंग से नही करनें के कारण एमडी एमपीआरडीसी को पत्र लिखने के निर्देश दिए। पोस्ट पोस्ट मैट्रिक छात्रावासों में रहने वाले विद्यार्थियो के खाते नंबर से आधर नंबर लिंक करानें के निर्देश सहायक आयुक्त आदिवासी विकास को दिए।

नपा CMO और  तत्कालीन जनपद CEO को कारण बताओ नोटिस

मुरैना में ​शासन की महत्वाकांक्षी योजना पीएम स्वनिधि योजना (PM Svanidhi Scheme) में संतोषजनक प्रगति नहीं होनें, सीएम हेल्पलाइन में लंबित शिकायतों के निराकरण नहीं करने के आरोप में बानमौर नगर परिषद के मुख्य नगर पालिका अधिकारी सियाशरण यादव को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। यह नोटिस चंबल संभाग के कमिश्नर आशीष सक्सेना ने कलेक्टर मुरैना के प्रस्ताव पर दिया है।इस संबंध में पत्र प्राप्ति के 7 दिवस के अंदर स्पष्ट कारण लिखित में प्रस्तुत करें, अन्यथा नियमों के तहत सीएमओ बानमौर के खिलाफ एक पक्षीय कार्रवाही की जायेगी।

यह भी पढ़े.. MP Weather : आज 13 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, 5 संभागों में बिजली गिरने के आसार

वही मध्यप्रदेश शासन (MP Government) द्वारा संचालित सीएम हेल्पलाइन (CM Helpline) की लंबित शिकायतें समीक्षा में पाया गया कि तत्कालीन मुख्य कार्यपालन अधिकारी कैलारस अजय सिंह वर्मा ने स्वीकृति उपरांत भी राशि का भुगतान नहीं किया। इस पर चंबल संभाग के कमिश्नर (Chambal Divisional Commissioner) आशीष सक्सेना ने गंभीरता से लेते हुये तत्कालीन मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत कैलारस अयज सिंह वर्मा को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।निर्देशों में यह भी स्पष्ट किया कि पत्र प्राप्ति के 15 दिवस के अंदर कारण स्पष्ट करें, अन्यथा मध्यप्रदेश सिविल सेवा नियम 1966 के अन्तर्गत लघुशासित अधिरोपित की जायेगी। समयावधि के पश्चात् संबंधित के विरूद्ध एक पक्षीय कार्यवाही की जायेगी