PM Narendra Modi 13 अक्टूबर को देंगे देश को सौगात, इस योजना को करेंगे लॉन्च

प्रधानमंत्री गति शक्ति योजना देश के युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराएगी साथ ही इस योजना के माध्यम से भारत अपने मैन्युफ्रैक्चरर के प्रोडक्ट का प्रमोशन भी करेगा

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देश को बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने के उद्देश्य से बनाई गई योजना को पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) 13 अक्टूबर को लॉन्च करेंगे। प्रधानमंत्री ने 15 अगस्त को लाल किले के अपने सम्बोधन में देश में रोजगार पैदा करने वाली जिस मेगा योजना का जिक्र किया था उसका नाम है “प्रधानमंत्री गति शक्ति योजना।” इस योजना के माध्यम से ना सिर्फ युवाओं को रोजगार के अवसर (employment to youth) उपलब्ध होंगे बल्कि लघु, मध्यम और कुटीर उद्योगों को भी इसका लाभ मिलेगा।

पिछले कुछ वर्षों में देश के लोगों के लिए अलग अलग योजनाएं लाकर प्रधानमंत्री नरेंद मोदी (PM Narendra Modi) की सरकार ने उनके जीवन स्तर को संवारने का प्रयास किया है अब मोदी सरकार बेरोजगार युवाओं के लिए एक मेगा योजना लेकर आ रही है।  100 करोड़ रुपये की इस योजना का नाम है “प्रधानमंत्री गति शक्ति योजना।”

ये भी पढ़ें – International Girl Child Day 2021: बच्चियों के समग्र विकास से संवरेगा भविष्य, जानें इस दिन से जुड़ी विशेष बातें

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने इस योजना का जिक्र लालकिले पर अपने सम्बोधन में करते हुए  कहा था कि सरकार देश में बहुत रोजगार उपलब्ध करने वाली है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक 13 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गति शक्ति योजना (PM Gati Shakti Yojana) को लॉन्च करेंगे।

ये भी पढ़ें – Gold Silver Rate : चांदी लुढ़की, नहीं बदले सोने के भाव, ये हैं ताजा रेट

गौरतलब है कि “प्रधानमंत्री गति शक्ति योजना” बेरोजगार युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध करायेगी साथ ही देश इंफ्रास्ट्रक्चर के सर्वांगीण विकास भी सुनिश्चित किया जायेगा।  इस योजना की एक और विशेषता है जिसके तहत लोकल मेन्यूफेक्चरर विश्व स्तर पर प्रतिस्पर्धा कर सकेंगे।  योजना में देश में नए आर्थिक जोन विकसित किये जाने की भी प्लानिंग है।

ये भी पढ़ें – MP Government Job Alert : 10वीं पास के लिए यहां निकली है भर्ती, जल्द करें एप्लाई

प्रधानमंत्री गति शक्ति योजना देश के युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराएगी साथ ही इस योजना के माध्यम से भारत अपने मैन्युफ्रैक्चरर के प्रोडक्ट का प्रमोशन भी करेगा जिससे लोकल मेन्यूफेक्चरर को विश्व बाजार मिल सके।  योजना के माध्यम से मेक इन इंडिया प्रोडक्ट को विशेष महत्त्व दिया जायेगा।  इसका सीधा फायदा छोटे, लघु , कुटीर उद्योग को मिलेगा।