MP Panchayat Election: नवंबर-दिसंबर में होंगे पंचायत चुनाव! 10 कलेक्टरों को दिया जाएगा प्रशिक्षण

वही पंचों के चुनाव मत पत्र के माध्यम से कराए जाएंगे।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP) में नवंबर और दिसंबर में पंचायत चुनाव (MP Panchayat Election) करवाए जाएंगे। इसके लिए आरक्षण की प्रक्रिया पूरी होने के बाद औपचारिक रूप से घोषणा की जाएगी। राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा अपने स्तर से चुनावी तैयारियों को पूरा कर लिया गया है। वहीं बाकी बचे तैयारियों पर राज्य निर्वाचन आयुक्त (state election commissioner) द्वारा जिला कलेक्टर को निर्देश दे दिए गए हैं। इसी बीच कुछ कलेक्टर ऐसे हैं, जिन्हें पंचायत चुनाव कराने का अनुभव नहीं है। ऐसे 10 कलेक्टरों (collectors) को अब राज्य निर्वाचन आयोग (state election commission) द्वारा प्रशिक्षण दिया जाएगा।

दरअसल पंचायत चुनाव को सफलतापूर्वक संपन्न कराने के लिए निर्वाचन आयोग अब इन 10 कलेक्टरों को चुनावी बारीकियां सिखाएगा। बीते दिनों राज्य निर्वाचन आयुक्त ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (video conferencing) के माध्यम से तैयारियों की समीक्षा की थी। इस दौरान कलेक्टरों से पंचायत चुनाव को लेकर कई तरह के सवाल पूछे गए थे। वही पंचायत चुनाव कराने का अनुभव नहीं पाते हुए आयुक्त ने कलेक्टरों को प्रशिक्षण की जरूरत बताई थी। इसके साथ ही साथ इन सभी कलेक्टरों की प्रशिक्षण की तैयारी शुरू कर दी गई है। कलेक्टरों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रशिक्षण देने का कार्य किया जाएगा।

बता दें कि मध्य प्रदेश में उपचुनाव (MP By-election) के बाद पंचायत चुनाव करवाए जाएंगे। दरअसल नगर निकाय चुनाव को लेकर मामला अभी भी कोर्ट में लंबित है। जिसके बाद राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा प्रदेश में पंचायत चुनाव कराने की तैयारी की जा रही है। 1 जनवरी 2020 के वोटर लिस्ट (voter list) के आधार पर कराए जाएंगे।

Read More: MP: इन कर्मचारियों को लगा बड़ा झटका, विभाग की सख्ती के बाद मूल विभाग में लौटने का फैसला

दरअसल प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव आयोजित करने पर बोलते हुए राज्य निर्वाचन आयुक्त ने कहा कि मध्यप्रदेश में corona की स्थिति अब नियंत्रण में है। ऐसे में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव कराने में किसी भी तरह की परेशानी नहीं है। वही संवेदनशील और अतिसंवेदनशील केंद्रों को चिन्हित करने का कार्य शुरू कर दिया गया है। साथ ही इन मतदान केंद्रों पर आवश्यक सुरक्षा उपलब्ध कराने की तैयारी भी की जा रही है।

कुछ जगह पर रिटर्निंग और सहायक रिटर्निंग ऑफिसर की नियुक्ति कर दी गई है जबकि कुछ जगह पर इनकी नियुक्ति जल्द ही की जाएगी। साथ ही जिला पंचायत सदस्य के नाम निर्देशन पत्र, बलॉक मुख्यालय और सरपंच और पंच के ब्लॉक और कलस्टर स्तर पर लिए जाएंगे।

वहीं प्रदेश में पृथ्वीपुर, जोबट और रैगांव विधानसभा चुनाव के बाद पंचायत की आरक्षण की प्रक्रिया को पूरी किया जाएगा। साथ ही 1 जनवरी 2020 की मतदाता सूची के आधार पर चुनाव आयोजित करवाए जाएंगे। प्रदेश में पंचायत चुनाव तीन चरणों में होंगे। पहले चरण में 7527, दूसरे चरण में 7571, तीसरे चरण में 8814 पंचायत चुनाव आयोजित किए जाएंगे। इसके अलावा जिला जनपद पंचायत के सदस्यों के बीच चुनाव होंगे। जिला और जनपद के चुनाव में ईवीएम के माध्यम से होंगे। वही पंचों के चुनाव मत पत्र के माध्यम से कराए जाएंगे।