MP पंचायत चुनाव : प्रथम चरण का मतदान शुरू, 52 हजार से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात, इन क्षेत्रों में आज नहीं होगी मतगणना

राज्य निर्वाचन आयोग ने पुलिस मोबाइल टीम का भी गठन किया है। किसी भी स्थिति निर्मित होने पर टीम तत्काल मतदान केंद्र पर पहुंचे और मामले को संभालेगी।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (MP Panchayat Elections) के पहले चरण का मतदान (first phase voting) आज शुरू हो गया। सुबह 7:00 बजे से मतदान की प्रक्रिया (voting) शुरू की गई है। वहीं दोपहर 3:00 बजे तक मतदान (polling) जारी रहेगा। प्रदेशभर के 1 करोड़ से अधिक मतदाता अपने मतदान का उपयोग करेंगे जबकि इंदौर में कुल 6,72318 मतदाता प्रथम चरण के चुनाव में मतदान करेंगे।

इंदौर – जिले में बारिश 17 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। जिनमें 212 को संवेदनशील और 70 को अति संवेदनशील मतदान केंद्र चिन्हित किया गया। वहीं केंद्र पर विशेष सुरक्षा व्यवस्था तैनात किए गए। मतदान केंद्र पर मतदान दलों को मतदान सामग्री वितरण करते समय कलेक्टर मनीष सिंह ने वेतन कार्य का जायजा लिया था। इस दौरान उन्होंने निष्पक्ष और निर्भीक शांतिपूर्ण तरीके से मतदान कराने के निर्देश अधिकारियों को दिए थे। इंदौर जिले से 17 जिला पंचायत सदस्य के 50 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं। जनपद सदस्य के 98 पदों के लिए 308 सरपंच के 314 पदों के लिए 1259 और 1342 पद के लिए 3345 उम्मीदवार अपना भाग्य आजमा रहे हैं।

जबलपुर –जबलपुर में बरगी सिहोरा पनागर और कुंडम जनपद पंचायत है। जिनके अंदर 270 ग्राम पंचायत आती है। इसके अलावा 84 जनपद सदस्य जिला पंचायत सदस्यों के क्षेत्र है। जिसके वजह से 256 सरपंच के अलावा 83 जनपद सरपंच और 10 जिला पंचायत के सदस्यों के लिए उम्मीदवार भाग्य आजमाएंगे। हालांकि चार जनपद पंचायतों में स्थित 14 सरपंच पदों का निर्विरोध निर्वाचन किया जा चुका है। जबलपुर में आज जिला पंचायत के 10 क्षेत्र के लिए वोट डाले जाएंगे। जिनमें 12345678 14-15 क्षेत्र शामिल हैं।

बता दें कि पंचायत चुनाव के प्रथम चरण के मतदान के बाद मतदान केंद्र पर ही मतगणना शुरु कर दी जाएगी। हालांकि 5 जिले से चिन्हित किए गए हैं। जिनपर अभी मतगणना नहीं होगी। भिंड मुरैना टीकमगढ़ सीधी और निवाड़ी में मतगणना 28 जून को होगी। राज्य निर्वाचन आयोग ने पुलिस मोबाइल टीम का भी गठन किया है। किसी भी स्थिति निर्मित होने पर टीम तत्काल मतदान केंद्र पर पहुंचे और मामले को संभालेगी।

Read More : MPPSC के उम्मीदवारों के लिए बड़ी खबर, संशोधित चयन सूची जारी, कई पदों पर होगी भर्ती

इस मामले में राज्य निर्वाचन आयोग ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि सुरक्षा व्यवस्था की दृष्टि से मतदान केंद्र स्तर की जगह विकासखंड मुख्यालय पर मतदान करना चाहते हैं तो इसकी अनुमति दी जा सकती है। 5 जिले द्वारा इसकी अनुमति मांगी गई थी जो प्रदान कर दी गई है। जिसकी वजह से भिंड मुरैना टीकमगढ़ निवाड़ी और सीधी जिले में पंच सरपंच, जनपद पंचायत सदस्य पद की मतों की गणना 28 जून को सुबह 8:00 बजे से शुरू होगी।

वही आज मतदान के लिए पंच, सरपंच, जनपद और जिला पंचायत सदस्य के लिए आयोग ने अलग-अलग रंग के मतपत्र तैयार किए हैं। पंच के लिए जहां सफेद मतपत्र, वहीं सरपंच के लिए नीला, जनपद सदस्य के लिए पीला और जिला पंचायत सदस्य के लिए गुलाबी रंग पत्र तैयार किया गया है।

वहीं पंचायत चुनाव के परिणामों की घोषणा 14 जुलाई को होनी है। इससे पहले तीन चरण के चुनाव होने। जिसमें पहले चरण का मतदान आज है। शांतिपूर्ण मतदान करवाने के लिए 52 हजार से अधिक पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। मतदान के दौरान स्थानीय निर्वाचन क्षेत्र में अवकाश घोषित किया गया है।

मामले में राज्य निर्वाचन आयुक्त चुनाव कार्य और तैयारियां पूरी की जा चुकी है। चुनावी ड्यूटी में लगे 400000 से अधिक कर्मचारी इस बार अपने डाक मतपत्र का उपयोग नहीं कर पाएंगे। दरअसल राज्य चुनाव आयोग की गाइडलाइन के मुताबिक इनकी वोटिंग का कोई प्रावधान नहीं किया गया है। जिसके कारण प्रदेश के करीब 4 लाख से अधिक कर्मचारी ऐसे हैं जो अपने वोटों का उपयोग नहीं कर पाएंगे।