कबाड़ से जुगाड़: फटी पुरानी जीन्स बन गई छतों का गुलदस्ता

458

ग्वालियर ।  स्वच्छ भारत अभियान के तहत नगर निगम ग्वालियर द्वारा उपयोग में नहीं आने वाली सामग्री का उपयोग कर सजावटी सामान और  उपयोग की अन्य सामग्री बनाने के साथ ही कबाड़ से भी सजावटी सामान बनाने के लिए शहर के नागरिकों को प्रेरित किया जा रहा है। इन दिनों आकर्षण का केन्द्र बनी फटी पुरानी जीन्स से बने गुलदस्ते जो कि वार्ड क्रमांक 53, 48 सहित क्षेत्रीय कार्यालय 20 के तहत विभिन्न सार्वजनिक शौचालयों की छतों की शोभा बन रहे हैं।

इसी के तहत वार्ड 53 के वार्ड स्वास्थ्य अधिकारी रामचन्द्र धोलपुरिया द्वारा अपने घर पर पडे फटे पुराने जीन्स  का अदभुत उपयोग किया है, जिसको देखकर आम नागरिकों के मन में भी यह ख्याल आ गया कि जीन्स का यह भी उपयोग हो सकता है। श्री धौलपुरिया ने जीन्स  के दोनों पैरों में मिट्टी भरकर उनमें फूल आदि के पौधे लगाकर उन्हें शौचालय की छत पर टांग दिया है कि जो  शौचालयों की शोभा बढ़ा रहे हैं, इसके साथ ही अन्य लोगों को भी पुरानी एवं अनुपयोगी वस्तुओं से कुछ नया बनाने की प्रेरणा मिल रही है। इससे पूर्व भी श्री धौलपुरिया द्वारा आसपास पड़े पुराने टायरों का बहुत ही सुंदर उपयोग किया गया है। उनके द्वारा पुराने टायरों को आकर्षक बनाने के लिए उन्हें विभिन्न रंगों से रंगा गया है तथा कई टायरों को मिलाकर बैठने के लिए सोफा बनाये गए हैें तथा टायरों में गमले बना कर पौधे लगाए गए है तथा सजावट के लिए शुलभ शौचालयों को उन टायरों से सजाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here