भिंड: संध्या राय की 2 लाख वोटों से रिकार्ड जीत, सिर चढ़कर बोला मोदी मैजिक

2270

भिंड| गणेश भारद्वाज| 

भिंड दतिया संसदीय क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी की प्रत्यासी  संध्या राय ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी देवाशीष जरारिया को एक लाख 99 हजार 885 मतों के बड़े अंतर से पराजित किया है । संध्या राय को बीती रात करीब  2:30 बजे कलेक्टर जे विजय कुमार ने विजय विजय प्रमाण पत्र सौंपा और जीत की उद्घोषणा की| इस अवसर पर संसदीय सीट के ऑब्जर्वर जगदीश प्रसाद और पुलिस अधीक्षक रुडोल्फ अल्वारेस भी मौजूद रहे। 

भिंड दतिया संसदीय क्षेत्र 1989 से भाजपा का अजय गढ़ बना हुआ है श्रीमती संध्या राय भा जा पा की लगातार 9वी ऐसी प्रत्याशी हैं जिन्होंने यहां से जीत दर्ज की है लेकिन इन सब में संध्या राय की जीत अब तक की सबसे बड़ी जीत है| विजय के बाद संध्या राय ने मीडिया से बात करते हुए अपनी जीत को कार्यकर्ताओं की जीत और मोदी की लहर की जीत बताया। इस अवसर पर संध्या राय के साथ भाजपा नेता वीरेंद्र सिंह राणा व भाजपा नेत्री पिंकी शर्मा सहित कई नेता मौजूद रहे।


अरविंद भदौरिया बनाम गोविंद सिंह में अरविंद ने बाजी मारी

अपने लोकसभा प्रत्याशी को जिताने के लिए भारतीय जनता पार्टी के नेता पूरी ताकत के साथ लगे रहे वही लहार से विधायक और प्रदेश सरकार में मंत्री डॉक्टर गोविंद सिंह ने भी कांग्रेस प्रत्याशी देवाशीष जरारिया को जिताने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी थी लेकिन इस बार देवाशीष का जातीय कार्ड के लिए इतना अधिक घातक हो गया देवाशीष स्वयं मंत्री जी के विधानसभा में भी जीत नहीं सके। ज्ञात हो कि इस विधानसभा में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को सभा स्थल पर भीड़ न होने के कारण अपनी सभा स्थगित करनी पड़ी थी। यहां भाजपा से प्रत्याशी रह रसाल सिंह की मेहनत और भी चुनाव में भाजपा के लिए अमरीश शर्मा गुड्डू का काम करना भी पार्टी के बेहद काम आया।

मेहगांव से हुई सबसे बड़ी जीत

वैसे तो सभी 8 विधानसभाओं में संध्या राय को जीत मिली है लेकिन सबसे बड़ी जीत करीब 43000 मतों से मेहगांव विधानसभा में मिली है ज्ञात हो कि मेहगांव में विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के ऑफिस भदोरिया 25 हजार से अधिक मतों से जीते थे लेकिन 4 महीने बाद ही मोदी का मैजिक ऐसा चला 25000 से जीतने वाली कांग्रेस लोकसभा चुनाव में 43000 से पराजित हो गई। इसका सबसे बड़ा कारण यह रहा इज्जत ने भी भाजपा नेता में गांव में काम करते हैं उन सब ने एकजुटता के साथ भाजपा के लिए काम किया इनमें पूर्व विधायक मुकेश सिंह चतुर्वेदी, राकेश शुक्ला, केपी सिंह भदौरिया, मंडी अध्यक्ष देवेंद्र नरवरिया, नगर पंचायत अध्यक्ष ममता भदौरिया, एडवोकेट मायाराम शर्मा सहित कई बड़े नेता भाजपा की जीत का मार्ग प्रशस्त करते देखे गए वोटों की गिनती में भी डीसीसीबी के चेयरमैन केपी सिंह भदौरिया दल बल के साथ रात 12 बजे तक मतगणना केंद्र पर देखे गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here