SAHARA इंडिया के मैनेजर को जेल से रिहा करने दी गई धमकी, पत्नी और वकील पर केस दर्ज

रीडर पालीवाल ने पुलिस को बताया 29 अक्टूबर को SAHARA India manager के अभिभाषक कमलेश पालीवाल ने कादरी की ओर से जमानत आवेदन पेश किया।

sahara

रतलाम, मनोज श्रीवास्तव। जेल में बंद SAHARA India के प्रबंधक मोहम्मद अजीज कादरी (Mohd Aziz Qadri) के अभिभाषक (advocate) ने जमानत के लिए उपभोक्ता फोरम न्यायालय में जमानत के लिए आवेदन पेश किया। रीडर ने बताया साहब छुट्‌टी पर हैं। अभिभाषक ने धमकाया प्रबंधक कादरी को रिहा नहीं किया तो माहौल खराब हो जाएगा। पत्नी ने धमकी दी कि गाड़ी भरकर लोग बुलाऊंगी और रातभर हंगामा मचाऊंगी। दोनों के खिलाफ स्टेशन रोड थाने पर शासकीय कार्य में बाधा और आपराधिक धमकी देने की धाराओं में केस दर्ज किया है।

उपभोक्ता फोरम के रीडर दीवानसिंह पिता सावनसिंह गणावा ने पुलिस को बताया उपभोक्ता फोरम द्वारा 26 नवंबर 2019 को पारित आदेश का पालन नहीं करने पर सहारा इंडिया परिवार के स्थानीय कार्यालय के प्राधिकारी मोहम्मद अजीज कादरी को दोषी ठहराते हुए सादा कारावास की सजा दी थी। सजा भुगतने के लिए 26 अक्टूबर को उन्हें जेल भेज दिया। रीडर पालीवाल ने पुलिस को बताया 29 अक्टूबर को अभिभाषक कमलेश पालीवाल ने कादरी की ओर से जमानत आवेदन पेश किया।

Read More: कर्मचारियों को मिल सकता है बड़ा तोहफा, 18 महीने के एरियर्स पर आई बड़ी अपडेट

उपभोक्ता फोरम अध्यक्ष छुट्‌टी पर थे। प्रकरण में आगामी आदेश देना संभव नहीं था इसलिए आवेदन पत्र लेकर अग्रिम सुनवाई के लिए तारीख दे दी। अभिभाषक पालीवाल ने धमकाया कि आवेदन पर तत्काल कार्यवाही कर उनके पक्षकार कादरी को रिहा नहीं किया तो माहौल खराब हो जाएगा। साहब को अभी बुलवाओ और सूचना के अधिकार के तहत मुझे जानकारी दो कि साहब छुट्‌टी पर हैं या नहीं।

जानकारी नहीं दी तो कार्यालय में विवाद करूंगा। अधिवक्ता पालीवाल के साथ आई महिला सादिमाबी पति मोहम्मद अजीज कादरी निवासी सुभाष नगर ने भी न्यायालय परिसर में धमकी दी कि ‘खुदा कसम अपनी वाली पर आ गई तो गाड़ी भरकर लोगों को बुलवाऊंगी और रात भर कार्यालय पर हंगामा करूंगी। रात 12 बजे तक किसी को घर नहीं जाने दूंगी।’