MP Weather : 20 अक्टूबर से बदलेगा मौसम, तापमान में 3 फीसद की गिरावट, गुलाबी ठंड की दस्तक, यहाँ बारिश की संभावना, जानें पूर्वानुमान

पचमढ़ी में न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस तक रिकॉर्ड किया गया है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश का मौसम (MP Weather) तेजी से बदल रहा है। दरअसल प्रदेश में गुलाबी ठंड (pink cold) की दस्तक हो गई है। रायसेन (raisen) में पारा 14 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। मानसून की विदाई के साथ ही ठंड की दस्तक की संभावना जताई गई थी। रात में तापमान (temperature) में गिरावट आई है। भोपाल में न्यूनतम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। उत्तर दिशा की तरफ से चल रही हवा की गति 16 किलोमीटर बताई जा रही है।

मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में 20 अक्टूबर तक मौसम में बदलाव होगा बंगाल की खाड़ी में नया सिस्टम निर्मित हो रहा है। जिसके कारण प्रदेश के कुछ हिस्सों में बौछारें पड़ने का सिलसिला शुरू हो सकता है। बंगाल की तरफ से आ रहे हैं बाजार प्रदेश में बारिश का कारण बनेंगे। इसका तापमान में गहरा असर पड़ेगा। सोमवार को भी अधिकतम तापमान 30 जबकि न्यूनतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस तक रहने की उम्मीद जताई गई है।

प्रदेश के ज्यादातर जिलों में न्यूनतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंच गया है। हवा में ठंडक घुल गई है सुबह और शाम को कोहरे के कारण लोगों को ठंड का अहसास होने लगे हैं। दिवाली तक मौसम ऐसे ही बने रहने की उम्मीद जताई गई है। मध्यप्रदेश में दीपावली के बाद ठंड की दस्तक शुरू हो जाएगी। सबसे गर्मी 33.8 डिग्री सेल्सियस तापमान राजगढ़ में रिकॉर्ड किया गया, वहीं पचमढ़ी में न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस तक रिकॉर्ड किया गया है।

Read MOre : UP Weather : चक्रवाती सिस्टम से फिर बदलेगा मौसम, बढ़ेगा कोहरा, 25 अक्टूबर के बाद ठंड की दस्तक, जानें मौसम विभाग का पूर्वानुमान

मौसम विभाग की मानें तो अगले 10 दिनों में रात के तापमान में 3 डिग्री की और गिरावट देखने को मिल सकती है। 14 अक्टूबर को मानसून की विदाई हो गई है। पोस्ट मानसून का सीजन भी शुरू हो गया। पाकिस्तान की तरफ से आ रही हवा के कारण ही नमी बनी हुई है। वहीं मौसम में नमी खत्म होने के कारण ठंड की दस्तक शुरू होगी। रात को हल्की ठंड में सूरज की गर्मी का एहसास होगा।

इसी बीच मौसम विभाग ने 18 और 19 अक्टूबर को दक्षिण भारत में बारिश की संभावना जताई है। जिसके कारण इसकी नवीन मध्य प्रदेश तक पहुंचेगी जबलपुर के कुछ इलाके में मध्यम बारिश देखने को मिल सकती है। 2013 में अक्टूबर में 4 इंच बारिश रिकॉर्ड की गई थी इसके बाद 10 साल में सबसे अधिक बारिश मध्य प्रदेश में अक्टूबर महीने में रिकॉर्ड की गई है।

वही अलग-अलग सिस्टम तैयार हो रहे हैं। कैस्पियन सागर, ब्लैक शी से इरान अफगानिस्तान पाकिस्तान से होते हुए उत्तरी हिस्से से truf रेखा उत्तरी हवा के चक्रवात के साथ मध्य प्रदेश की तरफ बढ़ रहा है, पश्चिम से पूर्व की ओर बढ़ने के कारण पहाड़ों पर बर्फबारी शुरू हो गई है। वहीं बर्फीली और ठंडी हवा के कारण मौसम के सर्द बने रहने की संभावना जताई गई है।

मौसम विभाग की मानें तो तापमान अभी कम नहीं होगा बादल नहीं होने की वजह से दिन में तापमान में ज्यादा गिरावट देखने को नहीं मिलेगी। रात के तापमान में दो से तीन सीजन की मामूली गिरावट रिकॉर्ड की जा सकती है। सुबह और शाम के समय में हल्की ठंडक बनी रहेगी। हालांकि बादल छाने के बाद रात के तापमान में गिरावट प्रदेश के मौसम में बदलाव होगा।

MP Weather : 20 अक्टूबर से बदलेगा मौसम, तापमान में 3 फीसद की गिरावट, गुलाबी ठंड की दस्तक, यहाँ बारिश की संभावना, जानें पूर्वानुमान