MP: अनाथ बच्चों को लेकर संवेदनशील हुए Shivraj के मंत्री, स्वयं के खर्चे पर कर रहे ये बड़ा काम

भिण्ड, गणेश भारद्वाज। MP के लहार (lahar) के अमहा गांव के अनाथ बच्चो का मामले में प्रदेश के सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री अरविंद सिंह भदौरिया (arvind singh Bhadauria) ने संवेदनशीलता दिखाई है। Shivraj के मंत्री भदौरिया अब स्वयं के खर्च पर बच्चों के लिए आशियाना अमहा गांव में ही बनवाएंगे। पूर्व गृहमंत्री व लहार विधायक डॉ गोविंद सिंह (Dr. govind singh) के विधानसभा क्षेत्र भ्रमण के बाद मीडिया संज्ञान में यह मामला आया था। पिछले दिनों में मीडिया (media) ने जब यह खबर दिखाई तो प्रदेश सरकार के मंत्री अरविंद भदौरिया की संवेदनशीलता सामने आई।

इस बात की जानकारी वर्चुअल प्रेस वार्ता के माध्यम से सहकारिता मंत्री अरविन्द सिंह भदौरिया ने प्रेस को दी। ज्ञात हो कि गत 20 अगस्त को जब लहार विधायक डॉक्टर गोविंद सिंह अमहा गांव में अपने कार्यकर्ताओं से मिलने के लिए गए थे तो उन्हें यह बच्चे गांव में भीख मांगते हुए दिखाई दिए। जिस पर सिंह ने इनके बारे जानकारी ली तो उनका दिल दहल गया उन्होंने दो हजार रुपये की प्रथम दृष्टया सहायता इन बच्चों की।

Read More: Transfer: मप्र में बड़े स्तर पर हुए अधिकारियों के तबादले, यहां देखे लिस्ट

इसके अलावा अपनी विधायक निधि से 20 हजार और कुछ गांव के धनाढ्य लोगों से 20 हजार की मदद के अलावा कुछ ठेकेदारों से भी मदद करवाई। साथ ही सिंह ने गांव के सरपंच को निर्देश दिया कि इन बच्चों के लिए दूध की व्यवस्था भी वह करवाएं। जिसका जो भी खर्चा होगा वह स्वयं उठाएंगे। इसके बाद यह मामला मीडिया के प्रकाश में आया और मीडिया ने कोरोना काल में इन बच्चों के माता-पिता की मौत होने का मामला देशभर में दिखाया तो शासन प्रशासन भी सक्रिय हुआ और इन बच्चों को सहायता पहुंचाई।

MP: अनाथ बच्चों को लेकर संवेदनशील हुए Shivraj के मंत्री, स्वयं के खर्चे पर कर रहे ये बड़ा काम

इसके साथ ही में जब टेलीविजन पर यह खबर प्रदेश के सहकारिता मंत्री और स्थानीय अटेर विधानसभा से विधायक अरविंद सिंह भदौरिया ने देखी तो उनका मन भी पिघल गया और उन्होंने बच्चों के आशियाने के लिए स्वयं के खर्च पर मकान बनाने की बात आज मीडिया के सामने कहीं। श्री भदौरिया के इस संवेदनशीलता के लिए मीडिया के मित्रों ने भी उनका हृदय से आभार व्यक्त किया।