2 अगस्त को पीएम मोदी लॉच करेंगे डिजिटल भुगतान प्लेटफॉर्म e-RUPI, जानें इसकी खासियत

e-RUPI कैश और कॉन्टैक्ट लैस पेमेंट करने का एक जरिया है।

मोदी सरकार आरक्षण
PM MODI

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से डिजिटल भुगतान समाधान ‘ई-रुपी’ की शुरुआत करेंगे। प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने यह जानकार दी। मोदी द्वारा सदैव डिजिटल पहल को बढ़ावा देने को रेखांकित करते हुए पीएमओ ने कहा कि पिछले वर्षों के दौरान इच्छित लाभार्थियों तक लाभ पहुंचाना सुनिश्चित करने के लिए कई कार्यक्रम शुरू किए गए हैं ताकि सरकार और लाभार्थी के बीच सीमित संपर्क बिंदु रहें। इस प्लेटफॉर्म को नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने वित्तीय सेवा विभाग, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के साथ मिलकर तैयार किया है।

ये भी पढ़ें- BJP का दावा, आज एक बड़े चेहरे की होगी पार्टी में एंट्री, सियासी हलचल तेज

e-RUPI कैश और कॉन्टैक्ट लैस पेमेंट करने का एक जरिया है। यह क्यू-आर कोड और SMS स्ट्रिंग बेस्ड ई-वाउचर के रूप में काम करता है। लोग इस सेवा के तहत कार्ड, डिजिटल भुगतान ऐप या इंटरनेट बैंकिंग एक्सेस किए बिना पेमेंट कर सकेंगे। यह डिजिटल प्लेटफॉर्म यह सुनिश्चित करता है कि लेन-देन पूरा होने के बाद ही सेवा प्रदाता को भुगतान किया जाए। प्रीपेड होने के कारण, यह किसी भी मध्यस्थ की भागीदारी के बिना सेवा प्रदाता को समय पर भुगतान का भरोसा देता है।

ये भी देखें- Vidisha Road Accident: अनियंत्रित होकर पलटी बस, 10 से अधिक घायल, 3 की हालत गंभीर

इसका इस्तेमाल आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, विभिन्न वेलफेयर स्कीम के तहत सर्विस देने के लिये भी किया जा सकता है। निदी क्षेत्र भी अपने कर्मचारी कल्याण और सीएसआर कार्यक्रमों में इन डिजिटल वाउचर का लाभ उठा सकते हैं।