मलाइका अरोड़ा के योगा ट्रेनर से जानिए, कौन सा योग दिलाएगा एसिडिटी से छुटकारा

पवनमुक्तासन दिखने में बहुत आसान है। हालांकि आसन करते समय बैलेंसिंग में थोड़ी समस्या हो सकती है।

एसिडिटी (Acidity) एक ऐसी समस्या है जो कब शुरू हो जाए, क्या खाने से हो जाए ये अंदाजा लगा पाना आसान नहीं होता। एसिडिटी में हर बार दवा खाने का मन भी नहीं होता। कोशिश ये होती है कि घरेलू नुस्खों (home remedies)  से या फिर थोड़ा चल फिर कर एसिडिटी से निजात पा ली जाए लेकिन ये तरीके कारगर नहीं होते। इसका ये मतलब नहीं कि बिना दवा कि एसिडिटी पर काबू पाया ही नहीं जा सकता।

आप अगर कुछ योगासन (yoga benefit) नियमित रूप से करें या एसिडिटी होने पर ही ठीक तरह से कर लें तो इस मुश्किल से राहत पा सकते हैं। फिटनेस के लिए मशहूर एक्ट्रेस मलाइका अरोड़ा के फिटनेस और योगा ट्रेनर सर्वेश शाही ने कुछ ऐसे आसन बताए हैं जिन्हें करने से एसिडिटी से राहत मिल सकती है।

मलाइका अरोड़ा के योगा ट्रेनर से जानिए, कौन सा योग दिलाएगा एसिडिटी से छुटकारा

वज्रासन

इस योगासन में आपको दोनों पैर पीछे मोडकर उस पर बैठना है। इस आसन से डाइजेस्टिव सिस्टम बेहतर होता है और एसिडिटी से राहत मिलती है।

हलासन

इस आसन के लिए पीठ के बल जमीन पर लेटिए और पैरों को ऊपर लाते हुए सिर के पीछे ले जाने की कोशिश कीजिए।कुछ देर ऐसे ही रहिए। इस आसन से पेट की वर्किंग ठीक होती है और एसिडिटी ठीक रहती है।

मलाइका अरोड़ा के योगा ट्रेनर से जानिए, कौन सा योग दिलाएगा एसिडिटी से छुटकारा

पश्चिमोत्तासन

इस आसन को करने के लिए पैर सामने फैलाकर बैठ जाएं। अब पैरों को सीधा रखते हुए जितना झुक सकते हैं, झुकिए और पंजे पकड़िए। इस आसन से लिवर और किडनी की वर्किंग सुचारू रहती है। जो डाइजेशन को भी दुरूस्त रखती है.

पवनमुक्तासन

ये आसन दिखने में बहुत आसान है। हालांकि आसन करते समय बैलेंसिंग में थोड़ी समस्या हो सकती है। इस आसन के लिए पीठ के बल लेट जाएं। दोनों पैरों को घुटने मोड़ कर ऊपर की तरफ लाएं। हाथ से पैरों को पेट पर दबाएं और सिर उठाने की कोशिश करें।

उष्ट्रासन

ये आसन को धीरे धीरे कोशिश कर पूरी तरह से करने की कोशिश करें। इस आसन से पेट और दूसरे अंदरूनी अंगों का स्ट्रेस पूरी तरह निकल जाता है। टोक्सिक तत्व शरीर से बाहर हो जाते हैं और पाचन बेहतर होता है।