PM Modi 10 अगस्त को करेंगे इस बड़ी योजना की शुरुआत, करोड़ों लोगों को लाभ देना लक्ष्य

किसानों

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। पीएम मोदी(PM Modi) द्वारा देश भर में देश की जनता को LPG Connection उपलब्ध कराने के लक्ष्य से शुरू की गई। उज्जवला योजना के पहले चरण के लक्ष्य को पूरा कर लिया गया है। वहीं अब पीएम मोदी उज्जवला योजना के दूसरे चरण की शुरुआत करेंगे। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) 10 अगस्त, 2021 को दोपहर 12:30 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (Video conferencing) के माध्यम से Mahoba UP में LPG Connection सौंपकर Ujjwala 2.0 (PradhanMantri Ujjwala Yojna – PMUY) का शुभारंभ करेंगे। कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री उज्ज्वला के लाभार्थियों से बातचीत करेंगे और राष्ट्र को संबोधित भी करेंगे।

Ujjwala 1.0 से Ujjwala 2.0 तक का सफर

2016 में लॉन्च उज्ज्वला 1.0 के दौरान बीपीएल परिवारों की 5 करोड़ महिला सदस्यों को LPG कनेक्शन उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा गया था। इसके बाद, योजना का विस्तार अप्रैल 2018 में सात और श्रेणियों (SC/ ST, PMAY, AAY, सबसे पिछड़ा वर्ग, चाय बागान, वनवासी, द्वीप समूह) से महिला लाभार्थियों को शामिल करने के लिए किया गया था। साथ ही लक्ष्य को संशोधित कर 8 करोड़ LPG Connection कर दिया गया था। यह लक्ष्य लक्ष्य तिथि से सात महीने पहले अगस्त 2019 में हासिल कर लिया गया था।

Read More: MP News: अधर में लटकी निगम-मंडलों की नियुक्तियां, Scindia समर्थकों को करना होगा इंतजार

वित्त वर्ष 21-22 के केंद्रीय बजट में PMUY योजना के तहत एक करोड़ अतिरिक्त LPG कनेक्शन के प्रावधान की घोषणा की गई थी। इन एक करोड़ अतिरिक्त PMUY Connection (उज्ज्वला 2.0 के तहत) का उद्देश्य उन कम आय वाले परिवारों को जमा-मुक्त एलपीजी कनेक्शन प्रदान करना है, जिन्हें PMUY के पहले चरण के तहत कवर नहीं किया जा सकता था।

जमा मुक्त LPG Connection के साथ, Ujjwala 2.0 लाभार्थियों को पहली रिफिल और हॉटप्लेट मुफ्त प्रदान करेगी। साथ ही नामांकन प्रक्रिया के लिए न्यूनतम कागजी कार्रवाई की आवश्यकता होगी। Ujjwala 2.0 में प्रवासियों को राशन कार्ड या एड्रेस प्रूफ (Address Proof) जमा करने की जरूरत नहीं होगी। ‘पारिवारिक घोषणा’ और ‘पते के प्रमाण’ दोनों के लिए एक स्व-घोषणा पर्याप्त होगी। Ujjwala 2.0 LPG तक सार्वभौमिक पहुंच के प्रधान मंत्री के दृष्टिकोण को प्राप्त करने में मदद करेगी। इस अवसर पर केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री भी मौजूद रहेंगे।