Shehdol Lokayukt Action : लोकायुक्त का बड़ा एक्शन, अकाउंटेंट को 5000 रूपए की रिश्वत के साथ रंगे हाथों दबोचा, कार्रवाई जारी

जिसकी शिकायत रोजगार सहायक द्वारा रीवा लोकायुक्त पुलिस से की गई।

राजस्व निरीक्षक रिश्वत

शहडोल, डेस्क रिपोर्ट। शहडोल में रीवा लोकायुक्त (Shehdol Lokayukt Bribe) ने बड़ी कार्रवाई की है। दरअसल जिले की जनपद पंचायत गोहपारू में पदस्थ एक बाबू (accountant) को लोकायुक्त की टीम ने 5000 रुपए की रिश्वत (Bribe) लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। जानकारी के मुताबिक पंचायत संबंधी कार्यों की बिल पास करने के बदले में 5000 रूपए रिश्वत की मांग की गई थी।

मामले की जानकारी देते हुए लोकायुक्त डीएसपी ने कहा कि अकाउंट का काम देखने वाले क्लर्क शुभम श्रीवास्तव को रिश्वत की रकम के साथ रीवा की लोकायुक्त पुलिस ने रंगे हाथों दबोचा है। क्लर्क बाबू शुभम श्रीवास्तव द्वारा जनपद पंचायत गोहपारू की ग्राम पंचायत सन्ना में पदस्थ रोजगार सहायक सुरेंद्र यादव से पंचायत कार्यों के बिल पास कराने के एवज में 5000 रिश्वत मांगी गई थी।

Read More : कर्मचारियों के लिए राहत भरी खबर, सितंबर में मिलेगा लाभ, ग्रेड-पे रिवीजन से वेतन में होगी वृद्धि, खाते में बढ़ेगी राशि, ड्राफ्ट तैयार

जिसकी शिकायत रोजगार सहायक द्वारा रीवा लोकायुक्त पुलिस से की गई। मामले में लोकायुक्त ने सत्यता की जांच की। जांच के बाद योजना के अनुसार शुक्रवार की सुबह लोकायुक्त ने रोजगार सहायक सुरेंद्र यादव को रिश्वत की राशि के साथ अकाउंट क्लर्क शुभम श्रीवास्तव के पास भेजा। वहीं जैसे ही अकाउंटेंट द्वारा रोजगार सहायक से रिश्वत की राशि ली जा रही थी। लोकायुक्त ने उसे रंगे हाथों दबोच लिया। फिलहाल कार्रवाई जारी है।