MP Weather: मप्र के 40 से अधिक जिलों में भारी बारिश की चेतावनी, ऑरेंज-येलो अलर्ट

मौसम विभाग (MP Weather) ने आज गुरुवार 16 सितंबर को सभी संभागों में गरज-चमक के साथ बारिश पड़ने की संभावना जताई है।

mp weather

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (MP) में एक बार फिर से मानसूनी गतिविधियां (Monsoon Activities) शुरू हो गई है। भारी बारिश (heavy rainfall) की चेतावनी के बीच आज फिर से जिले में ऑरेंज (orange) और येलो अलर्ट (yellow alert)  जारी किया गया है। साथ ही मौसम विभाग (weather department) ने बताया है कि चार सिस्टम एक्टिव (system active) होने की वजह से प्रदेश में शुक्रवार तक भारी बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। मौसम विभाग ने आज गुरुवार को 40 से अधिक जिलों में भारी बारिश की चेतावनी दी है। मौसम विभाग ने 6 संभागों में भी चेतावनी जारी करते हुए ऑरेंज और येलो अलर्ट जारी किया है।

मौसम विभाग (IMD) ने आज गुरुवार 16 सितंबर को सभी संभागों में गरज-चमक के साथ बारिश पड़ने की संभावना जताई है। मौसम विभाग ने दतिया, भिंड और मुरैना जिले में जहां भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। वहीं रीवा, सतना, सीधी, सिंगरौली, अनूपपुर, शहडोल, डिंडोरी, बालाघाट, विदिशा, रायसेन, सीहोर, राजगढ़, होशंगाबाद, बेतुल, खरगोन, शाजापुर, आगर, मंदसौर, दमोह, टीकमगढ़, निवाड़ी में भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

Read More: Sex Racket : सलून की आड़ में चल रहा था रैकेट, पुलिस की कार्रवाई, आपत्तिजनक सामान के साथ महिला गिरफ्तार

मौसम विभाग की माने तो बंगाल की खाड़ी और अरब सागर में मानसून एक्टिव है। मध्यप्रदेश के आसपास राजस्थान और महाराष्ट्र में कई सिस्टम एक साथ एक्टिव होने के कारण मध्य प्रदेश के अब दबाव क्षेत्र में गहरे कम दबाव का क्षेत्र निर्मित हुआ है। प्रदेश में लगातार नमी देखी जा रही है। वहीं बारिश का सिलसिला जारी है।

बीते 24 घंटे में मध्य प्रदेश के 52 जिले में बारिश देखी गई है। इसी के साथ डिंडोरी, मंडला में मूसलाधार बारिश की वजह से कई घाट और मंदिर डूब गए हैं। साथ ही नर्मदा और शिप्रा नदी उफान पर आ गई है। उज्जैन में रामघाट और छोटे पुल पर पानी का बहाव तेज हो रहा है। इसके साथ ही भोपाल और इंदौर में 2 इंच बारिश रिकॉर्ड की गई है।

इसके अलावा ग्वालियर चंबल और मालवा निमाड़ तक बारिश देखी गई है। वहीं तालाब का वाटर लेवल बढ़ गया है। इसके अलावा 17 सितंबर को एक और सिस्टम एक्टिव होने की वजह से प्रदेश में 1 सप्ताह तक बारिश का सिलसिला इसी तरह जारी रहेगा।

MP Weather: मप्र के 40 से अधिक जिलों में भारी बारिश की चेतावनी, ऑरेंज-येलो अलर्ट