आसमान में उड़े रॉफेल, मिक्की माउस, मेला पतंग उत्सव में प्रतिभागियों ने दिखाया दम

111

ग्वालियर । मंद-मंद बयार, गुनगुनी धूप और कोहरे की छाया के बीच व्यापार मेला में आयोजित ग्वालियर काइट फेस्टिवल में मंगलवार को प्रतिभागियों ने जबरदस्त उत्साह दिखाया। उन्होंने हल्की हवा के साथ पूरी ताकत से पतंगें उड़ाईं। सबके आकर्षक का केंद्र चुन्नीलाल कुशवाह हवा का साथ नहीं मिलने के कारण एक डोर से 500 पतंगें नहीं उड़ा सके, लेकिन उन्होंने करीब 200 पतंगें उड़ाकर अपना जज्बा दिखाया। 

मकर संक्रांति के मौके पर बंधु हम संस्था एवं  ग्वालियर व्यापार मेला प्राधिकरण के तत्वावधान में मंगलवार को कुसमाकर रंगमंच परिसर में आयोजित ग्वालियर पतंग उत्सव में 150 से अधिक प्रतिभागी शामिल हुए। इनमें फैंसी प्रतियोगिता में 25 तथा महिला एकल में 10 व पुरुष एकल में 120 प्रतिभागी थे।

आसमान में उड़ा राफेल, बाज मिक्की माउस

पतंग उत्सव की एकल प्रतियोगिता में विभिन्न रंगों की पतंगें उड़ाई गईं, वहीं फैंसी प्रतियोगिता में बटरफ्लाई, ऑक्टोपस, रॉफेल, मिक्की माउस, मछली, मेंढक, बाज, शार्क सहित मनोहारी डिजायनों की रंगबिरंगी पतंगें आसमान छूने को बेताव रहीं। सिंधिया के फोटो वाली पतंग भी आई, जिसे मेला संचालक नवीन परांडे ने उड़ाया। उपाध्यक्ष डॉ. प्रवीण अग्रवाल ने भी पतंगबाजी में हाथ दिखाए।

चुन्नीलाल हुए निराश, नहीं उड़ा पाए एक डोर से 500 पतंगें

फैंसी प्रतियोगिता में 7 बार के विजेता चुन्नीलाल कुशवाह इस पतंग उत्सव में एक डोर से 500 पतंग उड़ाना चाह रहे थे, लेकिन हवा की रफ्तार बेहद कम होने के कारण उन्हें निराश होना पड़ा। हालांकि उन्होंने  एक डोर से 200 पतंगें उड़ाकर अपना जज्बा जरूर दिखाया। प्रतियोगिता के समापन पर विधायक मुन्नालाल गोयल, मेला सचिव मजहर हाशमी, मेला संचालकगण नवीन परांडे, मेहबूब भाई चेनवाले व सुधीर मंडेलिया के साथ महिला कांग्रेस की प्रदेश सचिव किरण खेनवार आदि ने विजेताओं को पुरस्कार बांटे।

इन्हें प्रतिभागियों को मिले पुरस्कार

पतंग उत्सव की फैंसी वर्ग प्रतियोगिता में नारायण सिंह कुशवाह को प्रथम, रामदास को द्वितीय, राजेंद्र कुशवाह को तृतीय और देवेंद्र कुशवाह को  सांत्वना पुरस्कार दिया गया। पुरूष एकल प्रतियोगिता मेंहरिकृष्ण कुशवाह प्रथम,लोकेंद्र कुशवाह द्वितीय,संदीप कुशवाह तृतीय और अभिषेक कुशवाह  को सांत्वना पुरस्कार दिया गया। महिला एकल वर्ग में आरती कोस्टा प्रथम, नीलम बंसल द्वितीय, वर्षा कुशवाह तृतीय और कोमल कुशवाह सांत्वना पुरस्कार की विजेता रहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here