बिना OPD परमिशन के चल रहा था निजी अस्पताल, SDM ने की कार्रवाई, Hospital सील

राजगढ़, डेस्क रिपोर्ट। जिला मुख्यालय पर SDM पल्लवी वैद्य ने एक निजी अस्पताल सील करने की कार्रवाई की है। दरअसल Corona समीक्षा बैठक के दौरान कलेक्टर को बिना परमिशन अस्पताल चलने की शिकायत मिली थी। इसके बाद उन्होंने SDM को अस्पताल की कार्रवाई के लिए भेजा। SDM सुश्री वैद्य ने मौके पर पहुंचकर तमाम दस्तावेजों की जांच की जिसमे कमी पाए जाने पर अस्पताल को सील कर दिया। जानकारी के अनुसार राजगढ़ में ब्यावरा रोड़ पर स्थित आरोग्य जनरल अस्पताल संचालित किया जा रहा था ।

हालांकि मौजूद चिकित्सक और संचालकों का कहना है अस्पताल अभी शुरू नहीं किया गया। सिर्फ कोई कोई मरीज आता है तो उसे डॉक्टर परामर्श देते हैं। लेकिन तमाम व्यवस्थाओं के बीच शुरू किए गए इस अस्पताल में कुछ कमियां होने के बाद एसडीएम पल्लवी वैद्य ने नायब तहसीलदार सचिन भार्गव और बीएमओ राजीव हरिओध की मौजूदगी में इसे सील कर दिया है।

प्रबंधक के अनुसार जिला चिकित्सालय में अस्पताल को शुरू करने को लेकर आवेदन दिया है। इतना ही नहीं अस्पताल में विभिन्न तरह की व्यवस्थाएं करने का दावा अस्पताल प्रबंधन कर रहा है। लेकिन अभी तक जिला चिकित्सालय से कोई भी टीम अस्पताल का निरीक्षण करने के लिए नहीं पहुंची और न ही वहां OPD को शुरू करने की मंजूरी दी गई है।

Read More: Khandwa By-Election: प्रत्याशी चयन को लेकर VD Sharma का बड़ा बयान

व्यवस्थाओं पर उठ रहे सवाल

स्वास्थ्य सुविधाओं से जुड़ी तमाम व्यवस्थाएं चाहे लैब की बात हो या फिर सोनोग्राफी या फिर किसी क्लीनिक या अस्पताल की शुरुआत की। महीनों तक जिला चिकित्सालय में यह आवेदन पड़े रहते हैं, उस पर किसी तरह का विचार नहीं किया जाता और न ही टीम निरीक्षण के लिए पहुंचती है। ऐसे में जब यह जानकारी जिला प्रशासन या फिर अन्य अधिकारियों के समक्ष पहुंचती है। उस समय ऐसे मामलों की जांच की जाती है।

सवाल यह है कि इस तरह के आवेदनों पर CMHO कार्यालय से जुड़ा प्रबंधन समय पर कार्रवाई क्यों नहीं करता। किसी तरह की परमिशन देने में जिला चिकित्सालय से देरी होती है। उसी तरह अस्पतालों के नवीनीकरण के मामले भी लंबे समय तक लंबित पड़े रहते हैं। कई बार जब झोलाछाप चिकित्सकों पर कार्रवाई होती है, तो यह अस्पताल भी उनकी चपेट में आ जाते हैं।