TMC विधायक का इस्तीफा, अब इस सीट से उपचुनाव लड़ेंगी ममता बनर्जी

उधर कयास लगाए जा रहे हैं कि बुजुर्ग नेता शोभनदेव के त्याग का इनाम उन्हें ममता बनर्जी उन्हें खरदह सीट से चुनाव लालदवाकर दे सकती हैं जहाँ की विधायक काजल सिन्हा के निधन के बाद ये सीट खाली हो गई है।       

कोलकाता, डेस्क रिपोर्ट।  पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) अपनी पारम्परिक सीट भवानीपुर से उप चुनाव लड़ेंगी।  उनके लिए भवानीपुर के निर्वाचित विधायक शोभनदेव चटर्जी ने इस्तीफा दे दिया और सीट खाली कर दी। हाल ही मे हुए विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) नंदीग्राम से चुनाव लड़ी थी लेकिन TMC छोड़कर भाजपा (BJP)में गए शुभेंदु अधिकारी (Shubhendu Adhikari) से चुनाव हार गई थी।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) अभी विधायक नहीं है।  मुख्यमंत्री (CM) बने रहने के लिए उन्हें राज्य की किसी विधानसभा सीट से विधायक (MLA) होना जरुरी है। उनकी इस राह को आसान कर दिया है उनकी पारम्परिक सीट भवानीपुर से विधायक बने TMC नेता शोभनदेव ने।  विधायक शोभनदेव चटर्जी ने शुक्रवार को अपना इस्तीफा विधानसभा स्पीकर विमान बनर्जी को दे दिया।  इस्तीफे के बाद स्पीकर विमान बनर्जी ने कहा कि मैंने शोभनदेव चटर्जी से पूछा कि कहीं वे किसी दबाव में तो नहीं है, उनके जवाब से मैं संतुष्ट हूँ, मैं इस्तीफा स्वीकार करता हूँ।

ये भी पढें – कांग्रेस विधायक के इस्तीफे के बाद गर्माई सियासत, सामने आया सचिन पायलट का बड़ा बयान

इस्तीफे से पहले शोभनदेव चटर्जी ने कहा था कि मैं मुख्यमंत्री को नियमानुसार 6 महीने के अंदर विधानसभा सीट जीतना है मैं उनकी सीट पर चुनाव लड़ा और जीत गया।  अब मैं इसलिए अपना पद छोड़ रहा हूँ कि ममता बनर्जी(Mamata Banerjee) निष्पक्ष तरीके से चुनाव जीतें और मुख्यमंत्री बनी रहें। उधर कयास लगाए जा रहे हैं कि बुजुर्ग नेता शोभनदेव के त्याग का इनाम उन्हें ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) उन्हें खरदह सीट से चुनाव लड़वाकर दे सकती हैं जहाँ की विधायक काजल सिन्हा के निधन के बाद ये सीट खाली हो गई है।

ये भी पढें –  कोरोना कर्फ्यू में ग्राहक को दुकान का शटर खोलकर किया अंदर और फिर हुआ ये