सीएम शिवराज की बड़ी घोषणा, गांव-गांव बस संचालन से आमजन को मिलेगा लाभ, मिलेगी 5000 की प्रोत्साहन राशि

महिलाओं को वाहन चलाने का प्रशिक्षण दिया जायेगा। कुशल ड्रायवर तैयार करने के लिये 'ड्रायवर टेस्टिंग ट्रेक' तैयार किये जायेंगे।

विदिशा, डेस्क रिपोर्ट। सीएम शिवराज (CM Shivraj) ने MP की जनता के लिए बड़े ऐलान किए हैं। दरअसल ट्रांसपोर्ट (MP Transport) के घाटे की पूर्ति के लिए अब राज्य शासन द्वारा राशि का भुगतान किया जाएगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj) ने विदिशा जिले के गांव को जिले से जुड़ने  ग्रामीण परिवहन सेवा की शुरुआत की है। वहीं विकास कार्यों का लोकार्पण करते हुए CM शिवराज ने कहा कि अब गांव के लिए बस चलेगी और लोगों को इसका लाभ मिलेगा।  उन्होंने महिलाओं के लिए बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि महिला ड्राइवर के लिए उन्हें प्रशिक्षण दिया जाएगा।

वहीं राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि 1 महीने में 3000 किलोमीटर संचालन पर परिवहन करता को ₹5000 की प्रोत्साहन राशि उपलब्ध कराई जाएगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश के गाँव-गाँव में सड़कों का जाल तो बिछ गया है, परंतु अभी ग्रामीण क्षेत्रों में आने-जाने के लिये यात्रियों को अच्छी परिवहन सेवा नहीं मिल पा रही है। सरकार द्वारा आज ‘ग्रामीण परिवहन सेवा’ का शुभारंभ ग्राम कागपुर से किया जा रहा है। धीरे-धीरे इस सेवा का विस्तार पूरे मध्यप्रदेश में कर दिया जायेगा। अब गाँव-गाँव बसें चलेंगी और यात्री आराम से बसों में बैठकर यात्रा करेंगे।

सीएम शिवराज ने कहा कि ट्रांसपोर्टर्स को छोटे रूट पर बस चलाने में घाटा होता है, जिससे वे वहाँ बसें नहीं चलाते। सरकार ने निर्णय लिया है कि उन्हें इन रूटों पर बस चलाने के लिये सरकार सहायता एवं सहूलियत देगी, जिससे वे लाभ अर्जित कर पायेंगे। यह अभूतपूर्व ग्रामीण परिवहन योजना है। सुदूर ग्रामों तक इसका विस्तार किया जायेगा।

सीएम शिवराज ने आज विदिशा जिले के ग्राम कागपुर में ग्रामीण परिवहन योजना का विधिवत शुभारंभ किया। उन्होंने वाहन-चालकों को ग्रामीण परिवहन सेवा परिचालन प्रमाण-पत्र भी प्रदान किये। सीएम शिवराज ने करोड़ों के विकास कार्यों का लोकार्पण/भूमि-पूजन किया। उन्होंने प्राथमिक एवं माध्यमिक कक्षा के विद्यार्थियों को मूंग वितरण किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अंतर्राष्ट्रीय स्पर्धा के लिये चयनित मध्यप्रदेश के शूटिंग बॉल खिलाड़ियों को भी सम्मानित किया।

सीएम शिवराज ने कहा कि सरकार ने तय किया है कि संजय सागर बाँध से पाइप-लाइन से पानी लाकर इस क्षेत्र के 165 गाँवों में पहुँचाया जायेगा। इस योजना पर 208 करोड़ 94 लाख व्यय होगा। डाउन स्ट्रीम के गाँवों में भी स्टॉप-डेम आदि के माध्यम से पानी पहुँचाया जायेगा। हर गाँव तक पानी पहुँचाने का प्रयास किया जायेगा। साथ ही नल-जल योजना द्वारा हर घर तक नल से पानी पहुँचाया जायेगा।

Read More : MP College : विभाग की बड़ी तैयारी, NEP के तहत पूरी हो रही योजना, नए सत्र में UG-PG छात्रों को होगा फायदा

सीएम शिवराज ने कहा कि सबको पक्का मकान मिलेगा। विदिशा जिले में 83 हजार 719 व्यक्तियों को आवास प्लस में प्रधानमंत्री आवास स्वीकृत किये जायेंगे। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में सरकार जनता को रोटी, कपड़ा, मकान, पढ़ाई-लिखाई और दवाई सुनिश्चित कर रही है। उन्होंने किसानों की आमदनी दोगुनी करने तथा स्व-सहायता समूहों की महिलाओं की आमदनी बढ़ाने की बात भी कही।

सीएम शिवराज ने कहा कि प्रदेश में शीघ्र ही पंचायत एवं स्थानीय निकाय के निर्वाचन होंगे। जिन स्थानों पर निर्विरोध निर्वाचन सम्पन्न होगा, वहाँ सरकार द्वारा विशेष सहूलियतें दी जायेंगी। ऐसी पंचायत एवं स्थानीय निकाय को सभी योजनाओं का लाभ मिलेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आँगनवाड़ी के संचालन में सभी सहयोग करें। किसान नि:शुल्क अनाज दें। वे स्वयं आँगनवाड़ियों के लिये ठेला लेकर निकले थे और बड़ी मात्रा में सामग्री एकत्रित हुई।

राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने ग्रामीण परिवहन योजना की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि ग्राम कागपुर से यह योजना आज पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू की गई है। छह माह बाद सारे मध्यप्रदेश में यह योजना एक साथ शुरू होगी। एक माह में 3 हजार किलोमीटर संचालन पर परिवहनकर्ता को 5 हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि दी जायेगी। नि:शक्तजन के लिये किराये में 50 प्रतिशत छूट रहेगी।

महिलाओं को वाहन चलाने का प्रशिक्षण दिया जायेगा। कुशल ड्रायवर तैयार करने के लिये ‘ड्रायवर टेस्टिंग ट्रेक’ तैयार किये जायेंगे। इलेक्ट्रिक बसें भी चलाई जायेंगी। मंत्री राजपूत ने बताया कि महिलाओं की सुरक्षा के लिये सभी टैक्सियों, बसों में पैनिक बटन लगाये जायेंगे। आगामी एक जुलाई को इसकी शुरूआत होगी। सड़क दुर्घटनाओं में घायलों को अस्पताल ले जाने वाले व्यक्तियों को 5 हजार रूपये का पुरस्कार दिया जायेगा।