गर्मी का कहर: केरला एक्सप्रेस में सवार 3 यात्रियों की मौत, एक को अस्पताल में भर्ती कराया

1234
Heat-wave--3-passengers-killed-in-Kerala-Express-in-gwalior

 ग्वालियर। नई दिल्ली से त्रिवेंद्रम जाने वाली केरला एक्सप्रेस में सवार पांच यात्रियों की भीषण गर्मी में तबियत ख़राब हो गई। कोच में रेलवे के डॉक्टर जब तक पहुंचे तब तक तीन बुजुर्ग यात्रियों ने दम तोड़ दिया जबकि एक यात्री को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया और एक अन्य को दवा देकर वहीं उसका इलाज किया गया। 

जानकारी के अनुसार तमिलनाडु से निकला 68 तीर्थयात्रियों का एक दल काशी विश्वनाथ और अन्य तीर्थ स्थानों के दर्शनों के लिए निकला था। सोमवार को ये यात्री आगरा से त्रिवेंद्रम जाने के लिए केरला एक्सप्रेस के S-8 और S-9 में सवार हुए। ट्रेन जैसे ही शाम को ग्वालियर पहुंची कुछ यात्रियों को गर्मी के कारण घबराहट और बेचैनी होने लगी। जब तक उनके साथी कुछ समझ पाते ट्रेन ने प्लेटफार्म छोड़ दिया । ट्रेन जब डबरा और झाँसी के बीच थी तब पांच यात्रियों की हालत बहुत बिगड़ गई। इनमें ज्यादातर यात्री बुजुर्ग थे। यात्रियों ने TTE को इसकी सूचना दी फिर TTE ने झाँसी में रेलवे के अधिकारियों को हालात की जानकारी दी। सूचना मिलते ही झाँसी पर रेलवे के डॉक्टर भारत कुशवाह पहुँच गए उन्होंने ट्रेन को अटेंड किया और बीमार यात्रियों का चेक अप किया । लेकिन जब तक उनको इलाज मिल पाता तब तक तीन यात्रियों की मौत हो चुकी थी | 

डॉक्टर कुशवाह ने चेक अप के बाद 80 वर्षीय पचियाप्पा के बुंदरपालानी सामी,69 वर्षीय बालकृष्णन रामास्वामी और 71 वर्षीय धीवा बाई को मृत घोषित कर दिया। जबकि 87 वर्षीय सुबरैया की हालत गंभीर होने पर उन्हें झाँसी जिला चिकित्सालय में भर्ती करा दिया वहीं एक अन्य मरीज का वहीँ उपचार कर दिया गया। शवों को पोस्ट मार्टम के लिए अस्पताल पहुंचा दिया गया। अपने साथियों की मौत के कारण सभी यात्री झाँसी ही उतर  गए। आज शवों के पोस्ट मार्टम के बाद रेलवे  मृतकों और बाकी सभी यात्रियों के लिए नईदिल्ली से आने वाली केरला एक्सप्रेस में  स्पेशल कोच लगाकर त्रिवेंद्रम भेजने की व्यवस्था करेगा ।

मृतकों के नाम

1-पाची अप्पा पलानी स्वामी 80 वर्ष, निवासी नीलगिरी, तमिलनाडु
2- बालाकृष्णन रामास्वामी 69 वर्ष, निवासी निवासी नीलगिरी, तमिलनाडु
3- चिन्नारे 71वर्ष, निवासी कोयंबटूर, तमिलनाडु

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here