MP School : शासकीय विद्यालय में बच्चों की जगह भैंस, DEO ने दिए कार्रवाई के निर्देश

DEO ने इस मामले में इंटीग्रेटेड स्कूल के लापता शिक्षकों को नोटिस (notice) जारी किया गया है। 

गुना, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना (corona) में डेढ़ साल बंद रहने के बाद पिछले महीने से स्कूल खुल गए हैं। स्कूल खुलने के बाद भी स्टाफ तक समय पर स्कूल (MP School) नहीं पहुंच रहे है। कई स्कूल ऐसे हैं, जहां परिसर में भैंसों को बांधा जाता है। गुना में ऐसे ही एक स्कूल की जानकारी शनिवार को सामने आई है। जिला शिक्षा अधिकारी (DEO) चंद्रशेखर सिसोदिया शनिवार को स्कूलों का निरीक्षण करने पहुंचे।

शनिवार को शासकीय विद्यालय सेमाराखेड़ा में DEO टीम के साथ पहुंचे। इस दौरान स्कूल में ताला लगा हुआ था। स्कूल परिसर में छात्र-छात्राओं की मौजूदगी नहीं थी, लेकिन भैंसें बंधी हुई थीं DEO ने इस मामले में इंटीग्रेटेड स्कूल के लापता शिक्षकों को नोटिस (notice) जारी किया गया है।

जिले के सरकारी स्कूलों में छात्र पहुंच रहे हैं, लेकिन शिक्षक नदारद हैं। DEO चंद्रशेखर सिंह सिसोदिया और सहायक सांख्यिकी अधिकारी अनिल भार्गव शनिवार को सरकारी स्कूलों का निरीक्षण करने पहुंचे। ग्रामीणों ने डीईओ को बताया कि शिक्षक स्कूल में पढ़ाने के लिए समय पर नहीं आते हैं।

Read More: कांग्रेस प्रत्याशी ने पुलिस पर लगाए हत्या की साजिश रचने का आरोप, कलेक्टर ने आरोपों को किया ख़ारिज

सरकारी स्कूल बालापुर में छात्र बड़ी संख्या में शिक्षकों का इंतजार कर रहे थे, लेकिन इस दौरान स्कूल में ताला लगा हुआ था। DEO ने छात्रों के साथ स्कूल बंद होने की फोटो खींची। इसके बाद प्रधानाध्यापक की ओर से शिक्षकों को नोटिस जारी किया गया है। छात्रों ने कहा कि साहब रोज शिक्षक देर से आते हैं। बालापुर सरकारी स्कूल में सुबह 11:30 बजे छात्र शिक्षकों का इंतजार कर रहे थे, लेकिन स्कूल में ताला लगा हुआ था।