अपने पार्टनर से खराब न करें अपने रिश्ते, हो सकते हैं इन गंभीर बीमारियों का शिकार

Relationship Tips: आपसी रिश्त खराब होने का सीधा असर आपकी डाइट पर भी पड़ता है। अक्सर लड़ाई झगड़े के बाद लोग खाना नहीं खाते फिर आप सोचेंगे कि इससे वजन कैसे बढ़ेगा।

जीवनशैली, डेस्क रिपोर्ट। आपके पार्टनर (partner) से आपके रिश्ते कैसे हैं? ये सवाल इसलिए क्योंकि आपके पार्टनर (relationship tips) के साथ आपके रिश्ते काफी हद तक आपकी सेहत (health) का हाल भी तय करते हैं। अगर पार्टनर से रिश्ते खराब हैं या तनावपूर्ण हैं तो समझिए कि आप हर दिन सेहतमंद नहीं हो सकते। आपको किसी न किसी तरह की शारीरिक परेशानी का सामना करते रहना पड़ सकता है, क्योंकि पार्टनर के साथ तनावपूर्ण रिश्ते आपके जीवन की खुशी को कम कर देते हैं, जिसकी वजह से आपकी सेहत को कोई न कोई नुकसान झेलना पड़ता है।

चलिए जानते हैं कौन सी हैं वो बीमारियां जो आपको सिर्फ इसलिए घर सकती हैं क्योंकि आपके रिश्ते अपने पार्टनर से बिगड़ते जा रहे हैं।

स्ट्रेस

जो जोड़ी अपने दिन की शुरूआत झगड़े से करती है, या, दिन में एक न एक बार आपस लड़ती झगड़ती है, उसका असर उनके मानसिक स्वास्थ्य पर सबसे पहले पड़ता है। उस कपल के दोनों लोग या कोई एक धीरे धीरे तनाव का शिकार होते जाते हैं, या, फिर उन्हें कमजोरी और थकान महसूस होने लगती है। ऐसा ही तनाव भर माहौल कंटिन्यू रहने पर किसी एक पार्टनर को स्ट्रेस के गंभीर परिणाम भी भुगतने पड़ सकते हैं।

Read More: जाने आपको मिलेगी या नहीं PM Kisan की 10वीं किस्त, खाते में जल्द भेजे जाएंगे 2000 रुपए

वजन बढ़ना

आपसी रिश्त खराब होने का सीधा असर आपकी डाइट पर भी पड़ता है। अक्सर लड़ाई झगड़े के बाद लोग खाना नहीं खाते फिर आप सोचेंगे कि इससे वजन कैसे बढ़ेगा। सुनने में यही लगता है कि शायद वजन न बढ़े पर होता है इससे उलट है। नाराजगी में तो आप कुछ खाते नहीं, पर बाद में डाइट ऊपर नीचे हो जाती है। गुस्से में कभी भूखे रह जाना, कभी बेवक्त ढेर सारा खाना खाना, या फिर खाने का समय बदलते रहना, इन सबका सीधा असर वजन पर पड़ता है।

ब्लड प्रेशर बढ़ना

तनाव और गुस्से का असर ब्लड प्रेशर भी पड़ता है। ज्यादा तनाव होने पर या रोज रोज के लड़ाई झगड़े बीपी को अनस्टेबल कर सकते हैं। रोजमर्रा की आदतों में अगर पार्टनर के साथ तनाव भरा वक्त गुजारना शामिल हो जाता है तो ये रक्तचाप पर भी असर डालने लगता है। नतीजा होता है कि बीपी हाई रहने लगता है, जिसके कई और नुकसान होते हैं।

डिप्रेशन

पार्टनर के साथ खराब संबंध अगर डिप्रेशन की कगार पर ला खड़ा करें तो भी कोई संदेह नहीं। अक्सर इन लड़ाई झगड़ों के कारण या तो आप टूटने लगते हैं, मायूस रहने लगते हैं और फिर रोज रोज की झिक झिक से तंग आकर अकेले और अपने में रहना ही बेहतर समझते हैं। इसका असर मानसिक सेहत पर डिप्रेशन के रूप में नजर आने लगता है। कुछ लोग पार्टनर के साथ लड़ाई करके भी सामान्य रह लेते हैं पर कुछ ऐसे भी होते हैं जिनके मानसिक स्वास्थ्य पर ये बातें असर डालती हैं जिसका खामियाजा इन बीमारियों के साथ भुगतना पड़ता है।